home / ब्यूटी
क्या बॉडी फर्मिंग क्रीम सही में स्किन को टाइट करने में करती हैं मदद? जानें

क्या बॉडी फर्मिंग क्रीम सही में स्किन को टाइट करने में करती हैं मदद? जानें

जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, वैसे-वैसे हमारी त्वचा की उम्र भी बढ़ती है लेकिन हमारा अधिक ध्यान चेहरे पर दिखने वाली झुर्रियों और फाइनलाइन पर जाता है लेकिन ये हमें यह भी बताता है कि हमारे पूरे शरीर की त्वचा को भी उतनी ही केयर की जरूरत है। जीवनशैली में बदलाव होने या फिर उम्र बढ़ने के कारण, पेट और जांघों की त्वचा ढीली होने लगती है और इस वजह से स्किन फर्मिंग क्रीम का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन क्या ये क्रीम सही में काम करती हैं? आपको इसके बारे में विस्तार से बताते हैं। 

फर्मिंग क्रीम के पीछे का विज्ञान

लोग अक्सर ही अपने शरीर के कुछ हिस्सों पर ढीली त्वचा या फिर डिंपल्ड अपीयरेंस महसूस कर लेते हैं। आमतौर पर ये जांघ, हिप्स और पेट पर दिखाई देती है। हालांकि, यहां आपको बता दें कि त्वचा का ढीला दिखने के पीछ कई सारे कारण हो सकते हैं लेकिन सबसे सामान्य कारण इनमें उम्र का बढ़ना होता है। हमारी त्वचा में नैचुरली मौजूद कोलाजन कम होने लगता है।

दरअसल, हमारी त्वचा कोलाजन से बनी होती है, जो एक तरह का प्रोटीन होता है और हमारी स्किन को टाइट रखने में मदद करता है। इन प्रोटीन की मदद से त्वचा की इलास्टिसिटी, सपलनेस, टाइटनेस या वॉल्यूम आदि बनी रहती है। लेकिन समय के साथ कोलाजन बनाने वाले प्रोटीन कम हो जाते हैं, जिसे एजिंग कहते हैं।  

इस वजह से आज के समय में आपको मार्केट में कई तरह की क्रीम, सीरम और ऑय मिल जाएंगे। लेकिन क्या ये सही में त्वचा को स्मूथ और टाइट करने में मदद करते हैं? आमतौर पर फर्मिंग क्रीम, त्वचा को हाइड्रेट और फर्म करने का काम करती हैं। जब इनमें बूस्ट कोलाजन या फिर एलास्टिन का इस्तेमाल किया जाता है तो तो आपकी त्वचा टाइट होती है क्योंकि कोलाजन स्किन को बाइंड करने का काम करता है और इसे कम सैगी या झुर्रियों वाला दिखाता है।

कितनी असरदार हैं फर्मिंग क्रीम

अपनी स्किन को नरिशिंग एजेंट से फीड करना आपके लिए अच्छा ही होगा और यदि कोई फर्मिंग क्रीम सही में दावा करती है तो आपको एक बार उसे ट्राई जरूर करना चाहिए। एक ओर जहां टॉपिकल क्रीम कुछ हद तक त्वचा को टाइट करने में मदद करती है लेकिन फिर भी आप इस तरह की क्रीम का इस्तेमाल करने से पहले एक बार डर्मटलॉजिस्ट से संपर्क कर लें। 

आप चाहें तो इसके लिए क्लीनिकल ट्रीटमेंट भी ले सकते हैं, जो कोलाजन बूस्ट करते हैं, फैट कम करते हैं और स्किन टाइटनिंग में मदद करते हैं। ये टॉपिकल प्रोडक्ट्स से अधिक लाभकारी होते हैं और त्वचा के लिए भी अच्छे होते हैं। 

हालांकि, यदि आप क्लिनिकल ट्रीटमेंट नहीं चाहते हैं तो ऐसे ही किसी भी फर्मिंग क्रीम का इस्तेमाल ना करें और यदि आप ऐसा करते हैं तो क्रीम से बहुत अधिक उम्मीद ना रखें। दरअसल, इस तरह की क्रीम ट्रीटमेंट के दौरान आपकी स्किन को टाइट करने में मदद करती हैं और पूरी तरह से स्किन टाइटनिंग में मदद नहीं करती हैं। 

POPxo की सलाह: MyGlamm की ग्लो स्किनकेयर रेंज के साथ रखें अपनी त्वचा का ख्याल।

15 Sep 2021

Read More

read more articles like this

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text