home / Love
बच्चा होने के बाद अक्सर पति-पत्नी के बीच इन वजहों से आ जाती हैं दूरियां

बच्चा होने के बाद अक्सर पति-पत्नी के बीच इन वजहों से आ जाती हैं दूरियां

शादी के बाद जब भी किसी कपल के बीच कहा-सुनी या झगड़ा होता है, तो अपने अक्सर घर बड़े-बुजुर्गों को कहते सुना होगा कि एक बच्चा आ जायेगा तो सब ठीक हो जायेगा। कहने में तो यह बात काफी हद तक ठीक लगती है लेकिन वास्तविकता में क्या ऐसा होता है? क्या वाकई एक बच्चे के लाइफ में आ जाने के बाद पति-पत्नी के बीच दूरियां कम हो जाती हैं? या फिर इसका उलट होता है और दोनों के बीच दूरियां कम होने के बजाय बढ़ जाती हैं। ऐसा अक्सर देखने को मिला है कि बच्चा होने के बाद उन कपल्स के बीच भी दूरियां आ जाती हैं, जिनके बीच पहले काफी प्यार था। आखिर बच्चा पैदा होने के बाद ऐसा क्या हो जाता है, जो पति-पत्नी एक दूसरे से दूर हो जाते हैं। वे पति-पत्नी न रहकर सिर्फ माता-पिता बनकर रह जाते हैं और एक समझौते की ज़िंदगी से समझौता कर लेते हैं। चलिए जानने की कोशिश करते हैं। 

सेक्स की कमी

ऐसा अक्सर देखने को मिलता है कि एक लड़की के प्रेगनेंट होने से लेकर उसकी डिलीवरी के 6 महीने तक पति-पत्नी के बीच सेक्स स्थापित नहीं हो पाता। इस दौरान लड़की जहां अपने शारीरिक और मानसिक बदलावों से होकर गुजर रही होती है वहीं उसका पति सब कुछ जानते-बूझते हुए भी सेक्स की कमी से जूझ रहा होता है। इसके चलते दोनों ही अपनी-अपनी जगह चिड़चिड़े हो जाते हैं और उनके बीच बात-बात पर झगड़े और मन-मुटाव पैदा होने लगते हैं। 

एक-दूसरे के लिए समय की कमी 

बच्चा होने से पहले पति-पत्नी का पूरा समय एक-दूसरे के लिए होता है। वो अपने पार्टनर के बारे में सोचकर सारे काम करते हैं और एक-दूसरे के नजरिये को भी समझते हैं। मगर बच्चा होने के बाद उनका पूरा फोकस एक-दूसरे से हटकर बच्चे पर चला जाता है। बच्चे की जिम्मेदारी उन्हें पति-पत्नी के बजाय सिर्फ माता-पिता बनाकर रख देती है। उनकी सुबह भी बच्चा और रात भी सिर्फ बच्चा बनकर ही रह जाता है। आखिर हो भी क्यों न, एक बच्चे की जिम्मेदारी कोई आसान बात जो नहीं है। 

बातें शेयर न करना 

समय की कमी के चलते पति-पत्नी एक दूसरे के साथ अपने मन की बातें शेयर नहीं कर पाते। उनके बीच बातें भी सिर्फ बच्चे को लेकर ही ज्यादा होती हैं। जैसे बच्चे ने कब दूध पिया, उसने क्या खाया, कब सोया, क्या पहना आदि। इन सब के बीच वो एक दूसरे को समझने को कोशिश करना तो दूर एक दूसरे के बारे में सोचना भी बंद कर देते हैं और उनके बीच दूरियां आने लगती हैं। 

बच्चे की जिम्मेदारी कौन संभालेगा? 

यह एक ऐसा सवाल है, जो आजकल के कामकाजी माता-पिता को हर रोज़ सताता है। पहले जहां यह काम सिर्फ माओं के जिम्मे होता था वहीं बदलते समय के साथ अब मां पर भी ऑफिस की ज़िम्मेदारी होती है तो उसकी अपने पति से अपेक्षाएं भी बढ़ जाती हैं। अब कपल मिलकर बच्चे की देखभाल करते हैं मगर जहां कुछ कपल इस काम को बखूबी अंजाम देते हैं वहीं कुछ कपल सिर्फ इस बात पर ही झगड़ते रह जाते हैं कि बच्चे के साथ रात में कौन जागेगा, या फिर उसकी सुसु-पॉटी कौन साफ करेगा और उसे सुलाएगा कौन।

अगर आप भी इन बातों से रिलेट करते हैं तो जल्द ही आपको इन्हें सुलझाने की जरूरत है। कहीं ऐसा न हो कि देर हो जाये और आप दोनों के बीच की दूरियां बच्चे पर बुरा असर डालने लगें। 

POPxo की सलाह : MYGLAMM के ये शानदार बेस्ट नैचुरल सैनिटाइजिंग प्रोडक्ट की मदद से घर के बाहर और अंदर दोनों ही जगह को रखें साफ और संक्रमण से सुरक्षित!

20 Aug 2021

Read More

read more articles like this

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text