home / पैरेंटिंग
न्यू मॉम का स्किन केयर पिरामिड

न्यू मॉम का स्किन केयर पिरामिड कैसा होना होना चाहिए, जानें यहां

डिलीवरी के बाद माँ दिन रात बच्चे की देखभाल में व्यस्त हो जाती हैं। बच्चे को हर आधे घंटे में दूध पिलाने से लेकर नहलाना, कपड़े बदलना, सुलाना आदि में उलझी रहती हैं। नतीजा यह होता है कि वह खुद पर ध्यान ही नहीं दे पाती हैं। आज इस लेख में हम न्यू मॉम का स्किन केयर पिरामिड पर चर्चा करेंगे।

दरअसल, प्रेग्नेंसी के दौरान और बच्चे को जन्म के बाद महिला को त्वचा संबंधित कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इसके लिए उन्हें त्वचा का अच्छी तरह ख्याल रखना चाहिए। न्यू मॉम के लिए जरूरी है कि वे बच्चे के तमाम कामों के बीच में भी अपनी त्वचा की केयर करने के लिए समय निकालें।

न्यू मॉम का स्किन केयर रुटीन नॉर्मल स्किन केयर से अलग होता है। बहुत सारी महिलाएं डिलीवरी के बाद स्किन केयर रुटीन के स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस से अंजान होती हैं। यही वजह है नीचे विस्तार से न्यू मॉम का स्किन केयर पिरामिड के बारे में जानकारी दे रहे हैं।

न्यू मॉम का स्किन केयर पिरामिड कैसा होना चाहिए?

न्यू मॉम के स्किन केयर पिरामिड को हम तीन भागों में विभाजित करेंगे। डेली, वीकली और मंथली। नीचे इसके बारे में विस्तार से समझाते हैं।

1. डेली स्किन केयर (Daily Skincare Routine in Hindi)

इसमें हम उन स्किन केयर प्रोडक्ट्स की बात करेंगे, जिसका इस्तेमाल न्यू मॉम को रोजाना करना चाहिए। इसमें क्लींजर, टोनर और मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल तो सभी करते हैं। लेकिन त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए इनके साथ आपको आई क्रीम, सीरम और सनस्क्रीन को भी शामिल करने की जरूरत है।

न्यू मॉम का स्किन केयर पिरामिड
आई क्रीम लगाते हुए महिला
  • क्लींजर- रोजाना सबसे पहले चेहरे को साफ करें। न्यू मॉम इसके लिए हमेशा माइल्ड फेसवॉश का इस्तेमाल करें।
  • टोनर- टोनर त्वचा के खुले पोर्स में कसाव लाने के साथ पीएच लेवन को संतुलित रखता है। हमेशा एल्कोहॉल फ्री टोनर का चुनाव करें।
  • सीरम- टोनर लगाने के 15 मिनट बाद सीरम लगाएं। न्यू मॉम के लिए विटामिन-सी युक्त सीरम सेफ माना जाता है। ध्यान रहे कई सीरम में ऐसे केमिकल मौजूद होते हैं, जो प्रेग्नेंट और ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित नहीं होते हैं।
  • आई क्रीम- आंखों के आस-पास की त्वचा के लिए भी एक्स्ट्रा केयर करने की जरूरत होती है। इसके लिए नियमित रूप से आई क्रीम का इस्तेमाल करें। अपनी स्किन टाइप के अनुसार आई क्रीम का चुनाव करें।
  • मॉइश्चराइजर- अब बारी आती है मॉइश्चाराइजर की। त्चचा को हाइड्रेट व स्वस्थ रखने के लिए त्वचा के अनुसार बेहतर मॉइश्चराइजर का चयन करें। जैसे ऑयली स्किन वाली महिलाओं के लिए वॉटर बेस्ड मॉइश्चराइजर उपयुक्त माना जाता है।
  • सनस्क्रीन- घर से बाहर जाएं या नहीं न्यू मॉम रोजाना एसपीएफ 30 युक्त सनस्क्रीन लगाएं।

2. वीकली स्किन केयर (Weekly Skincare Routine in Hindi)

न्यू मॉम को रोजाना किन स्किन केयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करना है, यह तो आप जान ही चुके हैं। अपनी त्वचा को पैंपर करने के लिए आपको कुछ स्किन केयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल हफ्ते में एक बार करना होता है। इन प्रोडक्ट्स में ऐसे केमिकल होते हैं, जो त्वचा की गहराई में जाकर त्वचा की मेंटेनेस का काम करते हैं। ध्यान रखें इनका इस्तेमाल रोजाना नहीं किया जा सकता है।

  • मास्क- हेल्दी और ग्लोइंग स्किन के लिए हफ्ते में एक बार न्यू मॉम हयालूरोनिक एसिड युक्त मास्क लगा सकती हैं। यह त्वचा को जरूरी पोषक तत्व देता है। साथ ही त्वचा संबंधी कई परेशानियों से राहत प्रदान करता है।
  • एक्सफोलिएटर्स- त्वचा को एक्सफोलिएट करते समय न्यू मॉम को काफी सावधानी बरतने की जरूरत होती है। क्योंकि इस दौरान उनकी त्वचा काफी सेंसिटिव होती है। इसलिए माइल्ड एक्सफोलिएट का इस्तेमाल करना सही रहेगा।

3. मंथली स्किन केयर (Monthly Skincare Routine in Hindi)

त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए मंथली कौन-कौन से ब्यूटी ट्रीटमेंट लेने चाहिए, नीचे इसके बारे में बता रहे हैं:

न्यू मॉम का स्किन केयर पिरामिड
फेशियल
  • फेशियल- महीने में एक दफा आप फेशियल करा सकती हैं। इससे चेहरे का ग्लो बरकरार रहता है। साथ ही त्वचा में कसाव आता है, जिससे बढ़ती उम्र का असर जल्दी नजर नहीं आता है।
  • डर्माप्लानिंग- त्वचा को एक्सफोलिएट कराने के लिए डर्माप्लानिंग सबसे बेहतर ऑप्शन में से एक है। प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाओं के लिए इस प्रक्रिया को सुरक्षित माना जाता है। इसमें डर्मेटोलॉजिस्ट चेहरे से मृत कोशिकाओं की परत हटाते हैं। 

इससे त्वचा ग्लोइंग और जवां नजर आती है। एक्सफोलिएशन की इस प्रक्रिया में किसी तरह के एसिड व केमिकल्स का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। हालांकि, जरूरी नहीं इसे हर महीने कराया जाए। आपकी स्किन की कंडिशन को देखते हुए यह आपके चिकित्सक तय करेंगे कि आपको इसे कब-कब कराने की जरूरत है। 

इस लेख में आपने न्यू मॉम के स्किन केयर पिरामिड के बारे में जाना। लेख में स्किन केयर से जुड़ी जानकारी को गंभीरता से लें और अपनी त्वचा का ध्यान रखें। इसके अलावा, साल में एक बार डर्मेटोलॉजिस्ट से जरूर मिलें। क्योंकि वो भविष्य के लिए आपको आपकी त्वचा के अनुसार प्रोडक्ट्स रिकमेंड करते हैं। त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए सही प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करना अहम है।

चित्र स्रोत: Freepik

06 Jun 2022

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text