Advertisement

xSEO

जानिए क्या है क्रिएटिनिन और इसे कम करने के उपाय – Creatinine Kam Karne Ke Upay in Hindi

Supriya SrivastavaSupriya Srivastava  |  Nov 23, 2021
How to Reduce Creatinine in Hindi | क्रिएटिनिन कम कैसे करे| Creatinine Kam Karne ke Upay in Hindi

Advertisement

शरीर के अंदर एक अपशिष्ट उत्पाद के रूप में, क्रिएटिनिन (creatinine in hindi) का उपयोग आपकी किडनी के कार्य को मापने के लिए किया जा सकता है, और आपके रक्त में क्रिएटिनिन का स्तर आपके पूरे किडनी फंक्शन का एक अच्छा संकेतक है। रक्त में क्रिएटिनिन का उच्च स्तर किडनी की बीमारी का संकेत हो सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि बिगड़ा हुआ किडनी फंक्शन क्रिएटिनिन के स्तर में वृद्धि करता है, क्योंकि किडनी इसे प्रभावी ढंग से फ़िल्टर करने में सक्षम नहीं होती है। अगर आपका क्रिएटिनिन लेवल भी हाई है तो आपको तुरंत डॉक्टर से इस बारे में सलाह लेनी चाहिए। मगर कई मामलों में क्रिएटिनिन कम करने के उपाय (how to reduce creatinine in hindi) भी काम कर जाते हैं। पैनिक अटैक क्या होता है

क्रिएटिनिन क्या है? – What is Creatinine in Hindi? 

क्रिएटिनिन क्या है? - What is Creatinine in Hindi?

क्रिएटिनिन एक रसायन है, जो शरीर में नियमित मांसपेशियों के टूट-फूट के परिणामस्वरूप उत्पन्न होता है। आम तौर पर, यह रक्त प्रवाह से होकर गुजरता है, किडनी के माध्यम से फ़िल्टर किया जाता है, और पेशाब के माध्यम से शरीर से उत्सर्जित होता है। एक व्यक्ति के पास जितनी अधिक मांसपेशियां होती हैं, वे उतने ही अधिक क्रिएटिनिन का उत्पादन करते हैं। रक्त में क्रिएटिनिन का स्तर एक व्यक्ति की मांसपेशियों की मात्रा और उनके गुर्दे के कार्य की मात्रा दोनों को दर्शाता है। हाई क्रिएटिनिन लेवल आमतौर पर अनुचित किडनी फंक्शन या किसी अंदरूनी बीमारी के परिणामस्वरूप होता है। क्रिएटिनिन का खतरनाक स्तर भी किडनी की बीमारी के संकेत के रूप में कार्य कर सकता है।

क्रिएटिनिन बढ़ने के कारण – Causes of Increase in Creatinine in Hindi 

यदि आपकी किडनी किसी भी स्थिति से बाधित या बिगड़ी हुई है, तो यह आपके क्रिएटिनिन के स्तर को बढ़ा सकती है। वयस्कों में क्रोनिक किडनी रोगों या हाई क्रिएटिनिन लेवल के कुछ सबसे सामान्य कारणों में शामिल हैं-

– डायबिटीज 

– हाई ब्लड प्रेशर 

– मूत्र मार्ग में संक्रमण

– सिमेटिडाइन जैसी दवाएं

– किडनी की कोई पुरानी बीमारी

– बैक्टीरियल इंफेक्शन

ये सभी हाई क्रिएटिनिन लेवल का कारण बनते हैं। खासतौर पर डायबिटीज तो कभी भी क्रिएटिनिन का स्तर बढ़ा सकता है। वहीं UTI के चलते भी क्रिएटिनिन लेवल बढ़ जाता है। जानिए पेट साफ कैसे करे

क्रिएटिनिन लेवल बढ़ने के लक्षण – Symptoms of Increase in Creatinine Level in Hindi

क्रिएटिनिन लेवल बढ़ने के लक्षण - Symptoms of Increase in Creatinine Level in Hindi

हाई ब्लड क्रिएटिनिन लेवल और किडनी डिस्फन्क्शन के लक्षण अक्सर अलग-अलग होते हैं और एक दूसरे से संबंधित नहीं हो सकते हैं। कुछ व्यक्तियों में बिना किसी लक्षण के किडनी की गंभीर बीमारी और हाई क्रिएटिनिन लेवल हो सकता है, जबकि अन्य में आमतौर पर लक्षण विकसित होते हैं जैसे:

– सूजन 

– सांसों की कमी

– डिहाइड्रेशन

– थकान

– मतली और उल्टी

– भ्रम की स्थिति

यदि आपका क्रिएटिनिन लेवल हाई है, और क्रिएटिनिन लेवल बढ़ने के लक्षण नजर आ रहे हैं तो समय-समय पर किडनी को डाइगनोस करना बहुत महत्वपूर्ण है। 

क्रिएटिनिन कम करने के उपाय – Remedies to Reduce Creatinine in Hindi 

क्रिएटिनिन लेवल हाई होते ही ये सवाल खड़ा हो जाता है कि क्रिएटिनिन कम कैसे करे। दरअसल, कुछ अंदरूनी कारणों के चलते क्रिएटिनिन का स्तर बढ़ सकता है, प्रत्येक व्यक्ति को यह सुनिश्चित करने के लिए काम करना चाहिए कि शरीर को अच्छी तरह से कार्य करने के लिए उचित स्वच्छ रक्त प्रवाह मिलता रहे। कुछ मामलों में, क्रिएटिनिन को कम करने और महत्वपूर्ण कार्यप्रणाली में सुधार करने के लिए दवाओं और उपचारों की सलाह दी जा सकती है। वहीं कई मामलों में क्रिएटिनिन कम करने के घरेलू उपाय भी काम कर जाते हैं। अगर आप भी अपने स्तर पर क्रिएटिनिन लेवल काम करना चाहते हैं तो हम यहां creatinine kam karne ke upay बता रहे हैं। 

क्रिएटिनिन कम करने के उपाय - Remedies to Reduce Creatinine in Hindi

प्रोटीन की मात्रा कम करें – Creatinine Reduces Protein in Hindi 

प्रोटीन एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है जिसकी शरीर को विभिन्न आवश्यकताओं के लिए आवश्यकता होती है। हालांकि, अतिरिक्त प्रोटीन शरीर में क्रिएटिनिन के स्तर को भी बढ़ा सकता है और अपचित हो सकता है। कुछ प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ दूसरों की तुलना में क्रिएटिनिन बढ़ने की अधिक संभावना रखते हैं। रेड मीट जैसे खाद्य पदार्थों का सेवन कम करने के लिए डेयरी प्रोडक्ट्स की मदद ले सकते हैं। पौधे आधारित प्रोटीन और अधिक सब्जियों पर स्विच करने से भी मदद मिल सकती है।

फाइबर युक्त आहार लें – Fiber Diet to Reduce Creatinine in Hindi 

फाइबर एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है जो पाचन में सहायता करता है। यह शरीर में क्रिएटिनिन उन्मूलन को संतुलित करने में भी मदद कर सकता है। कई अध्ययनों से पता चला है कि फाइबर सेवन में उल्लेखनीय वृद्धि से शरीर में क्रिएटिनिन का स्तर कम हो गया है। फाइबर बहुत सारे खाद्य पदार्थों में पाया जा सकता है, जिनमें फल, सब्जियां, फलियां, दालें और साबुत अनाज शामिल हैं।

हाइड्रेट रहें – Stay Hydrated to Reduce Creatinine in Hindi 

पर्याप्त पानी पीने का एक और कारण है, क्रिएटिनिन के स्तर को कम रखना। डिहाइड्रेशन या एक दिन में आवश्यकता से कम पानी पीने से आपके शरीर में क्रिएटिनिन का स्तर बढ़ सकता है। एक योग्य न्युट्रिशिनिस्ट से बात करके, अपने आहार में अधिक हाइड्रेटिंग खाद्य पदार्थ और पेय शामिल करने से फर्क पड़ सकता है। साथ ही कोशिश करें और दिन में कम से कम 8-10 गिलास पानी पिएं।

नमक कम खाएं – Consume Less Salt to Reduce Creatinine in Hindi  

अत्यधिक नमक का सेवन हाई ब्लड प्रेशर का एक प्रमुख कारण है, जो बदले में किडनी की समस्या का कारण बन सकता है। इसलिए, अपने क्रिएटिनिन के स्तर को स्वाभाविक रूप से कम करने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है, एक दिन में अपने नमक की खपत को कम करना। कोशिश करें और अपने नमक का सेवन कम करें और अपने भोजन को स्वादिष्ट बनाने के लिए प्राकृतिक मसालों, जड़ी-बूटियों का उपयोग करें। आपके नमक का सेवन एक दिन में 2 बड़े चम्मच से अधिक नहीं होना चाहिए।

स्मोक न करें – Smoking Increases Creatinine in Hindi  

तंबाकू का सेवन भी कुछ ऐसा है, जो किडनी की बीमारियों और जटिलताओं से जुड़ा हुआ है, जिसमें हाई क्रिएटिनिन लेवल भी शामिल है। सिगरेट पीने से अन्य स्वास्थ्य जटिलताओं की संभावना भी कम हो सकती है जो मृत्यु दर को प्रभावित कर सकती हैं। इसलिए, धूम्रपान छोड़ने से आप अपने स्वास्थ्य को बेहतर ढंग से प्रबंधित कर सकते हैं।

शराब का सेवन भी है नुकसानदायक – Drinking is Harmful for Creatinine Level in Hindi 

शराब सिर्फ आपके लीवर के लिए ही नहीं बल्कि किडनी के स्वास्थ्य के लिए भी खराब है। अधिक शराब का सेवन किडनी को नुकसान पहुंचाने, किडनी की समस्याएं पैदा करने, रक्तचाप के स्तर को बढ़ाने जैसे काम कर सकता है। ये सभी कारक शरीर में क्रिएटिनिन के स्तर को बिगाड़ सकते हैं। इसलिए, शराब का सेवन कम करना स्वस्थ जीवन जीने का एक अच्छा उपाय है।

अतिरिक्त क्रिएटिन न लें – Avoid Excessive Creatinine in Hindi 

सीधे शब्दों में कहें, हानिकारक क्रिएटिनिन तब उत्पन्न होता है जब आपका शरीर क्रिएटिन को संसाधित करता है, जो कि अमीनो एसिड का एक रूप है। हालांकि यह मुख्य रूप से प्रोटीन स्रोतों में पाया जाता है, क्रिएटिन की खुराक, अक्सर एथलीटों, भारोत्तोलकों और फिटनेस उत्साही लोगों के शरीर निर्माण के लिए ठीक होती है, जिससे क्रिएटिनिन का स्तर हाई बना रहता है। मगर लंबे समय तक अत्यधिक प्रोटीन का सेवन करने से किडनी फंक्शन खराब हो सकता है। 

भारी व अधिक व्यायाम करने से बचें – Avoid Excessive Exercise to Reduce Creatinine in Hindi 

अगर आपका क्रिएटिनिन लेवल बढ़ा हुआ है तो भारी व अधिक व्यायाम करने से भी बचें। वेट लिफ्टिंग, सर्किट ट्रेनिंग जैसे व्यायाम आपके रक्तप्रवाह में क्रिएटिनिन के स्तर को बढ़ा सकता है। यदि आप क्रिएटिनिन के स्तर के बारे में चिंतित हैं, तो आपको अपने डॉक्टर के साथ अपने कसरत के विकल्पों पर चर्चा करनी चाहिए। आम तौर पर, क्रोनिक किडनी की स्थिति वाले लोगों को अपनीं किडनी की कार्यप्रणाली को संतुलन में रखने के लिए कम मेहनत वाले व्यायाम दिनचर्या का विकल्प चुनना चाहिए। इसमें वॉकिंग, योग, एरोबिक्स, घर के अंदर साइकिल चलाना आदि शामिल हो सकते हैं। 

हर्बल टी का सेवन करें – Drink Herbal Tea to Reduce Creatinine in Hindi

क्रिएटिनिन लेवल कम करने के लिए आप हर्बल टी जैसे- कैमोमाइल टी या फिर ग्रीन टी का सेवन कर सकते हैं। कैमोमाइल टी बनाने के लिए एक कप गर्म पानी में कैमोमाइल हर्ब मिलाएं। इसे कम से कम 10 मिनट तक भीगने दें। छान लें और थोड़ा सा शहद मिला लें। आप कैमोमाइल टी को दिन में 3 से 4 बार ले सकते हैं। वहीं ग्रीन टी बनाने के लिए एक ग्रीन टी बैग को लगभग 10 मिनट के लिए एक कप गर्म पानी में भिगो दें। इसे थोड़ी देर ठंडा होने दें और इसमें थोड़ा सा शहद मिलाएं। आप दिन में 2 से 3 बार ग्रीन टी पी सकते हैं।

क्रिएटिनिन कम करने को लेकर पूछे जाने वाले सवाल-जवाब – FAQ’s on Creatinine in Hindi

सवाल- क्रिएटिनिन लेवल कितना होना चाहिए?

जवाब- क्रिएटिनिन की सामान्य मात्रा महिलाओं में 0.6 से 1.1 मिग्रा व पुरुषों में 0.7 से 1.3 मिग्रा प्रति डेसिलीटर होनी चाहिए। 

सवाल- क्रिएटिनिन बढ़ने के लक्षण क्या है?

जवाब- सांसों की कमी, डिहाइड्रेशन, थकान, मतली और उल्टी व भ्रम की स्थिति क्रिएटिनिन बढ़ने के सामान्य लक्षण हैं। 

अगर आपको यहां दिए गए क्रिएटिनिन कम करने के उपाय (how to reduce creatinine in hindi) पसंद आए तो इन्हें अपने दोस्तों व परिवारजनों के साथ शेयर करना न भूलें।