home / पैरेंटिंग
प्रेग्नेंसी में एक्ने

प्रेग्नेंसी में एक्ने का कारगर इलाज है ग्रीन टी, जानें इस्तेमाल करने का तरीका

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को त्वचा संबंधित कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इनमें से एक है एक्ने, जो शरीर में हार्मोन्स में होने वाले बदलाव के कारण होते हैं। किसी महिला को अपने चेहरे पर एक्ने पसंद नहीं होते। लेकिन महिला के जीवन में यह ऐसा समय होता है, जब उन्हें एक्ने के लिए कोई दवा या किसी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करने की आजादी नहीं होती है। यदि आप भी प्रेग्नेंसी के दौरान एक्ने से परेशान हैं, तो ग्रीन टी से इसे दूर किया जा सकता है। इस लेख में प्रेग्नेंसी में एक्ने के लिए ग्रीन टी कैसे फायदेमंद है, इसके बारे में जानेंगे। साथ ही इसके इस्तेमाल से जुड़ी जानकारी साझा करेंगे। 

प्रेग्नेंसी में एक्ने की समस्या क्यों होती है? ( Pimples during Pregnancy in Hindi)

प्रेग्नेंसी में एक्ने की समस्या होना बहुत आम है। इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं, जिनके बारे में नीचे विस्तार से बता रहे हैं:

  • गर्भावस्था के दौरान महिला के शरीर में हार्मोन्स के स्तर में कई उतार-चढ़ाव होते हैं। इस वजह से कुछ महिलाओं में पिंपल्स की सम्या होती है।
  • कुछ महिलाओं को प्रेग्नेंसी में एक्ने हेरेडिटरी यानी आनुवांशिक हो सकती है।
  • प्रेग्नेंसी में खाई जाने वाली दवाओं के कारण भी कई दफा एक्ने हो सकते हैं।
  • गर्भवती को अलग-अलग चीजों की क्रेविंग होती है। ऐसे में अधिक जंक फूड और फ्राइड फूड का सेवन करना भी चेहरे पर पिंपल्स का कारण बन सकते हैं।
  • कुछ महिलाएं गर्भावस्था को लेकर काफी तनाव में रहती हैं। ऐसा पहली बार माँ बनने वाली महिलाओं में ज्यादा देखने को मिलता है। स्ट्रेस भी पिंपल्स के मुख्य कारणों में से एक है।

प्रेग्नेंसी में एक्ने की समस्या के लिए कैसे फायदेमंद है ग्रीन टी? ( Green Tea Beneficial for Pregnancy Acne in Hindi)

प्रेग्नेंसी में पिंपल्स
ग्रीन टी

प्रेग्नेंसी में एक्ने की परेशानी के लिए ग्रीन टी लाभकारी है, इसकी पुष्टि कई शोध में की गई है। एनसीबीआई पर उपलब्ध एक शोध की मानें तो, ग्रीन टी में पॉलीफेनॉल कंपाउंड होता है। यह ऑयली स्किन से निकलने वाले सीबम के उत्पादन को  नियंत्रित कर एक्ने होने से रोकता है। इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल प्रभाव त्वचा पर बैक्टीरिया को पनपने से रोकता है।

वहीं, एक अन्य शोध में ग्रीन टी लोशन को एक्ने के लिए प्रभावी पाया गया है। वहीं, ग्रीन टी का इस्तेमाल प्रेग्नेंसी के दौरान सुरक्षित माना जाता है। इस आधार पर गर्भावस्था में पिंपल्स की समस्या के लिए उपयोगी कहना गलत नहीं होगा।  

प्रेग्नेंसी में पिंपल्स को दूर करने के लिए ग्रीन टी का इस्तेमाल कैसे करें? (Tips to Use Green Tea for Pregnancy Acne in Hindi)

गर्भावस्था में पिंपल्स की परेशानी के लिए ग्रीन टी का इस्तेमाल कैसे करें, नीचे इससे जुड़ी जानकारी दे रहे हैं:

1. ग्रीन टी टोनर

सामग्री:

  • एक स्प्रे बोतल
  • आधा कप पानी
  • एक ग्रीन टी बैग
  • दो चम्मच गुलाब जल

इस्तेमाल करने का तरीका:

  • सबसे पहले एक बाउल में पानी उबालने रखें।
  • इसमें ग्रीन टी डालकर 5 मिनट उबालें।
  • अब इसे ठंडा होने पर छान लें।
  • इसमें गुलाब जल मिलाएं और स्प्रे बोतल में भरकर फ्रिज में स्टोर करें।
  • दिन में दो दफा चेहरे को साफ करके इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

2. एलोवेरा और ग्रीन टी

प्रेग्नेंसी में एक्ने
एलोवेरा जेल

सामग्री:

  • आधा कप पानी
  • 1 चम्मच एलोवेरा जेल
  • 1 ग्रीन टी बैग
  • कॉटन

इस्तेमाल करने का तरीका:

  • एक पैन में एक कप पानी गर्म करें। 
  • इसमें ग्रीन टी के पैकेट को भिगोकर रखें।
  • ठंडा हो जाने पर पानी में एलोवेरा जेल मिलाएं।
  • इसे एक कांच के जार में भरकर फ्रिज में स्टोर करके रखें।
  • दिन में एक बार कॉटन की मदद से इसे चेहरे व गर्दन पर लगाएं।
  • 15-20 मिनट में फेस वॉश कर लें।

गर्भावस्था में एक्ने की समस्या के लिए ग्रीन टी युक्त प्रोडक्ट्स

प्रेग्नेंसी में एक्ने के लिए ग्रीन टी का इस्तेमाल कैसे करना है, यह तो आप जान ही चुके हैं। इसके अलवा, ग्रीन टी युक्त स्किन केयर प्रोडक्ट्स का प्रयोग भी किया जा सकता है। वैसे तो बाजार में आपको त्वचा के लिए ग्रीन टी युक्त कई उत्पाद मिल जाएंगे। लेकिन उनमें कुछ ऐसे पदार्थ भी हो सकते हैं, जिनका इस्तेमाल गर्भावस्था में सुरक्षित नहीं होता है। 

प्रेग्नेंसी में स्किन केयर उत्पाद खरीदने से पहले उसमें मौजूद इंग्रीडिएंट्स पर गौर जरूर करें। नीचे हम कुछ ऐसे उत्पादों की जानकारी दे रहे हैं, जो एक्ने प्रोन स्किन के लिए उपयोगी तो हैं। साथ ही इनका इस्तेमाल प्रेग्नेंसी में भी सुरक्षित है।

1. नेचुरल ग्रीन टी फेस क्रीम

‘द मॉम्स को’ कंपनी द्वारा उत्पादित नैचुरल ग्रीन टी फेस क्रीम को ग्रीन टी, एलोवेरा, स्कवालेन, नियासिनामाइड, विल्लो बार्क से तैयार किया गया है। यह एक्ने से राहत दिलाने के साथ त्वचा को चमकदार बनाती है। साथ ही ओपन पोर्स को ब्लॉक होने से रोकती है। कंपनी का दावा है कि इस क्रीम के इस्तेमाल से 79 प्रतिशत महिलाओं को एक्ने की समस्या से आराम मिला और 72 प्रतिशत महिलाओं के एक्ने स्कार्स कम हुए।

2. नेचुरल ग्रीन टी फेस वॉश

ऑयली स्किन के लिए जेल बेस्ड फेस वॉश का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। ऐसे में ‘द मॉम्स को’ का नैचुरल ग्रीन टी फेस वॉश बेहत ऑप्शन हो सकता है। यह त्वचा से अतिरिक्त ऑयल को साफ कर एक्ने को नियंत्रित करता है। साथ ही यह फेस वॉश प्रेग्नेंसी सेफ होने के साथ डर्मेटोलॉजिस्ट टेस्टेड है।

3. नेचुरल ग्रीन टी फेस टोनर

एक्ने प्रोन स्किन के लिए टोनर को उपयोगी माना जाता है। यह फेस टोनर एल्कोहॉल फ्री है। इसमें मौजूद ग्रीन टी और एप्पल साइडर विनेगर त्वचा पर ऑयल के उत्पादन को नियंत्रित कर एक्ने को कम करता है। साथ ही इसमें एलोवेरा और खीरा है, जो त्वचा को एक्फोलिएट कर पोर्स को टाइट करने में सहायक भूमिका निभाते हैं।

प्रेग्नेंसी में पिंपल्स हो रहे हैं, तो अब आपको इसे लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं है। मुंहासों के लिए ग्रीन टी वरदान समान माना जाता है, लेकिन इसका इस्तेमाल करने से पहले एक बार पैच टेस्ट जरूर करें। हो सकता है कुछ महिलाओं को यह फायदा न पहुंचाएं। उम्मीद करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। गर्भावस्था से जुड़ी इस तरह की जानकारी हासिल करने के लिए हमारे अन्य लेख जरूर पढ़ें।

चित्र स्रोत : Freepik/Pexel

08 Jun 2022

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text