home / Acne
Skin purging

जानें, क्या होता है Skin Purging और इसके कारण

अपने स्किनकेयर रूटीन में हमें हमेशा ही फेस मास्क, सीरम और विटामिन सी चाहिए होता है। ऐसे में जब हम अपने स्किनकेयर रूटीन में नए प्रोडक्ट को शामिल करते हैं तो हमारी त्वचा पर पिंपल होने लगते हैं, ऐसा या तो स्किन पर्जिंग के कारण होता है या फिर सामान्य ब्रेकआउट की वजह से। जब हमारी स्किन प्रोडक्ट में मौजूद किसी एक्टिव इंग्रीडिएंट (Active Ingredients) पर रिएक्ट तो उससे सेल्स का टर्नऑवर बढ़ जाता है और इसे स्किन पर्जिंग (Skin Purging) या फिर त्वचा का शुद्धीकरण कहते हैं। इससे आपके चेहरे पर नई और क्लीयर स्किन के आने से पहले धूल और बैक्टीरिया जमा हो जाता है, जिससे आपके पोर्स बंद हो जाते हैं। 

स्किन पर्जिंग के कारण

Skin purging

त्वचा पर पर्ज के दौरान आपकी स्किन पर व्हाइटहेड्स, ब्लैकहेड्स, पिंपल और सिस्ट आदि नजर आ सकते हैं। दूसरे शब्दों में कहें तो, स्किन पर्ज तब होती है जब हम किसी नए स्किन केयर प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना शुरू करते हैं। इस वजह से हमें अपनी त्वचा पर ब्रेकआउट नजर आने लगते हैं और त्वचा खुद ही रिन्यू होने लगती है और इसमें कम से कम 1 महीने का समय लगता है। यदि आपको 6 से 8 हफ्तों तक भी अपनी त्वचा में बदलाव ना नजर आए तो वो स्किन पर्जिंग नहीं है। इस मामले में आपको स्किनकेयर (Skincare) प्रोडक्ट को त्वचा पर इस्तेमाल करना शुरू कर देना चाहिए और नहीं तो किसी प्रोफेशनल को दिखाना चाहिए। 

किन चीजों से स्किन पर्जिंग होती है?

स्किन पर्जिंग तब ट्रिगर होती है, जब हम मुहांसों का इलाज करने के लिए एक्टिव इंग्रीडिएंट्स का इस्तेमाल करते हैं और ये बेहतर होने से पहले बहुत खराब होती है। रेटीनॉइड्स, विटामिन सी, AHAs और BHAs (ग्लीकॉलिक, मैलिक, लैक्टिक और सैलिसिलिक एसिड) ये सभी एक्टिव इंग्रीडिएंट्स होते हैं, जो स्किन पर्जिंग के लिए काम आते हैं। रेटिनॉल एक ऐसा इंग्रीडिएंट है, जो अधिकतर एक्ने स्किन केयर प्रोडक्ट्स में होता है और ये स्किन पर्ज करता है। कुछ मुख्य रेटिनॉइड्स जैसे कि ओरल इसोट्रेटिनॉइन और टॉपिकल ट्रेटिनॉइन ऐसे हैं, जो स्किन पर रिएक्ट करते हैं और स्किन पर्जिंग का कारण बनते हैं। 

स्किन पर्जिंग के समय क्या ना करें?

स्किन पर्जिंग के दौरान आपको हमेशा जेंटल स्किनकेयर रूटीन को फॉलो करना चाहिए। ये आपके स्पॉट्स को ट्रीट करता है और डल स्किन को रेजुवनेट करता है और बैक्टीरिया को मारता है। इस समय में आपको रात के समय अपनी स्किन को जरूर क्लींज करना चाहिए। साथ ही हो सकता है कि आपका अपनी त्वचा पर प्रोडक्ट का इस्तेमाल करने का मन ना करे लेकिन आपको ऐसा बिल्कुल नहीं करना चाहिए। जिन इंग्रीडिएंट्स की वजह से आपकी स्किन पर पिंपल हो रहे हैं वो बाद में आपकी स्किन की कई परेशानियों को दूर भी करते हैं। इस दौरान कभी भी अपनी स्किन को स्क्रैच ना करें। पर्जिंग के कारण होने वाले मुहांसे खुद ही ठीक हो जाते हैं और स्क्रैच करने से आपकी स्किन पर पर्मानेंट स्कार हो सकते हैं। स्किन पर्ज के दौरान हमेशा क्लीन डाइट लें क्योंकि इससे प्रोसेस तेज होता है। क्योंकि जंक फूड, फास्ट फूड आदि से आपकी त्वचा पर अधिक मुहांसे हो सकते हैं।

POPxo की सलाह: MyGlamm की ग्लो स्किनकेयर रेंज के साथ रखें अपनी त्वचा का खास ख्याल।

02 Aug 2021

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text