home / xSEO
ओट्स और दलिया में क्या फर्क है – Difference Between Oats and Daliya in Hindi

ओट्स और दलिया में क्या फर्क है – Difference Between Oats and Daliya in Hindi

ओट्स और दलिया दोनों ही स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं और यदि आप वजन घटाना चाहते हैं तो दोनों ही चीजें इसमें आपकी मदद भी करती हैं। ओट्स और दलिया दोनों में ही स्वास्थ्यवर्धक गुण होते हैं और ये दोनों चीजों में फाइबर भी होता है। यही कारण है कि ओट्स या फिर दलिया दोनों चीजों का सेवन करने से आपको वजन घटाने में मदद मिलती है और साथ ही आपका डाइजेस्टिव सिस्टम भी सही रहता है। आज हम अपने इस लेख में आपको ओट्स खाने के फायदे और दलिया खाने के फायदों के बारे में बताएंगे। इसके साथ ही हम आपको ओट्स और दलिया के बीच क्या अंतर होता है, इसके बारे में भी बताएंगे। 

ओट्स खाने के फायदे – Oats Khane ke Fayde

ये तो हम जानते हैं कि ओट्स सुबह के नाश्ते के लिए बहुत ही अच्छा और फायदेमंद ऑप्शन है लेकिन इसके साथ ही हमें ओट्स के फायदों (ओट्स के फायदे) के बारे में भी पता होना चाहिए। तो आपको बता दें कि ओ्स प्रेगनेंसी से लेकर वजन घटाने तक के लिए बहुत ही अच्छा होता है। साथ ही ये कई बीमारियों को दूर करने में भी मदद करता है और साथ ही ये आपकी खूबसूरती को बढ़ाने में भी मदद करता है। तो चलिए बिना कोई देरी किए आपको ओट्स खाने के फायदों के बारे में बताते हैं। 

– प्रेगनेंसी के दौरान डॉक्टर महिलाओं को फोलिक एसिड खाने की सलाह देते हैं और ओट्स में काफी अधिक मात्रा में फोलिक एसिड होता है। इसके अलावा भी ओट्स में कई सारे न्यूट्रिएंट्स होते हैं, जो प्रेगनेंट महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए जरूरी होते हैं। 

– यदि आप वजन घटाने की कोशिश कर रहे हैं तो आपको अपनी डाइट में  ओट्स को जरूर एड कर लेना चाहिए। ओट्स में काफी अधिक मात्रा में फाइबर होता है और इस वजह से आपका पेट अधिक देर तक भरा रहता है और साथ ही इसमें लो कोलेस्ट्रॉल और कैलोरी होती हैं। इस वजह से ये आपका वजन घटाने में मदद करते हैं।

– यदि आप अपनी त्वचा को खूबसूरत बनाना चाहते हैं तो भी आप ओट्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह मुहांसों को कम करने में मदद करता है और साथ ही आपकी त्वचा को मॉइश्चराइज रखने में भी मदद करता है। इसके लिए 2 चम्मच ओट्स को अच्छे से पीस लें और उसमें 1 चम्मच बेकिंग सोडा और जरूरत के मुताबिक पानी को मिलाकर पेस्ट बना लें और अब इसे चेहरे पर लगा कर 10 से 15 मिनट के लिए छोड़ दें। इसके बाद ठंडे पानी से चेहरे को साफ कर लें। 

– डायबिटीज के मरीजों के लिए भी ओट्स बहुत ही सेहतमंद होता है। अगर आप ब्लड शुगर के स्तर को कम करना चाहते हैं तो आपको नाश्ते में ओट्स खाने चाहिए। इसमें काफी मात्रा में फाइबर होतता है और ये डाइबिटीज को कंट्रोल करने में मदद करता है। ऐसे में अगर आपको डायबिटीज है तो आपको अपनी डाइट में इसे जरूर एड करना चाहिए। 

दलिया खाने के फायदे – Daliya Khane ke Fayde

फिटनेस फ्रीक लोग सुबह के नाश्ते में दलिया खाना पसंद करते हैं और इसका कारण ये है कि दलिया बहुत ही फायदेमंद होता है। बता दें कि दलिया को मुख्य रूप से फटे गेहूं से बनाया जाता है और इसमें बहुत अधिक मात्रा में फाइबर, प्रोटीन और आयरन मौजूद होता है। इस वजह से फिटनेस प्रेमी लोग नियमित रूप से अपनी डाइट में दलिये का सेवन करते हैं लेकिन क्या आप दलिया खाने के फायदों के बारे में जानते हैं? अगर नहीं तो हम यहां आपको दलिया खाने के कुछ फायदों (दलिया खाने के फायदे) के बारे में बताने वाले हैं। 

– यदि आप रोजाना एक कटोरी दलिया खाते हैं तो इससे आपको वजन कम करने में मदद होगी। दलिये में फाइबर अधिक मात्रा में होता है और इस वजह से दलिया खाने के बाद आपका पेट अधिक समय तक भरा रहता है। साथ ही दलिये में कैलरी भी कम होती है। 

– अगर आपको कब्ज की शिकायत रहती है तो भी आपको दलिया खाना चाहिए। इसमें मौजूद हाई फाइबर आपके पाचन तंत्र को स्वस्थ करने में मदद करेगा और कब्ज को भी रोकेगा। यदि आप बेहतर परिणाम चाहते हैं तो आपको रोजाना दूध या फिर सब्जी के साथ दलिया खाना चाहिए। 

– दलिया में विटामिन बी, खनिज, फाइबर और प्रोटीन आदि होता है और इस वजह से ये बच्चों के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत ही लाभकारी होता है। शिशु के 6 महीने के हो जाने के बाद आपको उनके भोजन में दलिया भी शामिल करना चाहिए। 

– मीठा या फिर दूध वाला दलिया खाना भी स्वास्थ्य के लिए बहुत ही अच्छा होता है। मीठा होने की वजह से ये आपको अच्छा भी लगता है और आपके शरीर में फैट जमा नहीं होने देता है। मीठा दलिया बनाने के लिए आपको दूध, मेवे और चीनी का इस्तेमाल करना चाहिए। 

ओट्स और दलिये के पोषक तत्व – Oats vs Dalia in Hindi

कंपोनेंट्सओट्सदलिया
कुल वसा10.8g3.9g
प्रोटीन26.4g8.7g
फाइबर16.5g5.5g
कार्ब्स103g50g
कैल्शियम8%3%
संतृप्त वसा1.9g0.9g
कैलोरी260607

ओट्स और दलिये के बीच अंतर – Difference Between Oats and Daliya in Hindi

वैसे तो ओट्स और दलिया (difference between oats and daliya in hindi) दोनों ही स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं और दोनों वजन घटाने से लेकर प्रेगनेंसी जैसी चीजों के लिए लाभकारी होते हैं। इसके अलावा दोनों में ही अधिक मात्रा में प्रोटीन और फाइबर भी होता है जो स्वास्थ्य के लिए बहुत ही अच्छा होता है लेकिन दोनों में एक मुख्य अंतर (ओट्स और दलिया में क्या फर्क है) है। दरअसल, ओट्स अनाज से बनता है। वहीं दूसरी ओर दलिया टूटे हुए गेहूं से बनाया जाता है। हालांकि, इसके बाद भी दोनों को पकाने का तरीका काफी हद तक एक जैसा ही होता है। यदि आप इन्हें दूध में बनाते हैं तो आपको दोनों को तब तक पकने देना चाहिए जब तक ये गाढ़ा नहीं हो जाता है। 

ओट्स और दलिया से जुड़ें कुछ सवाल – FAQ’s

ओट्स क्या चीज से बनता है?

ओट्स अनाज से बनता है।

ओट्स कब खाना चाहिए?

ओट्स का सेवन आप सुबह के नाश्ते में कर सकते हैं क्योंकि सुबह के समय इसे खाने से आपका पेट अधिक समय तक भरा रहता है। 

क्या दलिया से फैट बढ़ता है?

वैसे तो दलिया खाने से किसी का पेट नहीं बढ़ता है लेकिन यदि आप इसे घी में फ्राई करके बनाते हैं तो आपका वजन बढ़ सकता है। इसका कारण घी में मौजूद सैचुरेटिड फैट और कैलोरी हैं लेकिन केवल दलिया का सेवन करने से आपका फैट नहीं बढ़ता है। 

ओट्स और दलिया घर पर बनाना आसान है क्या?

ओट्स और दलिया दोनों को ही आप बहुत ही आसानी और फटाफट से घर पर बना सकते हैं। एक ओर जहां आप चाहें तो ओट्स को ओवरनाइट दूध में भिगो कर बना सकते हैं तो वहीं दूसरी ओर आप चाहें तो दलिये को दूध में तब तक पका कर बना सकते हैं, जब तो वो गाढ़ा नहीं हो जाता है। 

वेट लॉस करने के लिए ओट्स या दलिया क्या बेहतर होगा?

वजन घटाने के लिए ओट्स और दलिया दोनों ही अच्छे विकल्प हैं। आप चाहें तो दोनों को अपनी डाइट का हिस्सा भी बना सकते हैं और अलग-अलग दिनों पर इनका सेवन कर सकते हैं। 

हम उम्मीद करते हैं कि आपको ओट्स खाने के फायदे, difference between oats and daliya in hindi, oats khane ke fayde, daliya khane ke fayde और oats vs dalia in hindi पर हमारा ये लेख पसंद आया होगा। 

ओट्स खाने का तरीका

15 Mar 2022

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text