Advertisement

Diet

मसालों के औषधीय गुण, फायदे और नुकसान – Spices Benefit in Hindi

Deepali PorwalDeepali Porwal  |  Nov 22, 2019
मसालों के औषधीय गुण, फायदे और नुकसान  – Spices Benefit in Hindi

Advertisement

भारतीय खाने की जितनी तारीफ की जाए, कम ही है और हमारे खाने को स्वादिष्ट बनाते हैं हमारे विभिन्न मसाले (spices)। खाना पकाना एक कला है और इसमें परफेक्शन हासिल करने के लिए लगातार मेहनत करनी पड़ती है। सब्ज़ी बनाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले मसालों से दोस्ती कर उन्हें जानना और समझना पड़ता है। दाल और कढ़ी में तड़का लगाने के लिए भी सही मसालों के बारे में जानकारी होना बहुत ज़रूरी है। रसोई में पाए जाने वाले ये खास किस्म के मसाले न सिर्फ आपके खाने का स्वाद बढ़ाते हैं, बल्कि आपकी सेहत का खास ख्याल भी रखते हैं।

हालांकि ये बात भी सच है कि ज्यादातर लोगों को इस बात की विशेष जानकारी नहीं होगी, मगर हल्दी, जीरा, धनिया, मेथी और अजवाइन जैसे साधारण से नज़र आने वाले मसाले असल में बेहद गुणकारी होते हैं। जानिए, मसालों के औषधीय गुण से होने वाले स्वास्थ्य लाभ के बारे में।

मसालों के स्वास्थ्य लाभ – Health Benefits of Spices in Hindi

भारतीय मसालों के औषधीय गुण को नकारा नहीं जा सकता है। उनसे न सिर्फ खाने का स्वाद दोगुना होता है, बल्कि वे हमारे स्वास्थ्य का भी खास ख्याल रखते हैं।

दालचीनी के फायदे – Dalchini ke Fayde

अन्य मसालों के मुकाबले दालचीनी में एंटीऑक्सीडेंट्स की मात्रा सबसे अधिक होती है। सुगंधित मसाले दालचीनी का इस्तेमाल खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है। रसोई के अलावा कई तरह की आयुर्वेदिक और एलोपैथिक दवाइयों में भी दालचीनी का इस्तेमाल किया जाता है। जानिए इसके स्वास्थ्य (health) लाभ।

Dalchini ke Fayde

  1. दालचीनी में पाए जाने वाले औषधीय गुण कैंसर से बचाव करते हैं।
  2. यह मधुमेह को नियंत्रित करता है।
  3. यह मसाला आपके हृदय का विशेष ख्याल रखता है।
  4. दालचीनी से चाय भी बनाई जाती है, जिसका सेवन कर दिमाग की कार्यशीलता को बढ़ाया जा सकता है।
  5. दालचीनी के सेवन से कोलेस्ट्रॉल को कम किया जा सकता है।
  6. इसके पाउडर से गठिया के दर्द में राहत मिलती है।
  7. दालचीनी के सेवन से कोलन में सुधार होता है।
  8. सांस में हुए किसी भी तरह के संक्रमण को दूर करने में दालचीनी काफी सहायक साबित होती है।
  9. कई डॉक्टर्स मानसिक स्वास्थ्य बेहतर रखने के लिए भी दालचीनी के सेवन की सलाह देते हैं।
  10. पेट व मूड के खराब होने पर भी दालचीनी का सेवन फायदेमंद माना जाता है।

हल्दी के फायदे – Haldi ke Fayde

हल्दी एक चमत्कारी मसाला है और भारत में इसका प्रयोग लंबे समय से किया जा रहा है। कई आयुर्वेदिक और हर्बल दवाओं में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। हल्दी पाउडर (turmeric powder) के अलावा इसके पत्तों तक का उपयोग असरकारक माना जाता है। जानिए हल्दी के फायदे और सभी स्वास्थ्य लाभ।

Haldi ke Fayde

  1. इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए हल्दी का दूध पीना फायदेमंद माना जाता है।
  2. चोट लगने पर प्रभावित जगह पर हल्दी पाउडर (turmeric powder) लगाना व उसका सेवन करना भी लाभप्रद साबित होता है।
  3. हल्दी में कुरकुमिन नामक एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है, जो उम्र बढ़ने के प्रभावों को काफी हद तक कम करने में सहायक होता है।
  4. हल्दी के फायदे कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी मिलता है। 
  5. हल्दी एक प्राकृतिक लिवर डिटॉक्सिफायर है। हल्दी के फायदे लिवर को स्वस्थ रखने में भी होता है। इसलिए हल्दी का सेवन ज़रूर करना चाहिए।
  6. हल्दी के फायदे कैंसर के मरीजों को भी मिलता है।
  7. सूजन कम करने के लिए भी हल्दी का इस्तेमाल किया जाता है। 
  8. अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो खाना पकाते समय अन्य मसालों के साथ हल्दी का भी इस्तेमाल करें।
  9. पाचन क्रिया को बेहतर बनाने में हल्दी काफी मददगार साबित होती है।
  10. हल्दी का सेवन करने से अल्जाइमर्स रोग से भी बचाव होता है।

जीरा के फायदे – Jeera ke Fayde

मैग्नीशियम और आयरन के अच्छे स्त्रोत के तौर पर मशहूर जीरा का सेवन करने से ब्लड प्रेशर को नियंत्रित किया जा सकता है। जीरे को गर्भवती स्त्रियों के लिए भी बेहद फायदेमंद माना जाता है। जानिए, इससे जुड़े स्वास्थ्य लाभ।

Jeera ke Fayde

  1. रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए जीरे का इस्तेमाल किया जाता है।
  2. स्तनपान कराने वाली महिलाओं को जीरे का सेवन ज़रूर करना चाहिए।
  3. वजन घटाने में भी जीरा अहम भूमिका निभाता है।
  4. सांस की बीमारी को ठीक करने के लिए ज़ीरे का इस्तेमाल फायदेमंद माना जाता है।
  5. एनीमिया को दूर कर जीरा आपको ऊर्जावान रखता है।
  6. पाचन क्रिया को ठीक रखने के लिए जीरा पाउडर का सेवन किया जाना चाहिए।
  7. जीरे का पाउडर हड्डियों को स्वस्थ बनाता है।
  8. बेहद कम लोग जानते हैं कि जीरे की चाय पीने से अनिद्रा की समस्या दूर होती है।
  9. याददाश्त बढ़ाने के लिए जीरे का सेवन ज़रूर किया जाना चाहिए।
  10. डायबिटीज़ को कंट्रोल करने के लिए भी जीरे का इस्तेमाल किया जा सकता है।

जायफल के फायदे – Jayfal ke Fayde

सुगंधित और स्वाद में मीठे जायफल का इस्तेमाल हर घर में लगभग रोज़ाना किया जाता है। सर्दियों में तो खासतौर पर यह काफी फायदेमंद माना जाता है। जानिए, इसके सभी फायदे।

Jayfal ke Fayde

  1. जायफल का पाउडर शरीर में फाइबर की मात्रा को नियंत्रित रखता है, इसलिए पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने के लिए यह काफी उपयोगी माना जाता है।
  2. अगर आपके दांत में अक्सर दर्द रहता हो तो उस जगह पर जायफल का पाउडर लगाकर कुल्ला कर लें, फायदा मिलेगा।
  3. जायफल में मैग्नीशियम की मात्रा अधिक होती है, जिससे तनाव कम होता है और नींद संबंधी समस्या से निजात मिलती है।
  4. पलकों के चारों ओर जायफल का लेप लगाने से आंखों की रोशनी बढ़ाई जा सकती है।
  5. जायफल में ऐसे घटक मौजूद होते हैं, जिनसे दिमाग सामान्य और स्वस्थ बनता है।
  6. जायफल का प्रयोग करने पर 9 महीने की उम्र से ऊपर के बच्चों को सर्दी-जुकाम से राहत मिलती है।
  7. जायफल के पेस्ट से सिर और शरीर के जोड़ों में होने वाले दर्द में राहत मिलती है।
  8. गुणकारी जायफल में एंटीऑक्सिडेंट्स और सूजन कम करने वाले गुण पाए जाते हैं, जिनसे घावों और चोट के दर्द में आराम मिलता है।
  9. गले से संबंधित विकार दूर करने और आवाज़ की गुणवत्ता सुधारने के लिए जायफल के पाउडर का प्रयोग किया जाता है।
  10. त्वचा पर मौजूद ब्लैकहेड्स और एक्ने के निशान मिटाने के लिए चेहरे पर जायफल का लेप लगाया जाता है।
  11. अगर भूख कम लगती हो तो खाने में जायफल मिला लें। भूख न लगने की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा।

इलायची के फायदे – Elaichi ke Fayde

भोजन का ज़ायका व खुशबू बढ़ाने वाली इलायची विटामिंस और पोटैशियम, सल्फर, कैल्शियम, मैग्नीशियम जैसे मिनरल्स से ओत-प्रोत है। इन मसालों के औषधीय गुण और स्वास्थ्य लाभ जानकर आप हैरान रह जाएंगे।

Elaichi ke Fayde

  1. इलायची में पाई जाने वाली सुगंध मुंह से आने वाली दुर्गंध को दूर करने के साथ ही उन बीमारियों से भी लड़ने में मदद करती है, जो खराब सांस का कारण बन सकती हैं।
  2. इलायची के बीजों व पाउडर का सेवन करने से पाचन तंत्र दुरुस्त होता है।
  3. इलायची के सेवन से ब्लड प्रेशर कम होता है और किडनी में जमा यूरिया और कैल्शियम शरीर से बाहर निकल जाते हैं।
  4. अगर खाना खाने की इच्छा न करती हो तो इलायची के कुछ बीज चबाइए या इसके पाउडर का सेवन करिए, भूख लगने लगेगी।
  5. इलायची के सेवन से फेफड़ों के अंदर ब्लड सर्कुलेशन ठीक ढंग से होने लगता है। अस्थमा के मरीजों को इसका सेवन करना चाहिए।
  6. एंटीऑक्सीडेंट्स और मैंग्नीज़ के गुणों से भरपूर इलायची शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालकर उसे डीटॉक्सिफाई करती है।
  7. इलायची से हृदय स्वस्थ रहता है। यह ब्लड क्लॉट और स्ट्रोक जैसी गंभीर समस्याओं से बचाव करती है।
  8. इलायची के सेवन से एसिडिटी की समस्या खत्म होती है।
  9. इलायची में कैंसर से लड़ने वाले फाइटोकेमिकल्स पाए जाते हैं।
  10. इसका सेवन करने से थकान और कमजोरी जैसे एनीमिया के लक्षणों को कम करने में मदद मिलती है।

हींग के फायदे – Hing ke Fayde

हींग एक चिपचिपा पदार्थ है, जिसे फेरूला नाम की जड़ी-बूटी और कई अन्य किस्मों की जड़ों से निकाला जाता है। फेरूला की जड़ में ओलिओरेसिन नामक लैटेक्स मिलता है, जिसे सुखा कर हींग बनाई जाती है।

Hing ke Fayde

  1. हींग का सेवन करने से पीरयड्स के दर्द, अनियमित पीरियड्स और हेवी ब्लीडिंग जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है।
  2. हींग में एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जिनसे पेट संबंधित कई शिकायतें दूर होती हैं।
  3. हींग की मदद से दांतों के दर्द व अन्य संक्रमणों को दूर करने में मदद मिलती है।
  4. हींग का सेवन करने से सिर में रक्त वाहिकाओं की सूजन कम हो सकती है। इससे सिर दर्द में आराम मिलता है।
  5. बच्चों को गैस की समस्या या कोलिक दर्द होने की स्थिति में हींग काफी लाभदायक साबित होती है।
  6. अगर आपके मसूड़ों से खून निकलता हो तो भी हींग के सेवन से राहत मिल सकती है।
  7. मधुमक्खी या किसी जहरीले कीड़े के काटने से हो रहे दर्द और सूजन को भी हींग कम कर सकती है।
  8. हींग एक बेहद शक्तिशाली एंटी ऑक्सीडेंट है, जिसके सेवन से कैंसर का खतरा कम होता है।
  9. हींग के एंटी बायोटिक गुणों से कान के दर्द में आराम मिलता है।
  10. महिलाओं में होने वाली इनफर्टिलिटी को भी हींग के सेवन से ठीक किया जा सकता है।

काली मिर्च के फायदे – Kali Mirch ke Fayde

स्वाद में तीखी काली मिर्च को बेहतरीन एंटी ऑक्सीडेंट माना जाता है। यह स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभदायक मानी जाती है। जानिए काली मिर्च के फायदे।

 Kali Mirch ke Fayde

  1. काली मिर्च के सेवन से पेट में हाइड्रोक्लोरिक एसिड का स्त्राव बढ़ता है। इससे पाचन स्वस्थ होता है।
  2. काली मिर्च की तासीर गर्म होती है। इससे कफ व सर्दी-जुकाम में राहत मिलती है।
  3. इसमें मौजूद आयरन शरीर के लिए काफी उपयोगी माना जाता है।
  4. ब्लड प्रेशर हाई रहने की अवस्था में भी काली मिर्च का सेवन लाभप्रद होता है, क्योंकि यह ब्लड प्रेशर को लो करती है।
  5. काली मिर्च के फायदे गठिया के रोगियों को भी मिलता है। त्वचा पर काली मिर्च का तेल लगाने से गर्माहट मिलती है, जिससे ब्लड सर्कुलेशन ठीक होता है। इसके उपयोग से गठिया के दर्द में राहत मिलती है।
  6. काली मिर्च के फायदे पेट में जमा गैस को खत्म करने में भी मिलता है।
  7. पिपेरीन नामक केमिकल की मौजूदगी से काली मिर्च शरीर में विटामिन ए, सी और बीटा कैरोटीन जैसे पोषक तत्वों को बढ़ाती है।
  8. काली मिर्च की बाहरी परत में फाइटोन्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं, जो वसा कोशिकाओं को तोड़ने में काफी मदद करते हैं, जिससे आपका वजन कम हो सकता है।
  9. पिपेरीन की मदद से सेरोटोनिन का उत्पादन बढ़ता है, जो कि एक तरह का एंटी डिप्रेसेंट है। इससे मूड ठीक होता है और उदासी कम होती है।
  10. काली मिर्च के सेवन से अल्जाइमर्स के रोग को भी ठीक किया जा सकता है।

धनिया के फायदे – Dhaniya ke Fayde

हरे धनिए और धनिया पाउडर के बिना खाने का ज़ायका और खुशबू कुछ अधूरी रह जाती है। ये दोनों ही चीज़ें खाने के स्वाद के साथ ही हमारी सेहत के लिए भी वरदान साबित होती हैं। जानिए, धनिया पाउडर के हेल्थ (health) बेनेफिट्स

Dhaniya ke Fayde

  1. खाने में धनिया पाउडर के फायदे सेमोलिना बैक्टीरिया से बचाव में मिलता है। इस बैक्टीरिया के कारण फूड पॉइज़निंग होने की शिकायत हो सकती है।
  2. धनिया पाउडर के सेवन से दस्त, गैस, पेट दर्द और अपच की समस्या से निजात मिल सकती है।
  3. इसके सेवन से ब्लड शुगर का लेवल नियंत्रित रहता है।
  4. धनिया पाउडर के फायदे हॉर्मोंस को संतुलित रखने में भी मिलता है।
  5. अगर पेट में जलन की समस्या हो तो धनिया पाउडर में बेलगिरि, नागरमौठा और जीरा को समान मात्रा में मिलाकर एक चम्मच पानी के साथ पिएं।
  6. पेशाब न आने की समस्या होने पर धनिया पाउडर, गोखारो, पुनर्न्वा जड़, मिश्री और आंवला को समान मात्रा में मिलाकर बारीक पीस लें। इस चूरन का सुबह-शाम एक चम्मच सेवन करें, फायदा मिलेगा।
  7. कुछ भी खाते ही अगर तुरंत प्रेशर बनने लगता हो तो खाने के बाद एक चम्मच धनिया पाउडर में काला नमक मिलाकर फांक लें, काफी आराम मिलेगा।
  8. कुछ लोगों को अत्यधिक कमज़ोरी महसूस होती है और चक्कर भी आने लगते हैं। अगर आपके साथ भी ऐसा कुछ हो तो रात में 10 ग्राम धनिया पाउडर और 10 ग्राम ही आंवला पाउडर पानी में भिगो दें। सुबह पीने से राहत मिलेगी।
  9. धनिया पाउडर का सेवन करने से पेट को ठंडक मिलती है और पेट में मौजूद कीड़े और बैक्टीरिया मर जाते हैं।
  10. साबुत धनिया को रात भर भिगो कर रख दें। गर्मी के मौसम में इसे छान कर सुबह पी लें। रक्त बवासीर और नकसीर की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा।

राई के फायदे – Rai ke Fayde

सेहत के लिए राई के फायदे यह है कि इसमें विटामिन और कार्बोनिक केमिकल्स पाए जाते हैं। यह गेहूं के समान होता है। जानिए, इससे होने वाले फायदे।

राई के फायदे

  1. गेहूं छोटे अणुओं से बनता है, जिससे इंसुलिन के स्तर में बढ़ोतरी होती है, जबकि राई में छोटे अणु होते हैं, जिनसे ब्लड शुगर के लेवल पर कोई फर्क नहीं पड़ता है।
  2. राई में कैलोरी की मात्रा काफी कम होती है, जिससे राई के फायदे वजन घटाने में मिलता है। 
  3. राई का नियमित सेवन बचपन से ही अस्थमा होने की आशंका को काफी कम कर देता है।
  4. उच्च रक्तचाप से पीड़ित लोगों को अपनी डाइट में राई ज़रूर शामिल करनी चाहिए। 
  5. राई में मौजूद फाइबर गैस, पेट दर्द और ऐंठन की समस्या को दूर करते हैं।
  6. किडनी में स्टोन यानी पथरी होने की अवस्था में भी राई का सेवन फायदेमंद माना जाता है।
  7. राई के फायदे आर्थराइटिस और मांसपेशियों के दर्द से निजात दिलवाने में भी मिलता है।
  8. राई के सेवन से मेटाबॉलिज़्म कंट्रोल में रहता है।
  9. राई में मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट्स पेट के कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर और ब्रेस्ट कैंसर को रोकने में मदद करते हैं।
  10. राई के सेवन से अल्सर की समस्या को भी रोका जा सकता है।

गरम मसाला के फायदे – Garam Masala ke Fyade

10 से अधिक मसालों को मिलाकर बनने वाला गरम मसाला (garam masala) शरीर के लिए बेहद फायदेमंद साबित होता है। खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ ही यह पेट की समस्याओं को भी दूर करता है। जानिए इसके सभी फायदे।

Garam Masala ke Fyade

  1. इसके सेवन से पाचन क्रिया में सुधार होता है, जिससे कब्ज की समस्या से छुटकारा मिलता है।
  2. यह शरीर में बनने वाले टॉक्सिक पदार्थों के निर्माण को रोकता है।
  3. गरम मसाले में दालचीनी भी मौजूद होती है। यह डायबिटीज़ को रोकने में मदद करती है।
  4. गरम मसाला (garam masala) के सेवन से इंसुलिन हॉर्मोन की संवेदनशीलता में सुधार हो सकता है, जिससे ब्लड शुगर के लेवल को नियंत्रित किया जा सकता है।
  5. गरम मसाले में प्राकृतिक एंटी कैंसर पदार्थ पाए जाते हैं। 
  6. गरम मसाले के सेवन से ट्यूमर में भी कमी देखी गई है।
  7. यह धनिया के बीज, धनिया के पत्ते, छोटी इलायची, सफेद मिर्च, सोंठ (सूखे अदरक का पाउडर), दालचीनी, सेंधा नमक, कलौंजी, तेजपत्ता और हल्दी से मिलाकर बनाया जाता है, इसलिए इसमें इन सभी 10 मसालों के गुण पाए जाते हैं।

मसाले से होने वाले नुकसान – Side Effects of Spices in Hindi

मसालों के फायदे तो आपने जान लिए पर क्या आप जानते हैं कि इनका ज्यादा इस्तेमाल आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक भी साबित हो सकता है?

Side Effects of Spices in Hindi

  1. इसका अत्यधिक सेवन करने से बचना चाहिए, वर्ना लिवर को नुकसान पहुंच सकता है।
  2. कीमोथेरेपी के उपचार के दौरान हल्दी का सेवन करने से बचना चाहिए।
  3. जीरे का अधिक सेवन करने से गर्भवती महिलाओं को नुकसान पहुंच सकता है।
  4. अधिक मात्रा में जायफल का इस्तेमाल करने से बेचैनी व घबराहट की शिकायत हो सकती है।
  5. अगर आप किसी तरह की दवाई का सेवन कर रहे हैं तो उसके साथ इलायची खाना नुकसानदेह साबित हो सकता है।
  6. हींग के अत्यधिक सेवन से होंठों में असामान्य सूजन समेत कई समस्याएं हो सकती हैं।
  7. काली मिर्च का ज्यादा सेवन पाचन खराब कर सकता है।
  8. सीलिएक रोग से ग्रस्त लोगों को राई के सेवन से बचना चाहिए, क्योंकि यह ग्लूटेन अनाज में शामिल है।
  9. अगर आपको इनमें से किसी भी मसाले से एलर्जी है तो गरम मसाले (garam masala) के सेवन करने से बचें।

मसालों के बारे में पूछे जाने वाले सवाल जवाब (FAQ’s)

  1. क्या मसालों को डेयरी प्रोडक्ट्स में भी डाल सकते हैं?
    जी, बिल्कुल। दूध और दही में कुछ मसालों का प्रयोग किया जा सकता है।
  2. क्या किसी को मसाले से एलर्जी हो सकती है?
    हां, कुछ लोगों को कुछ खास मसालों से एलर्जी हो जाती है।
  3. क्या मसालों के सेवन से वजन भी घटाया जा सकता है?
    हां, मसालों के सेवन से वजन घटाने में मदद मिलती है।
  4. क्या मसालों का लेप भी बनाया जा सकता है?
    हां, घाव व सूजन होने की स्थिति में कुछ खास मसालों का लेप लगाया जा सकता है। हालांकि, इसके लिए डॉक्टर का परामर्श लेना बेहतर होगा।
  5. मैंने सुना है कि गर्भवती महिलाओं को मसालों से नुकसान पहुंच सकता है। क्या यह सच है?
    हां, यह सच है। दरअसल, कुछ मसालों के अत्यधिक इस्तेमाल से गर्भवती महिलाओं को नुकसान पहुंच सकता है।
(आपके लिए खुशखबरी! POPxo शॉप आपके लिए लेकर आए हैं आकर्षक लैपटॉप कवर, कॉफी मग, बैग्स और होम डेकोर प्रोडक्ट्स और वो भी आपके बजट में! तो फिर देर किस बात की, शुरू कीजिए शॉपिंग हमारे साथ।)
… अब आएगा अपना वाला खास फील क्योंकि POPxo आ गया है 6 भाषाओं में … तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा – अंग्रेजी, हिन्दी, तमिल, तेलुगू, बांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।