एंटरटेनमेंट

‘धड़क’ की सफलता के बाद नेपोटिज़्म पर बढ़ी बहस, जानें इन स्टार किड्स की सोच

Richa KulshresthaRicha Kulshrestha  |  Jul 24, 2018
‘धड़क’ की सफलता के बाद नेपोटिज़्म पर बढ़ी बहस, जानें इन स्टार किड्स की सोच

फिल्म ‘धड़क’ के बॉक्सऑफिस पर हिट होने के साथ ही बॉलीवुड में नेपोटिज़्म यानि वंशवाद को बढ़ावा देने वाली बहस और भी तेज हो गई है। ‘धड़क’ के निर्माता करण जौहर पर पहले वरुण धवन, आलिया भट्ट और अब जाह्नवी कपूर और ईशान खट्टर जैसे स्टार किड्स को लॉन्च करके वंशवाद बढ़ाने को लेकर आरोप लगते रहे हैं। हालांकि करण जौहर पर नेपोटिज़्म के आरोपों से बेअसर हैं और उन्होंने अपनी अगली फिल्म ‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2’ में भी चंकी पांडे की बेटी अनन्या पांडे को कास्ट कर लिया है।

कंगना रणावत ने उठाया था मुद्दा

Kangna

आपको बता दें कि करण जौहर के ही शो ‘कॉफी विद करण’ में बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रणावत ने बॉलीवुड में नेपोटिज़्म होने को लेकर सवाल खड़ा करते हुए कहा था कि इंडस्ट्री में बाहर से आने वालों को अक्सर नेपोटिज़्म की वजह से भेदभाव का अनुभव होता है, क्योंकि आउटसाइडर को इंडस्ट्री के रिवाज मालूम नहीं होते है। गाइडेंस नहीं होने से दिक्कतें बढ़ जाती है। खुद संघर्ष करके मुकाम बनाना पड़ता है।

करण जौहर ने नेपोटिज़्म को कहा आसान जरिया

Karan Jauhar

कंगना रणावत के करण जौहर को नेपोटिज़्म का झंडाबरदार कहने से उनके और करण जौहर के बीच खासी लड़ाई हो गई थी। इस पर करण जौहर ने लिखा था कि फिल्म इंडस्ट्री में वंशवाद वास्तविकता है। यह एक आसान जरिया है मुश्किल जगह तक पहुंचने का। मैं मानता हूं कि मेरे पिता एक प्रोड्यूसर थे और उन्होंने मेरी पहली फिल्म बनाई।

जाह्नवी ने कहा, दोगुनी मेहनत करनी होगी

Janhavi

धड़क की एक्ट्रेस और श्रीदेवी की बेटी जाह्नवी कपूर ने नेपोटिज़्म पर कहा कि वो अच्छी तरह जानती हूं कि उन्हें इस वजह से अब दोगुनी मेहनत करनी होगी क्योंकि वो एक फिल्मी हस्ती की बेटी हैं और इसीलिए अपनी जिम्मेदारी समझती हैं। जो लोग फिल्म परिवार से नहीं हैं, उन्हें लगता है कि उनसे यह मौका छीना गया है। उन्होंने कहा कि उन्हें जो मौका मिला है, वो उसका गलत फायदा नहीं उठाएंगी।

ईशान खट्टर ने कहा अपनी- अपनी किस्मत

Ishan Khattar

‘धड़क’ के एक्टर ईशान खट्टर ने नेपोटिज़्म के सवाल पर स्टारकिड्स का बचाव करते हुए कहा कि हर किसी का अपना-अपना सफर होता है और अपनी-अपनी किस्मत। आपके अंदर काम के प्रति लगन होनी चाहिए। यह सिर्फ बाहर से आने वालों के लिए ही नहीं बल्कि हमारे लिए भी मुश्किल है। स्टारडम बनाने के लिए हर किसी को काम पर ध्यान देना होता है।  

आलिया ने स्वीकार किया नेपोटिज़्म

Alia Bhatt

बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में नेपोटिज़्म यानि वंशवाद होने की बात को स्वीकार करते हुए एक्ट्रेस आलिया भट्ट ने अब कहा है कि बॉलीवुड इंडस्ट्री में नेपोटिज़्म काफी ज्यादा होता है। यह एक तरह से इमोशनल बहस है, क्योंकि जिन लोगों का कोई इस इंडस्ट्री में नहीं है, उनके लिए यहां टिकना काफी मुश्किल होता है। ऐसे में अगर मैं उनकी जगह होती तो मेरा दिल टूट चुका होता। लेकिन इसके साथ ही यह भी है कि इंडस्ट्री में सफल होने का कोई फिक्स फंडा नहीं है। यहां सफल होने  के लिए आपके अंदर वो एक्स फैक्टर होना चाहिए, जिसके बारे में लोग बात कर सकें। 

करीना का मानना है कि हर जगह है नेपोटिज़्म

Screenshot %28165%29 6193568

करीना कपूर ने वंशवाद पर कहा कि अगर इंडस्ट्री में रणबीर कपूर हैं तो रणवीर सिंह भीं है और आलिया भट्ट हैं तो कंगना रणावत भी हैं। करीना ने कहा कि हर फील्ड में नेपोटिज़्म है लेकिन वहां कोई कुछ कोई नहीं कहता। बिजनेस फैमिलीज में बेटा बिजनेस टेकओवर करता है। एक नेता का बेटा उसके जगह मंत्री बनता है, लेकिन वहां किसी को नेपोटिज़्म नहीं दिखता, सिर्फ फिल्म इंडस्ट्री में यह बहस हो रही है।

अथिया को नेपोटिज़्म से हुआ नुकसान

Athia Shetty

सुनील शेट्टी की बेटी आथिया शेट्टी ने कहा कि स्टार किड होने के फायदे और नुकसान दोनों हैं। हमें फिल्म उद्योग और मीडिया से जो प्यार और प्रशंसा मिलती है उसकी वजह मेरे पापा हैं।” 2015 में ‘हीरो’ से मेरे करियर की शुरुआत का लोग इंतजार कर रहे थे, लेकिन मुझे स्टार किड होने का सबसे बड़ा नुकसान रहा कि मुझे वंशवाद की वजह से बहुत आलोचना का सामना करना पड़ा।

अनुष्का ने किया आदित्य चोपड़ा का धन्यवाद

Anushka sharma

बॉलीवुड एक्ट्रेस अनुष्का चोपड़ा ने कहा कि उन्हें इंडस्ट्री में नेपोटिज़्म का अनुभव नहीं हुआ, लेकिन इसके साथ ही वो आदित्य चोपड़ा का धन्यवाद करते हुए कहती हैं कि सिर्फ उनकी ही वजह से वो इंडस्ट्री में इस मुकाम पर हैं, क्योंकि उन्होंने ही उन्हें एक बड़ी फिल्म में लॉन्च किया है। इसी तरह आदित्य चोपड़ा ने रणवीर सिंह और परिणीति चोपड़ा को भी गैर- फिल्मी बैकग्राउंड से होने के बावजूद लॉन्च किया और ये दोनों ही इंडस्ट्री में सफल हुए हैं।

बॉबी दयोल ने कहा कि इस वजह से ज्यादा उम्मीदें

Bobby Deol

बॉबी दयोल ने नेपोटिज़्म पर बिलकुल अलग बात कही। उनका कहना था कि उनके पिता ने इस इंडस्ट्री में जमने के लिए बहुत मेहनत की लेकिन उनके बच्चे होने की वजह से उनसे काफी ज्यादा उम्मीदें लगाई जाती हैं और उनके लिए सफलता कहीं ज्यादा मुश्किल हो जाती है।

इमरान ने खुद को बताया नेपोटिज़्म की उपज

Imran Hashmi

एक्टर इमरान हाशमी ने भी खुद को नेपोटिज़्म की ही उपज बताते हुए कहा कि वो आज जो कुछ भी हैं सिर्फ नेपोटिज़्म की वजह से हैं। इमरान हाशमी का कहना था कि यदि उनके मामा महेश भट्ट उन्हें मौका ना देते तो वो कभी एक्टर नहीं बन सकते थे। इमरान ने बताया कि वो तो फिल्मों में आना ही नहीं चाहते थे लेकिन कॉलेज खत्म होते ही उनके मामा महेश भट्ट ने उन्हें फिल्म का प्रपोजल दिया और वो फिल्मों में आ गए।

आपके लिए खुशखबरी! POPxo शॉप से कीजिए अपने पसंदीदा समान की शॉपिंग और वो भी 30% की छूट के साथ। यह ऑफर सिर्फ 30 जुलाई तक ही मान्य है। POPXO SHOP पर जाएं और POPXO30 कोड के साथ पाएं आकर्षक छूट।

इन्हें भी देखें –

शाहिद कपूर और मीरा कपूर ने खरीदा 56 करोड़ का नया लग्ज़री अपार्टमेंट, देखें वीडियो

शादी के बाद विराट और अनुष्का का आशियाना होगा मुंबई का यह शानदार अपार्टमेंट

रणबीर कपूर कितनी मुश्किलें झेलकर बन पाए ‘संजू’ के संजय दत्त, देखें वीडियो