home / xSEO
Snake Gourd in Hindi - चिचिंडा खाने के फायदे - Snake Gourd Benefits in Hindi

जानिए चिचिंडा खाने के फायदे और नुकसान – Snake Gourd Benefits & Side Effects in Hindi

चिचिंडा एक ऐसी सब्जी है, जो कई भारतीय घरों में खाई जाती है। इसे अंग्रेजी में स्नेक गार्ड (snake gourd in hindi) तेलुगु में पोटलाकाया, बंगाली में चिचिंगा, तमिल में पुडलंकाई और मलयालम में पदवलंगा जैसे कई स्थानीय नामों से जाना जाता है। वहीं इसका वैज्ञानिक नाम ट्राइकोसैंथेस कुकुमेरिना है। हरे रंग की इस सब्जी की अच्छाई प्राचीन काल से ही इसके महत्वपूर्ण औषधीय महत्व के लिए जानी जाती रही है और आयुर्वेदिक ग्रंथों में इसका व्यापक रूप से उल्लेख किया गया है। भारत, श्रीलंका, चीन, नेपाल और इंडोनेशिया जैसे दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों के साथ-साथ ऑस्ट्रेलिया के गर्म दक्षिणी क्षेत्रों में भी चिचिंडा प्राकृतिक रूप से जंगल में उगती है। हम यहां आपको चिचिंडा खाने के फायदे (snake gourd benefits in hindi) के बारे में बता रहे हैं। मगर उससे पहले जान लेते हैं कि चिचिंडा की सब्जी (chichinda ki sabji) में कौन-कौन से आवश्यक पोषक तत्व पाए जाते हैं। स्पिरुलिना के फायदे और नुकसान

चिचिंडा में मौजूद पौषिक तत्व – Nutritions of Snake Gourds in Hindi 

Snake Gourds in Hindi - चिचिंडा

चिचिंडा को आमतौर पर एक सब्जी माना जाता है, जिसका उपयोग विभिन्न प्रकार के मुख्य भारतीय व्यंजन जैसे कूटू, करी, सब्जी और दाल को पकाने में किया जाता है। लौकी परिवार के अधिकांश वनस्पतियों की तरह, चिचिंडा की सब्जियां, बीज, पत्ते और रस के अर्क कार्बोहाइड्रेट, वसा, प्रोटीन और फाइबर, विटामिन ए, विटामिन बी 6, विटामिन सी और विटामिन ई, मिनरल्स, फेनोलिक्स और कुकुर्बिटासिन सहित कई महत्वपूर्ण यौगिकों से समृद्ध होते हैं।  इसके अलावा चिचिंडा  की जड़ों और रस का त्वचा और बालों की देखभाल में भी उपयोग होता है। 

चिचिंडा खाने के फायदे – Snake Gourd Benefits in Hindi 

चिचिंडा अपने कई स्वास्थ्य लाभों के लिए जाना जाता है और व्यापक रूप से भारत भर में लोकप्रिय स्थानीय व्यंजनों में शामिल किया गया है। यह पेट, लीवर और त्वचा की बीमारियों को कम करने के लिए जाना जाता है। मगर  चिचिंडा खाने के फायदे (snake gourd benefits in hindi) यहीं नहीं थमते। यह और भी कई शारीरिक बीमारियों को दूर करने और शरीर को स्वस्थ बनाने के काम आता है। चिचिंडा की सब्जी (chichinda ki sabji) आपको कई स्वस्थ लाभ प्रदान कर सकती है। व्हीटग्रास के फायदे

चिचिंडा खाने के फायदे - Snake Gourd Benefits in Hindi

वजन घटाए – Snake Gourd for Weight Loss in Hindi 

चिचिंडा, कैलोरी में कम और आवश्यक पोषक तत्वों से भरपूर होने के कारण, उन लोगों द्वारा नियमित रूप से लिया जा सकता है, जो वजन कम करने के बारे में सोच रहे हैं और अपनी डाइट का खास ख्याल रख रहे हैं। चिचिंडा डाइट से भरपूर फाइबर भी प्रदान करता है, जिसे पेट में आसानी से रखा जा सकता है यानी ये देर से पचता है। जिससे व्यक्ति लंबे समय तक भरा हुआ महसूस करता है। साथ ही यह तृष्णा को कम करता है और तेज गति से फैट बर्न करने में सहायता करता है। ऐश गार्ड के फायदे

दिल का ख्याल रखे – Snake Gourd for Healthy Heart in Hindi 

कोलेस्ट्रॉल की मात्रा न के बराबर होने के कारण, चिचिंडा की सब्जी दिल का पूरा ख्याल रखती है और दिल के स्वास्थ्य को भी बनाये रखती है। अपने दिल ख्याल रखने के लिए आप नियमित रूप से आहार में चिचिंडा सेवन कर सकते हैं। इतना ही नहीं चिचिंडा की सब्जी (snake gourd vegetable in hindi) हृदय से रक्त के संचार में सुधार करती है।

किडनी को डीटाॅक्स करे – Kidney Detox with Chichinda in Hindi 

चिचिंडा शरीर में उत्सर्जन प्रणाली के माध्यम से शरीर के वेस्ट और किडनी स्टोन को प्राकृतिक रूप से साफ करता है। यह किडनी के भीतर तरल पदार्थों के स्राव को बढ़ाता है, और वहां इकठ्ठा हुए विषाक्त पदार्थों से तुरंत छुटकारा दिलाता है। साथ ही, शरीर में आंतरिक अंगों के उचित जलयोजन की गारंटी देता है। चिचिंडा का रस किडनी और मूत्राशय के नियमित कार्यों में सहयोग करता है।

पाचन तंत्र सुधारे – Chichinda to Improve Digestion in Hindi 

चिचिंडा में एक महत्वपूर्ण फाइबर सामग्री होती है, जो भारी भोजन करने पर कब्ज, सूजन और पेट में ऐंठन को रोकने में मदद करती है। इसके अलावा, मल त्याग का अनियंत्रित होना आंत में किसी भी तरह की परेशानी का अनुभव करा सकता है। चिचिंडा की लेक्सेटिव प्रकृति मल त्याग को नियंत्रित करती है और इसकी वजह से होने वाली किसी भी परेशानी से निजात दिलाती है। 

अवसाद और बैचेनी में दे राहत – Chichinda Helps in Fighting Uneasiness in Hindi

चिचिंडा में कार्बनिक अमाइन और फ्लेवोनोइड जैसे एंटीऑक्सिडेंट का खजाना होता है, जो तंत्रिका तंत्र के कार्यों को बढ़ाने के लिए तालमेल में काम करते हैं और हानिकारक मुक्त कणों को हटाकर मस्तिष्क और तंत्रिका कोशिकाओं के ऑक्सीकरण को रोकते हैं। इसके अलावा, यह हरी सब्जी गैलिक एसिड से भरपूर होती है, जो लो मूड, तनाव, घबराहट, तनाव को कम करने के लिए मानसिक स्वास्थ्य बनाये रखती है और प्रभावी रूप से अवसाद और चिंता का इलाज करती हैं।

Chichinda for Fighting Uneasiness in Hindi

PCOS के लक्षणों को कम करे – Snake Gourd for PCOS in Hindi 

चिचिंडा मुख्य रूप से पानी से बना है, इस प्रकार यह शरीर के वजन को बनाए रखने और महिलाओं में पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम PCOS के लक्षणों को कम करने का काम करती है। जिन महिलाओं में PCOS के लक्षणों को नजर आते हैं उन्हें अपने दैनिक आहार में चिचिंडा को शामिल करना चाहिए, क्योंकि यह एक कम कैलोरी वाली सब्जी है, और वजन को बढ़ने से रोकते ही। 

डायबिटीज़ में फायदेमंद – Chichinda Diabetes Mein Faydemand 

चिचिंडा की सब्जी डायबिटीज़ में भी काफी फायदेमंद है। चिचिंडा के बीज में एंटीऑक्सिडेंट लाइकोपीन और बायोफ्लेवोनॉइड ग्लूकोसाइड की प्रचुर मात्रा होती है, जो मधुमेह रोगियों में उच्च रक्त शर्करा के स्तर को कम करने के अलावा इंसुलिन गतिविधि, अग्नाशयी बीटा कोशिकाओं में संश्लेषण में सुधार करते हैं।

पीलिया से लड़े – Snake Gourd Heals Jaundice in Hindi 

चिचिंडा की पत्तियों में कुकुर्बिटासिन नामक पदार्थ होते हैं, जो शरीर में रक्षा प्रणाली और लीवर फंक्शन को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसके अलावा, चिचिंडा के पत्तों में भी उल्लेखनीय मात्रा में विटामिन सी होता है, जो पीलिया से पीड़ित लोगों में इम्यून फंक्शन और एंटीऑक्सीडेंट क्षमता को बढ़ाता है। पीलिया के इलाज के लिए आयुर्वेदिक उपचार में धनिया के बीज के साथ चिचिंडा की पत्तियों को पीसकर दिन में दो बार इसका सेवन करना शामिल है।

जोड़ों की बीमारी में दे आराम – Chichinda for Joint Pain in Hindi 

एक प्रभावी एंटी इंफ्लेमेटरी होने के नाते, चिचिंडा का रस वास्तव में हड्डी और मांसपेशियों के दर्द को कम करता है और गठिया, ऑस्टियोपोरोसिस, गठिया और फ्रैक्चर जैसी परेशानियों से छुटकारा दिलाता है। इसके अलावा, यह हड्डियों को मजबूत करने वाले तीन आवश्यक मिनरल्स जैसे कैल्शियम, मैग्नीशियम और फॉस्फोरस से भरा होता है, जो बदले में हड्डियों के द्रव्यमान को बढ़ाता है और मांसपेशियों और जोड़ों में लचीली गति को फिर से हासिल करने में मदद करता है।

अनिद्रा में भी फायदेमंद – Snake Gourd for Insomnia in Hindi

चिचिंडा के रस में प्रमुख विटामिन बी 6 या पाइरिडोक्सिन सामग्री मस्तिष्क के कार्यों की निगरानी और तंत्रिका आवेगों के अबाधित संचालन की अनुमति देने में बहुत फायदेमंद है। इसलिए, अनिद्रा या नींद की गंभीर कमी के दौरान, एक गिलास चिचिंडा का रस न्यूरोट्रांसमीटर की गतिविधि को कम कर सकता है और नींद को बढ़ावा दे सकता है।

चिचिंडा खाने के नुकसान – Side Effects of Snake Gourd in Hindi 

चिचिंडा खाने के नुकसान - Side Effects of Snake Gourd in Hindi

हर चीज़ अपने फायदे और नुकसान के साथ ही आती है। चिचिंडा खाने के फायदे (snake gourd benefits in hindi) हैं तो चिचिंडा खाने के नुकसान भी हैं। चिचिंडा में कई महत्वपूर्ण ट्रेस मिनरल्स पाए जाते हैं। इसलिए, इसकी अत्यधिक खपत स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। वहीं हमेशा अपने स्थानीय बाजार या स्टोर से चिचिंडा की ताजा उपज ही खरीदें। यह सलाह इसलिए दी जाती है क्योंकि पुराने स्टॉक में कुछ संक्रामक एजेंट और कीटनाशक अवशेष मौजूद हो सकते हैं।

चिचिंडा खाने को लेकर पूछे जाने वाले सवाल-जवाब – Snake Gourd in hindi FAQ’s

सवाल- चिचिंडा को अंग्रेजी में क्या कहते है?

जवाब- चिचिंडा को अंग्रेजी में स्नेक गार्ड (Snake Gourd) कहते हैं। 

सवाल- चिचिंडा कैसे खाएं?

जवाब- आप चिचिंडा की सब्जी बनाकर या फिर चिचिंडा का रस निकालकर उसे जूस की तरह पी सकते हैं।

सवाल- चिचिंडा की तासीर कैसी होती है?

जवाब- चिचिंडा की तासीर ठंडी होती है।

अगर आपको यहां दिए गए चिचिंडा खाने के फायदे (snake gourd benefits in hindi) पसंद आए तो इन्हें अपने दोस्तों और परिवारजनों के साथ सेयर करना न भूलें। 

14 Oct 2021

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text