home / xSEO
kathal ke fayde - कटहल के फायदे और नुकसान - Jackfruit in Hindi

कटहल खाने के फायदे और नुकसान – Kathal ke Fayde Aur Nuksan

गर्मी के मौसम का शानदार फल है कटहल। जी हां, जिसकी सब्जी आपके घर में अक्सर बनाई जाती है, वो असल में एक फल है। कटहल बांग्लादेश और श्रीलंका का राष्ट्रीय फल है, जबकि भारतीय राज्यों केरल और तमिलनाडु में भी इसे राज्य फल का दर्जा दिया गया है। गर्मियों के इस विशाल फल को अक्सर इसकी मोटी बनावट के कारण शाकाहारी और वीगन लोगों के लिए मीट के विकल्प के रूप में जाना जाता है। घर पर मां जब भी कटहल ही सब्जी बनाती, पापा अक्सर कहते, ‘वह मजा आ गया, ऐसा लग रहा जैसे मीट खा रहे हों’। यही कटहल की खासियत है। मगर कटहल के गुण (Jackfruit Benefits in hindi) सिर्फ इसके स्वाद तक ही सीमित नहीं हैं। हम यहां आपको कटहल के फायदे और नुकसान बताने के साथ यह भी बताएंगे की कटहल खाने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए मगर उससे पहले जान लेते हैं आखिर कटहल क्या होता है (jackfruit kya hota hai)?  चिचिंडा खाने के फायदे और नुकसान

कटहल क्या होता है? – Jackfruit in Hindi

कटहल क्या होता है? - Jackfruit in Hindi

आर्टोकार्पस हेटरोफिलस जिसे आमतौर पर कटहल के रूप में जाना जाता है, मोरेसी पौधे परिवार का एक हिस्सा है जिसमें शहतूत, ब्रेडफ्रूट, अंजीर आदि शामिल हैं। यह दक्षिण भारत का एक उष्णकटिबंधीय फल है। यह एशिया भर में विभिन्न व्यंजनों में व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। यह एक विशाल फल है जिसका वजन लगभग 55 किलो, लंबाई में 90 सेमी और व्यास में 50 सेमी है। हालांकि इसकी खेती मुख्य रूप से दक्षिण भारत में की जाती है लेकिन यह दुनिया भर में व्यापक रूप से उपलब्ध है। कटहल दुनिया में सबसे बड़ा पेड़-जनित फल है जिसे कच्चा या किसी भी डिश में पकाकर खाया जा सकता है। इसकी एक नुकीली बाहरी त्वचा होती है जो कच्ची होने पर हरी होती है और पकने पर पीली हो जाती है। इस फल के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि इसके बीज सहित सभी भाग खाने योग्य होते हैं।

कटहल के फायदे –  Kathal Khane ke Fayde 

कटहल (jackfruit in hindi) पोषण का एक अच्छा स्रोत है और इसके विभिन्न स्वास्थ्य लाभ हैं। आप इसे फल के रूप में खा सकते हैं या इसे करी के रूप में बना सकते हैं, इसके बीजों को भून सकते हैं या मसालेदार ग्रेवी में पका सकते हैं। आप इस बहुमुखी फल के साथ अपनी पसंद के अनुसार प्रयोग कर सकते हैं। मगर खाने में स्वादिष्ट कटहल के फायदे (kathal ke fayde) भी कई सारे हैं। कटहल के बीज भी बेहद पौष्टिक होते हैं। कटहल पोषक तत्वों से भरपूर फल है जिसे अक्सर मीट के विकल्प के रूप में प्रयोग किया जाता है। यह सेहत और स्वाद का बेहतरीन मेल है। कटहल खाने के फायदे कई हैं, आप अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए इस फल को अपने दैनिक आहार में जरूर शामिल कर सकते हैं।

कटहल के फायदे -  Kathal Khane ke Fayde

दिल के रखे ख्याल – Jackfruit Good for Heart in Hindi

कटहल के फायदे दिल का भी ख्याल रखते हैं। कटहल में अच्छी मात्रा में फाइबर, पोटैशियम और एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो दिल की सेहत को बेहतर बनाने के लिए जाने जाते हैं। कटहल के बीज मिलाने से खराब एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने और अच्छे एचडीएल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने में मदद मिल सकती है। यह हृदय वाहिकाओं में पट्टिका और फैट को जमा होने से रोकता है, हृदय की मांसपेशियों के कार्य को आसान बनाता है और दिल की बीमारियों के जोखिम को कम करता है।

हड्डियां बनाए मजबूत – Jackfruit benefits for Bones in Hindi

कच्चे कटहल की तुलना अक्सर आलू से की जाती है क्योंकि इसका अपना कोई विशिष्ट स्वाद नहीं होता है। कटहल कैल्शियम का एक समृद्ध स्रोत है जो आपकी हड्डी को मजबूत बनाने में मदद करता है, इसमें मैग्नीशियम भी होता है जो कैल्शियम के अवशोषण में मदद करता है। कटहल के बीज बेहद पौष्टिक होते हैं और इन्हें करी में पकाया जा सकता है या साइड डिश के रूप में परोसा जा सकता है।

डायबिटीज में फायदेमंद- Kathal Ke Fayde Diabetes Ke Liye

कटहल के गुण होते हैं डायबिटीज में फायदेमंद होते हैं। इसमें काफी कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) होता है, जो इस बात की माप करता है है कि खाना खाने के बाद आपका ब्लड शुगर कितनी तेजी से बढ़ता है। यह फाइबर का भी अच्छा स्त्रोत है, जो पाचन धीमा कर देता है और ब्लड शुगर के स्पाइक्स को रोकने में मदद करता है। एक अध्ययन में, कटहल के अर्क का सेवन करने वाले वयस्कों के ब्लड शुगर लेवल में काफी सुधार पाया गया।

ब्लड प्रेशर करे नियंत्रित – Jackfruit Good for Blood Pressure in Hindi

कटहल में प्रचुर मात्रा में मौजूद पोटेशियम शरीर में द्रव और इलेक्ट्रोलाइट संतुलन बनाए रखने के साथ हृदय गति को नियंत्रित करता है, और सोडियम के प्रभावों को कम करता है, जिससे रक्त वाहिकाओं में तनाव कम होता है। अपने आहार में कच्चे कटहल को शामिल करना हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने और अन्य पुरानी बीमारियों के जोखिम को कम करने का एक बेहतरीन तरीका है।

खून बढ़ाए कटहल – Kathal Ke Fayde Hemoglobin Ke Liye

कटहल के फायदे एनीमिया जैसी बीमारी में भी देखने को मिलते हैं। एनीमिया खून की कमी को बोलते हैं, जो खून में लाल कोशिकाओं की कमी के कारण होती है। इससे बचने के लिए कटहल का सेवन फायदेमंद रहता है। दरअसल, कटहल आयरन का अच्छा स्रोत है और एनीमिया होने का सबसे मुख्य कारण शरीर में आयरन की कमी होना ही है। 

इम्यूनिटी बढ़ाए – Jackfruit Benefits for Immunity in Hindi

कटहल के गुण इम्यूनिटी बढ़ाने में भी कारगर हैं। इसे खाने से शरीर की इम्युनिटी बूस्ट रहती है तो एनर्जी भी भरपूर रहती है। कटहल में उच्च मात्रा में विटामिन ए, सी और एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने में मदद करते हैं और वायरल संक्रमण से लड़ते समय इसे मजबूत बनाते हैं। 

पाचन रखे दुरुस्त – Kathal ke Fayde Digestion Ke Liye

कटहल दो तरह के फाइबर से भरपूर होता है- घुलनशील और अघुलनशील। फाइबर पाचन प्रक्रिया को उत्तेजित करता है और कब्ज को रोकता है। इसके अलावा, इसमें प्रीबायोटिक्स भी होते हैं, जो आंत में फायदेमंद बैक्टीरिया के विकास को बढ़ावा देने में मदद करते हैं और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं को दूर रखते हैं। यह कब्ज को ठीक करने के लिए जाना जाता है। अगर आप ऐसे व्यक्ति हैं, जिन्हें लगातार पाचन संबंधी समस्या हो रही है तो कटहल को अपने दैनिक आहार में शामिल करने का प्रयास करें। 

कटहल के नुकसान – Jackfruit ke Nuksan

कटहल के नुकसान - Jackfruit ke Nuksan

हर चीज के अपने फायदे और नुकसान होते हैं अगर कटहल खाने के फायदे हैं तो कटहल खाने के नुकसान भी हैं। कटहल ज्यादातर लोगों के लिए सेवन करने के लिए बहुत सुरक्षित है, लेकिन कुछ लोग जिन्हें बर्च पराग (birch pollen) से एलर्जी है, उन्हें इसे सीमित करना चाहिए या इससे बचना चाहिए। इसके अलावा, ब्लड शुगर लेवल को कम करने की क्षमता के कारण, मधुमेह वाले व्यक्तियों को नियमित रूप से इस फल को खाने पर अपनी दवा की खुराक बदलने की आवश्यकता हो सकती है। कटहल के सेवन से कभी भी कोई गंभीर साइड इफेक्ट होने की सूचना नहीं मिली है, और यह ज्यादातर लोगों के लिए खाने के लिए बिल्कुल सुरक्षित है। 

कटहल खाने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए – Eating These Things With Jackfruit is Dangerous to Health in Hindi 

कटहल खाने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए

कटहल बेहद स्वस्थ और स्वादिष्ट होते हैं, वे नए-नए वीगन बने लोगों के लिए एक बढ़िया विकल्प हो सकते हैं। कटहल प्रकृति द्वारा मानव जाति को दिए गए अद्वितीय सुपरफूड्स में से एक है जो एक अत्यंत प्रभावशाली पोषक तत्वों के साथ आता है और कई स्वास्थ्य लाभ भी प्रदान करता है। यह दुनिया का सबसे बड़ा वृक्ष फल है जिसमें बड़े और भारी फल होते हैं जो प्रोटीन और विटामिन और खनिजों के टन से भरपूर होते हैं। आप इसे फल की तरह भी खा सकते हैं और इसकी सब्जी पका कर भी खा सकते हैं। मगर अब सवाल यह उठता है कि कटहल खाने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए? तो हम आपको बता दें कि कटहल खाने के बाद दूध से दूरी बनाये रखने में भी भलाई है। नहीं तो दाद, खाज, खुजली, एग्जिमा और सोरायसिस जैसे रोगों का खतरा बना रहता है।

कटहल को लेकर पूछे जाने वाले सवाल-जवाब – FAQ’s on Jackfruit in Hindi 

सवाल- कटहल का पेड़ कितने दिन में फल देता है?

जवाब- फरवरी के प्रथम सप्ताह में कटहल के पेड़ पर फल लगने शुरू हो जाते हैं। फल लगने के 20-25 दिन बाद इसके एक पेड़ से 45-50 कि.ग्रा. फल सब्जी के लिए प्राप्त किया जा सकता है।

सवाल- कटहल के पेड़ की उम्र कितनी होती है?

जवाब- कटहल के पेड़ की उम्र 25 से 30 वर्ष की ही होती है।

सवाल- कटहल कैसे पकता है?

जवाब- कटहल पकाने के लिए प्रेशर कूकर में आधा लीटर पानी, कटहल के टुकड़े, 1/2 चम्मच नमक और एक चौथाई छोटा चम्मच हल्दी डाल कर सीटी लगा लें।

सवाल- कटहल खाने के बाद दूध पी सकते हैं क्या?

जवाब- कटहल खाने के बाद दूध से दूरी बनाये रखने में भी भलाई है। नहीं तो दाद, खाज, खुजली, एग्जिमा और सोरायसिस जैसे रोगों का खतरा बना रहता है।

सवाल- कटहल कब नहीं खाना चाहिए?

जवाब- दूध पीने के पहले या बाद में कटहल का सेवन नहीं करना चाहिए।

सवाल- कटहल कड़वा होता है क्या?

जवाब- कच्चा कटहल का फल मीठा होने के बावजूद इसका फूल कड़वा होता है।

सवाल- कटहल कौन सा फल है?

जवाब- पेड़ पर होने वाले फलों में कटहल फल विश्व में सबसे बड़ा फल होता है।

अगर आपको यहां बताए गए सेंधा कटहल के फायदे (Jackfruit Benefits in hindi) पसंद आए तो इन्हें अपने दोस्तों व परिवारजनों के साथ शेयर करना न भूलें।

22 Sep 2021

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text