home / लाइफस्टाइल
कहीं आप तो नहीं हैं बहुत Possessive? अगर हां तो हो सकती है यह मेंटल डिसऑर्डर की निशानी, जानें

कहीं आप तो नहीं हैं बहुत Possessive? अगर हां तो हो सकती है यह मेंटल डिसऑर्डर की निशानी, जानें

प्रोटेक्टिव और पोसेसिव होने के बीच में एक फाइन लाइन होती है और अगर आप innocent possessiveness के वर्ज पर हैं तो यह इससे अधिक खतरनाक हो सकता है। दरअसल, यह हमेशा अफेक्शन से शुरू होता है, जैसे कि हमें साथ में अधिक वक्त बिताना चाहिए लेकिन बाद में शिकायते शुरू हो जाती हैं। जैसे कि, ”तुम अपने परिवार के साथ अधिक वक्त बिताते हो। तो हमारा साथ होने का क्या मतलब है?” या फिर ”आप काम के लिए काफी वक्त शहर से बाहर ही रहते हैं और यह मुझे बिल्कुल अच्छा नहीं लगता है?”

वक्त के साथ ये स्टेटमेंट एक शेड डार्कर हो जाती हैं और इसके साथ वो धमकाना, इमोशनल ब्लैकमेल करना और अंत में रोना शुरू कर देते हैं। ऐसे में सवाल यह है कि क्या इस तरह का व्यवहार सामान्य है? तो चलिए इस बारे में आपको डिटेल में बताते हैं।

ADVERTISEMENT

आप पोसेसिव क्यों होते हैं?

पोसेसिवनेस किसी भी तरह का हो सकता है और यह इनसिक्योरिटी और खुद को नजरअंदाज करने का नतीजा होता है। ऐसा तब होता है जब आप दूसरे लोगों पर काफी अधिक निर्भर होने लगते हैं और उनसे उम्मीद करने लगते हैं कि वो आपको खास और प्यार महसूस कराएं। सेल्फ लव और सेल्फ कॉन्फिडेंस के कारण ही पोसेसिवनेस की शुरुआत होती है। ऐसे में आपको हमेशा किसी के साथ की जरूरत होती है ताकि आप खुद को खुश, सुरक्षित और सिक्योर रख सकें।

आप कब सीमाएं लांघ रहे हैं?

आप यह कैसे जान सकते हैं कि आप अपने पार्टनर के स्ट्रेस का कारण बन रहे हैं। हमने यहां इसे जानने के लिए एक चेकलिस्ट बनाई है।

ADVERTISEMENT
  1. क्या आप अपने पार्टनर के फेसबुक या फिर व्हॉट्सएप अकाउंट या फिर कॉल लोग्स को चेक करते हैं?
  2. क्या आप दूसरे जेंडर के साथ उनके इंटरेक्शन को ध्यान से मोनिटर करते हैं फिर चाहे वो उनके दोस्त हों या फिर सहकर्मी आदि और इस वजह से आप उनसे लड़ाई करते हैं?
  3. क्या आपने अपने पार्टनर को इमोशनी अपने दोस्तों से कॉन्टेक्ट खत्म करने के लिए कहा है?
  4. क्या आप उन्हें बार-बार कॉल करते हैं और उनसे पूछते हैं कि वो कहां हैं और क्या कर रहे हैं?
  5. क्या आप उनकी फ्रेंड लिस्ट या फिर सोशल मीडिया पर मौजूद लोगों को भी स्टॉक करते हैं?
  6. क्या आप अपने पार्टनर को ऐसे प्रोग्राम केंसिल करने के लिए कहते हैं जिनमें उन्हें अधिक देर तक घर से बाहर रहना हो?
  7. क्या आपने अपने पार्टनर को अपनी जिंदगी का सेंटर बना लिया है और इसमें अपने परिवार, दोस्तों या फिर खुद की जिंदगी के लिए कोई जगह नहीं छोड़ी?

अगर आपका जवाब हां है तो…

अगर ऊपर बताई गई चीजों में से किसी के भी बारे में आपका जवाब हां है तो आपको प्रोफेशनल हेल्प की जरूरत है क्योंकि जो लोग काफी इनसिक्योर या फिर पोसेसिव होते हैं, उन्हें बॉर्डरलाइन पर्सनेलिटी डिसऑर्डर भी हो सकता है। जिन्हें BPD होता है वो अपने इमोशन पर काबू नहीं कर पाते हैं फिर चाहे वो जेलसी हो, पोसेसिवनेस हो या फिर हाइपरएक्टिवनेस हो। ऐसे में पोसेसिव बिहेवियर के बारे में इन साइन को बिल्कुल भी अवॉइड न करें।

25 Jan 2023

Read More

read more articles like this
good points

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text