home / Festival
विजयदशमी पर आप भी करें वास्तुशास्त्र के ये उपाय, दूर होगा घर का अभाग्य

विजयदशमी पर आप भी करें वास्तुशास्त्र के ये उपाय, दूर होगा घर का अभाग्य

हिंदू धर्म में दशहरा का त्योहार बहुत ही अहम माना जाता है। इस दिन को असत्य पर सत्य के प्रतीक के रूप में जाना जाता है। विजयदशमी के मौके पर लोग अस्त्र-शस्त्र की भी पूजा करते हैं। दशहरा या फिर विजयदशमी का यह पर्व हर साल अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी को मनाया जाता है। साल 2021 में यह त्योहार 15 अक्टूबर को मनाया जाएगा।

यह त्योहार, शारदीय नवरात्रि के दसवें दिन रावण और महिषासुर के वध के उपलक्ष में मनाया जाता है। माना जाता है कि इस दिन विजय मुहूर्त में शुरू किया गया काम हमेशा लाभकारी होता है। वास्तुशास्त्र के मुताबिक, यदि आप दशहरा के मौके पर घर में सुख-शांति और समृद्धि के लिए ये खास उपाय करते हैं तो आपको बहुत ही लाभ मिलता है- 

vijay dashmi kab hai

– दशहरा पर नीलकण्ठ पक्षी का दर्शन करना बहुत ही शुभ माना जाता है क्योंकि इसका संबंध सीधे प्रभु शिव से होता है। इनके दर्शन से आपके सौभाग्य का द्वार खुल जाता है और साथ ही धन का आगमन शुरू हो जाता है।

– विजय दशमी के दिन शुभ मुहूर्त में अस्त्र-शस्त्र की पूजा करना भी शुभ माना जाता है। माना जाता है कि इस समय अस्त्र-शस्त्र के पूजन से आपको शत्रु पर विजय मिलती है।

– दशहरा के दिन पूजा करने में शमी का बहुत अधिक महत्व माना जाता है। माना जाता है कि इस दिन पूजा के दौरान शमी के पत्ते को अर्पित करने से आर्थिक लाभ होता है और घर परिवार की कंगाली में कमी आती है।

– दशहरा के मौके पर पूजा स्थल पर शमी की जड़ के पास की मिट्टी को घर में रखने से बुरी शक्कियों का असर खत्म हो जाता है।

– विजयदशमी पर ईशान कोण में रोली, कुमकुम या फिर लाल रंग के फूलों से रंगोली या अष्टकमल की आकृति बनाएं। इससे देवी मां प्रसन्न होती हैं और धन आने लगता है।

– दशहरा के दिन शमी के पेड़ के नीचे दीपक जलाना भी शुभ माना जाता है। माना जाता है कि ऐसा करने से सफलता का मार्ग खुल जाता है। 

POPxo की सलाह: MyGlamm की ग्लो स्किनकेयर रेंज के साथ रखें अपनी त्वचा का ख्याल।

यह भी पढ़ें:
दशहरा की शुभकामनाएं 2022

14 Oct 2021

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text