home / पैरेंटिंग
प्रेग्नेंसी में कब्ज

प्रेग्नेंसी में कब्ज से हैं परेशान, बड़े काम के हैं ये घरेलू उपाय

गर्भावस्था के दौरान ज्यादातर महिलाएं कब्ज की समस्या को लेकर परेशान रहती हैं। वैसे तो यह समस्या बहुत कॉमन है। लेकिन कई दफा वक्त रहते इसका इलाज न किया जाए तो यह कई अन्य शारीरिक परेशानियों का कारण बन सकता है। यही वजह है इस लेख में आज हम प्रेग्नेंसी में कब्ज के कारण व इसके घरेलू नुस्खों के बारे में विस्तार से जानेंगे।  

प्रेग्नेंसी में कब्ज के कारण (Causes of Constipation During Pregnancy in Hindi)

प्रेग्नेंसी में कब्ज की समस्या के पीछे निम्नलिखित कारण हो सकते हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं:

  • गर्भावस्था के दौरान शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण कब्ज की समस्या हो सकती है।
  • प्रेग्नेंसी में कई दवाएं या सप्लीमेंट्स भी कब्ज की परेशानी का कारण बन सकते हैं।
  • प्रेग्नेंसी में कब्ज होने का एक कारण डाइट में फाइबर युक्त फूड्स की कमी हो सकता है।
  • कई दफा पानी या तरल पदार्थ कम लेने की वजह से भी कब्ज की दिक्कत हो सकती है।
  • कुछ महिलाएं गर्भावस्था के दौरान शारीरिक रूप से कम एक्टिव होती हैं। यह भी कब्ज की समस्या के मुख्य कारणों में से एक है।

प्रेग्नेंसी में कब्ज के घरेलू उपचार (Home Remedies of Constipation During Pregnancy in Hindi)

गर्भावस्था के नौ महीनों के दौरान महिला का पाचन काफी खराब रहता है। इस वजह से उन्हें अक्सर कब्ज की समस्या रहती है। इस समस्या से राहत पाने के लिए दवाओं की जगह घरेलू उपायों को बेहतर माना जाता है। नीचे हम प्रेग्नेंसी में कब्ज को दूर करने के घरेलू उपायों के बारे में जानेंगे।

1. नींबू

प्रेग्नेंसी में कब्ज
नींबू का इस्तेमाल

नींबू का इस्तेमाल गर्भावस्था में पाचन संबंधी होने वाली समस्याओं के लिए असरदारी माना जाता है। इसके पीछे इसमें मौजूद सिट्रिक एसिड का प्रभाव देखा जा सकता है। यह पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने के साथ मल त्याग की प्रक्रिया को आसान बनाता है।

इस्तेमाल करने का तरीका:

  • आधे नींबू के रस को एक गिलास गुनगुने पानी में मिलाकर ले सकती हैं।
  • एक गिलास गुनगुने पानी में नींबू के साथ शहद मिक्स करके भी पी सकती हैं।

2. अलसी

प्रेग्नेंसी में कब्ज के घरेलू उपचार के तौर पर अलसी का सेवन कर सकती हैं। इसके पीछे इसमें मौजूद मूसिलेज नामक पदार्थ को प्रभावी माना जाता है। दरअसल, इस पदार्थ में लैक्सेटिव प्रॉपर्टीज होती हैं। इससे मल नरम होकर आसानी से पास हो जाता है। 

इस्तेमाल करने का तरीका:

  • अलसी के बीजों को भूनकर पीस लें। इसके पाउडर को सैलेड या रायते में डाल सकते हैं।
  • रोटी के आटे में अलसी पाउडर को मिला सकते हैं।

3. इसबगोल

कब्ज की समस्या के लिए इसबगोल का इस्तेमाल सदियों से किया आता जा रहा है। इसके सेवन से मल त्याग काफी आसानी से हो जाता है। गर्भवती महिलाओं के लिए इसबगोल का सेवन सुरक्षित माना जाता है। ऐसे में प्रेग्नेंसी में कब्ज की समस्या को दूर करने के लिए इसबगोल भी कारगर उपाय में से एक हो सकता है।

इस्तेमाल करने का तरीका:

  • खाना खाने के एक घंटे बाद एक चम्मच इसबगोल को एक गिलास में मिलाकर पी सकते हैं।
  • चाहें तो इस ड्रिंक में नींबू भी मिला सकते हैं।

4. पेपरमिंट ऑयल से मसाज

पेपरमिंट ऑयल से मसाज के जरिए भी गर्भावस्था में कब्ज की समस्या से आराम मिल सकता है। यह मांसपेशियों में आए तनाव को दूर करने के साथ मल को ढीला करने में मददगार हो सकता है। ध्यान रखें मसाज हल्के हाथों से ही करें।

5. इन बातों का रखें ध्यान

प्रेग्नेंसी में कब्ज
गर्भावस्था में पानी
  • कब्ज की समस्या से राहत पाने के लिए फाइबर को अहम माना जाता है। गर्भवती महिलाएं अपने आहार में ज्यादा से ज्याद फाइबर युक्त चीजों को शामिल करें। पेट को साफ करने व मल त्याग में आसानी के लिए फाइबर सहायक भूमिका निभाता है। फाइबर फूड के तौर पर आप दलिया, नाशपाती, संतरा, बादाम, रास्पबेरी, मसूर की दाल आदि का सेवन कर सकती हैं।
  • कब्ज से बचाव के लिए दिनभर पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं। इससे गर्भवती हाइड्रेट तो रहेंगी साथ ही बाउल मूवमेंट में आसानी होगी।
  • प्रेग्नेंसी के दौरान थोड़ा बहुत खुद को एक्टिव रखें। आप जितनी एक्टिव रहेंगी आपको मल त्याग में कम परेशानी होगी। चाहें तो अपने चिकित्सक से परामर्श लेने के बाद रोजाना एक्सरसाइज या योग कर सकती हैं।

उम्मीद करते हैं इस लेख में प्रेग्नेंसी में कब्ज की समस्या को दूर करने के लिए दिए गए घरेलू नुस्खे आपके काम आएंगे। लेख में दिए गए उपायों के बाद भी कब्ज की समस्या में किसी तरह का आराम नहीं मिलता है, तो डॉक्टर से परामर्श करना बेहतर होगा। अगर आपके फ्रेंड सर्कल में कोई प्रेग्नेंट है, तो उनके साथ इस लेख को जरूर शेयर करें।

चित्र स्रोत: Freepik

20 May 2022

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text