home / लाइफस्टाइल
क्या आपके आम खाने के लिए हैं सुरक्षित! जानें

क्या आपके आम खाने के लिए हैं सुरक्षित! जानें

हम सभी गर्मियों का इंतजार करते हैं ताकि जब यह मौसम आए तो हम स्वादिष्ट रसीले आमों का आनंद ले सकें। वैसे तो आम खाने के काफी फायदे भी होते हैं ये आपके दिल के स्वास्थ्य, पाचन तंत्रिका के लिए अच्छा होता है और इसमें एंटीऑक्सिडेंट्स भी होते हैं। इसके अलावा आम में विटामिन सी, डाइटरी फाइबर और विटामिन ए भी होता है। हालांकि, क्या आप जानते हैं कि आपके आम में कापी सारे केमिकल्स भी होते हैं? जी हां यह सच है। जिस तरह से हमारी सब्जियों और फलों में टॉक्सिन होते हैं, उसी तरह से आमों में भी टॉक्सिन होते हैं।

आम में क्यों होता है केमिकल?

आम बेचने वाले लोग उसमें एसेटेलाइन डालते हैं ताकि वो जल्दी पक जाएं। इसकी मदद से वो समय से पहले आमों की ब्रिकी कर पाते हैं और अच्छा पैसा कमा पाते हैं। साथ ही ये आम को पीला भी बना देता है और उन्हें जूसी दर्शाता है। बता दें कि फूड सेफ्टी एंड स्टैंडंर्ड अथोरिटी ऑफ इंडिया ने इन केमिकल्स को बैन किया हुआ है लेकिन फिर भी सेल को बढ़ाने के लिए वेंडर इसका इस्तेमाल करते हैं। यह केमिकल हमारी बॉडी के लिए काफी हार्मफुल होता है और इससे कई बीमारियां हो सकती हैं।

कैसे जानें कि आपके आमों में केमिकल है कि नहीं?

इसमें कोई रॉकेट साइंस नहीं है और यह पहचानना बहुत ही आसान है कि कौन सा आम पका हुआ है और कौनसे में केमिकल का इस्तेमाल किया गया है। यहां हम आपकी मदद के लिए कुछ स्टेप्स बताने वाले हैं-

  • आमतौर पर पके हुए आम पीले होते हैं और केमिकली पकाए गए आम पर ग्रीन स्पॉट होते हैं। इस तरह के फल पर दोनों पीले और हरे शेड्स होते हैं।
  • आम खरीदने के बाद आपको उन्हें पानी के में रखना चाहिए। अगर वो पानी में ऊपर की ओर रहते हैं तो इसका मतलब है कि वो केमिकल वाले हैं।
  • आम आमतौर पर जूसी होते हैं और ऐसे में अगर आप जो आम खाते हैं वो जूसी नहीं होते हैं तो इसका मतलब है कि उन्हें केमिकल से पकाया गया है।
  • पके हुए आम का स्वाद मीठा होता है और ये आपके फल खाने की क्रेविंग को शांत करता है लेकिन अगर आप बिना जूस वाले आम खाते हैं तो इसका मतलब है कि वो केमिकल से पकाए गए हैं।
  • नैचुरली पका हुआ आम येलो रेडिश कलर का होता है, जो ईवनली आम के ऊपर फैला होता है लेकिन केमिकल के द्वारा पके हुए आम का रंग लाइट या फिर डार्क येलो कलर का होता है।

आम पर लगे केमिकल को कैसे हटाएं?

आम को नमक वाले पानी में भिगोएं

यह एक नियम है कि आम को कभी भी घर लाते ही नहीं खाना चाहिए। उन्हें कम से कम एक या दो दिन के रखना चाहिए और उससे पहले आपको उन्हें आधे या फिर 1 घंटे के लिए नमक वाले पानी में भिगो कर रखना चाहिए और उन्हें अच्छे से रब करना चाहिए और इसके बाद उन्हें सामान्य नलके के पानी से धोना चाहिए।

सामान्य पानी में भिगोएं

आमों के केमिकल को हटाने का सबसे आसान और अच्छा तरीका है कि उन्हें एक बाल्टी पानी में कुछ घंटों के लिए भिगो दें। इसके बाद उन्हें पानी में से बाहर निकालें, अच्छे से रब करें और फिर सामान्य पानी से एक बार फिर से धो लें।

गर्म पानी में भिगोएं

आप चााहें तो आमों को हल्के गर्म पानी में भी भिगो सकते हैं। इसके लिए आपको आमों को कम से कम 2 घंटों के लिए हल्के गर्म पानी में भिगोमा चाहिए और पिर उन्हें अच्छे से रब करके 20 मिनट के लिए सामान्य पानी में भिगोना चाहिए।

19 May 2022

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text