Advertisement

Hair Oils

Castor Oil in Hindi – अरंडी का तेल के फायदे

Deepali PorwalDeepali Porwal  |  Oct 5, 2018
कैस्टर ऑयल (अरंडी का तेल) के फायदे, Castor Oil ke Fayde

Advertisement

कैस्टर ऑयल (Castor Oil) यानी अरंडी का तेल सौंदर्य व स्वास्थ्य के लिहाज़ से काफी फायदेमंद माना जाता है। यह एक सुनहरे पीले रंग का तेल होता है। कैस्टर पौधे के बीज को दबाने से एक ठंडा व चिपचिपा पदार्थ निकलता है, जिससे इसका तेल बनाया जाता है। वैज्ञानिक भाषा में इसे रिसिनस कॉम्यूनिस (Risinus Communis) के तौर पर जाना जाता है। कैस्टर का पौधा सिर्फ भारत व अफ्रीका के कुछ खास जंगलों में ही पाया जाता है। कैस्टर ऑयल के इस्तेमाल से त्वचा व बालों की कई तरह की समस्याओं से आसानी से छुटकारा पाया जा सकता है। यह स्वास्थ्य के लिए भी किसी जड़ी- बूटी से कम नहीं है।

कैस्टर ऑयल इन हिंदी – What is Castor Oil in Hindi

कैस्टर ऑयल के फायदे – Castor Oil ke Fayde

कैस्टर ऑयल के उपयोग – Castor Oil Uses in Hindi

कैस्टर ऑयल के नुकसान – Arandi Oil ke Nuksan in Hindi

Castor oil benefits 

कैस्टर ऑयल इन हिंदी – What is Castor Oil in Hindi

यह रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाता है। शुष्क त्वचा में नमी लाने के साथ यह निखार भी लाता है। इसके इस्तेमाल से किसी भी प्रकार के संक्रमण से बचा जा सकता है। अरंडी के तेल ( Castor Oil ) में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंट-एजिंग व एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। भारत में अरंडी ऑयल को कई नामों से जाना जाता है, जैसे तेलगु में अमूदामू मराठी में इरादेंदा टेला आदि। ज्यादातर अरंडी ऑयल का स्तेमाल फंगल इन्फेक्शन, चेहरे के लिए मॉइस्चरज़र बनाने में होता है।

कैस्टर ऑयल के फायदे – Castor Oil ke Fayde

कैस्टर ऑयल में एंटी बैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण पाए जाते हैं। इन गुणों के कारण इसका प्रयोग सौंदर्य प्रसाधनों में किया जाने लगा है। केमिकल युक्त केमिकल उत्पादों का प्रयोग करने के बजाय नेचुरल कैस्टर ऑयल आपको त्वचा की कई समस्याओं से निजात दिला सकता है। चेहरे के साथ-साथ अरंडी का तेल बालों के लिए भी बहुत कारगर माना जाता है। तो चलिए आपको कास्टर ऑयल के बेनिफिट्स के बारे में बताते हैं।

कैस्टर ऑयल फॉर हेयर – Castor Oil for Hair in Hindi

काले, लंबे व घने बालों के लिए दादी मां के नुस्खों से लेकर डॉक्टर के परामर्श तक सभी आपको इसके इस्तेमाल का सुझाव देंगे। बालों की अत्यधिक केयर करने के बावजूद बदलती जीवनशैली और प्रदूषण की वजह से बालों की समस्याओं से जूझना आम बात हो गई है। मगर कैस्टर ऑयल की मदद से बालों की हर तरह की परेशानी से निजात पाया जा सकता है।

त्वचा का रूखापन हो दूर – Removes Dryness

त्वचा तीन प्रकार की होती है, रूखी, तैलीय और मिली जुली। ड्राई स्किन वालों के लिए अरंडी का तेल (arandi ka tel) किसी वरदान से कम नहीं है। अगर आप रूखी त्वचा से परेशान हैं तो कैस्टर ऑयल का इस्तेमाल करने से आपको काफी फायदा हो सकता है। इससे रूखी त्वचा में नमी की कमी नहीं रहती है। ड्राई स्किन वालों को नियमित अरंडी ऑयल का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके इस्तेमाल के लिए रूई को कैस्टर ऑयल में भिगोकर अपने चेहरे पर लगाएं। 1 घंटे तक लगाए रखने के बाद चेहरा धो लें।

खत्म करे मुंहासों की समस्या – Caster Oil for Acne in Hindi

आमतौर पर ऑयली स्किन या मुंहासों की समस्या से परेशान लोगों को किसी भी तेल का इस्तेमाल करने से मना किया जाता है। मगर अरंडी का तेल मुहांसों को कम करने में लाभदायक हो सकता है। अगर आपकी स्किन भी एक्ने (Acne) प्रोन है तो कैस्टर ऑयल का इस्तेमाल करने से कोई नुकसान नहीं होगा। अपने चेहरे को गर्म पानी से धो लें, जिससे कि चेहरे के पोर्स खुल जाए। फिर कैस्टर ऑयल को रात भर चेहरे पर लगाकर रखें और सुबह ठंडे पानी से चेहरा साफ कर लें।

मिटाए बढ़ती उम्र के निशान – Fights Signs of Aging

एंटी एजिंग तत्व के तौर पर भी अरंडी का तेल फायदेमंद माना जाता है। अगर इसका नियमित तौर पर प्रयोग किया जाए तो यह बढ़ती उम्र के निशानों को छिपाने में भी मदद करता है। यह स्किन को हाइड्रेट करता है, जिससे झुर्रियों (Wrinkles) की समस्या दूर होती है और त्वचा नरम, साफ व जवां नज़र आती है। कैस्टर ऑयल की कुछ बूंदों से चेहरे की मालिश कर रात भर के लिए छोड़ दें और सुबह होते ही पानी से धो लें। इससे एंटी एजिंग की परेशानी कम होगी।

ऑयल मसाज से बरकरार रहे चमक

बालों को लंबा, घना व उनकी कुदरती चमक को बरकरार रखने के लिए नियमित तौर पर कैस्टर ऑयल से सिर की मसाज करनी चाहिए। भारत में पाई जाने वाली बरडॉक की जड़ (Burdock plant) को अगर कैस्टर ऑयल के साथ मिलाकर बालों पर लगाया जाए तो बालों की खोई हुई चमक वापस आ सकती है।

कैस्टर ऑयल से रोके बालों का झड़ना

बालों का झड़ना (Hair Fall) अब एक आम समस्या है। बालों को झड़ने से रोकने के लिए मेथी के बीज के पाउडर में कैस्टर ऑयल मिलाकर एक पैक तैयार करें और हफ्ते में एक बार बालों पर लगाएं। इससे बालों की जड़ें मजबूत होती हैं और उनका गिरना कम हो जाता है।

पेट की चर्बी करे कम अरंडी का तेल

एक्सपर्ट्स का मानना है कि अगर डॉक्टर से सलाह कर के नियमित अरंडी के तेल का इस्तेमाल सही ढंग से किया जाए तो यह मात्र 10 से 15 दिन में पेट की चर्बी गायब कर सकता है। पेट की चर्बी दूर करने के लिए सुबह खाली पेट दो चम्मच अरंडी का तेल सेवन करना चाहिए। इस नुस्खे के इस्तेमाल से पहले एक बार अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

कैस्टर ऑयल के उपयोग – Castor Oil Uses in Hindi

  • आमतौर पर अरंडी का तेल उसके शुद्ध रूप में ही इस्तेमाल किया जाता है। मगर ऐसा नहीं है कि इसे दूसरे तेलों के साथ मिलाने से कोई नुकसान होता हो। ऐसे कई तेल है, जिसके साथ कैस्टर ऑयल को आसानी से मिक्स किया जा सकता है। तो चलिए आपको बताते हैं कैस्टर ऑयल के उपयोग के बारे में।
  • हेयर सीरम बनाने के लिए 3 चम्मच कैस्टर ऑयल और 1 चम्मच जोजोबा ऑयल (Jojoba oil) या आर्गन ऑयल (Argan oil) को मिलाएं। इस मिश्रण से 5 मिनट तक बालों की मसाज करें।
  • अरंडी के तेल और ऑलिव ऑयल को 1:3 के अनुपात (Ratio) में मिला लें। फिर इससे चेहरे की मसाज करें। त्वचा तैलीय हो तो ऑलिव ऑयल के बजाय जोजोबा ऑयल का प्रयोग करें। एंटी एजिंग के लिए यह कारगर है। 
  • हैंड क्रीम बनाने के लिए कैस्टर ऑयल और सीसम ऑयल (Sesame oil) यानी कि तिल के तेल को 1:1 के अनुपात में मिला लें। हाथों पर इस मिश्रण को लगाने से हाथ कोमल महसूस होने लगेंगे।

कैस्टर ऑयल के नुकसान – Arandi Oil ke Nuksan in Hindi

जैसे हर सिक्के के दो पहलू होते हैं, उसी तरह हर चीज़ के फायदे और नुकसान, दोनों होते हैं। माना कि कैस्टर ऑयल के बहुत फायदे हैं पर इसके साइड इफेक्ट्स को भी नकारा नहीं जा सकता है। अरंडी के तेल का इस्तेमाल करने से पहले उससे होने वाले नुकसान के बारे में भी जान लें।

1. त्वचा, आंखों या बालों पर कैस्टर ऑयल का इस्तेमाल करने से पहले इसका पैच टेस्ट ज़रूर कर लें। कुछ लोगों को इसके इस्तेमाल से रैशेज या एलर्जी भी हो जाती है। आप चाहें तो किसी एक्सपर्ट या डॉक्टर से सलाह मशवरा कर सकते हैं। 
2. कैस्टर ऑयल काफी गर्म होता है, इसके ज्यादा सेवन से दस्त की समस्या हो सकती है। इसका इस्तेमाल करने से पहले चिकित्सक की राय ज़रूर लें।
3. कैस्टर ऑयल का बहुत ज्यादा सेवन से पेट में ऐंठन, उल्टी, कमजोरी व चक्कर आने जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं।
4. गर्भवती महिलाओं को इसके सेवन से बचना चाहिए। स्तनपान करवाने वाली महिलाओं को भी चिकित्सा परामर्श के बाद ही इसका सेवन करना चाहिए।
5. कई ब्रांड लिपस्टिक (Lipstick) में कैस्टर ऑयल का इस्तेमाल करती हैं। अगर आपको कैस्टर ऑयल से एलर्जी हो तो लिपस्टिक का प्रयोग न करें।
6.अरंडी का तेल इस्तेमाल करने के बाद अगर सांस लेने में दिक्कत हो, त्वचा पर लाल चकत्ते, खुजली या सूजन जैसी दिक्कत महसूस हो रही हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

इनपुट्स : स्टार सलॉन अकैडमी की सेलिब्रिटी मेकअप आर्टिस्ट आशमीन मुंजाल, वीएलसीसी की वाइस प्रेसिडेंट (ब्यूटी) सत्या शर्मा, सीनियर कंसल्टेंट फिजीशियन डॉ. रतन कुमार वैश्य

ये भी पढ़ें –

फेस वॉश करते हुए कभी न भूलना ये 7 बातें – Simple Face Wash Tips

सोयाबीन तेल के उपयोग के स्वास्थ्य लाभ

बेर के स्वास्थ्य लाभ

त्वचा के लिए आर्गन ऑयल के फायदे

आई मेकअप के लिए बेस्ट प्राइमर