home / पैरेंटिंग
बच्चों की त्वचा के लिए नीम

बेबी की स्किन रामबाण है नीम और नीम का तेल, जानें फायदे और इस्तेमाल का तरीका

नीम के फायदों का जिक्र आयुर्वेद में मिलता है। औषधीय गुणों से भरपूर होने के कारण सालों से इसका इस्तेमाल त्वचा संबंधित कई परेशानियों के लिए किया जाता है। आज इस लेख में हम बच्चों की त्वचा के लिए नीम और नीम के तेल के फायदों के बारे में विस्तार से जानेंगे। तो चलिए बिना देर किए शुरू करते हैं लेख और जानते हैं बच्चों के लिए के इस्तेमाल से जुड़ी हर जरूरी जानकारी।

बच्चों की त्वचा के लिए नीम और नीम का तेल कैसे फायदेमंद है?

नीम और नीम के तेल में एंटीफंगल, एंटीबैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं। ये सभी प्रॉपर्टीज बच्चों की स्किन पर सूदिंग प्रभाव के साथ त्वचा संबंधित कई परेशानियों से सुरक्षा प्रदान करते हैं। यह शिशु को खुजली को दूर करने के साथ त्वचा संबंधित इंफेक्शन से बचाव करता है।

क्या बच्चों के लिए नीम और नीम का तेल का इस्तेमाल सुरक्षित होता है?

बच्चों की त्वचा के लिए नीम
बच्चों की त्वचा के लिए नीम

जब बात नुस्खों की आती है, तो ज्यादातर पैरेंट्स का सबसे पहला सवाल होता है कि क्या यह उनके बेबी के लिए सुरक्षित होगा या नहीं। बच्चे के लिए नीम और नीम के तेल के इस्तेमाल को लेकर भी उनका यह सवाल होना लाजमी है। 

बच्चों के लिए सीधे तौर पर नीम और नीम के तेल के इस्तेमाल से परहेज करना चाहिए। इसके फायदे हासिल करने के लिए पैरेंट्स ऐसे बेबी प्रोडक्ट्स का चुनाव कर सकते हैं, जिनमें नीम या नीम के तेल का इस्तेमाल किया गया हो। ऐसा इसलिए क्योंकि इन प्रोडक्ट्स के फॉर्मूलेशन को शिशु को ध्यान में रखते हुए तैयार किया जाता है। इनमें दूसरी सामग्रियों के साथ नीम व नीम के तेल की उतनी ही मात्रा होती है, जो शिशु के लिए सुरक्षित होती है। ऐसे में बच्चे की स्किन के लिए नीम और नीम के तेल युक्त प्रोडक्ट्स का चुनाव बेहतर विकल्प होगा।

बच्चों के लिए नीम और नीम और नीम के तेल के फायदे

बच्चों के लिए नीम और नीम के तेल के फायदे कई सारे हैं, जिनमें से कुछ के बारे में नीचे बता रहे हैं:

1. त्वचा को रखे स्वस्थ

बच्चों की त्वचा के लिए नीम
नीम और नीम के तेल के फायदे

नीम में फैटी एसिड्स मौजूद होते हैं, जो शिशु की स्किन को स्वस्थ रखने में सहायक भूमिका निभाते हैं। बच्चे दिनभर फर्श पर खेलते हैं, जिसकी वजह से धूल व गंदगी की संपर्क में आते हैं। इससे उनकी त्वचा पर बैक्टीरिया का विकास हो सकता है। नीम में एंटीसेप्टिक प्रॉपर्टीज होती हैं, जो शिशु की त्वचा को साफ करने के साथ ड्राइनेस से बचाव करती हैं। ऐसे में नीम युक्त बेबी बॉडी वॉश का चुनाव कर सकते हैं।

2. रैशेज से बचाव करता है

बच्चों में डायपर रैश की समस्या बहुत कॉमन है। अमूमन हर बच्चा इस परेशानी से एक न एक बार जरूर जूझता है। नीम व नीम के तेल का इस्तेमाल बच्चों के डायपर रैशेज को हील करने व इससे बचाव में भी मददगार हो सकता है। दरअसल, नीम खासतौर से एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज के लिए जाना जाता है। ये दोनों गुण डायपर रैशेज के कारण होने वाली खुजली से राहत दिला सकते हैं। साथ ही शिशु की त्वचा को नरिश करते हैं। इसलिए, ज्यादातर डायपर रैशेज क्रीम के इंग्रीडिएंट्स में नीम भी शामिल होता है।

3. बच्चों की त्वचा के लिए नीम: मच्छरों से बचाता है

बच्चों की त्वचा काफी सेंसिटिव होती है, जिस वजह से मच्छरों के काटने पर छाले व खुजली होने लगती है। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि नीम एक शक्तिशाली जीवाणुरोधी, प्रोटोजोआल विरोधी, एंटी वायरस और एंटीफंगल एजेंट है। त्वचा पर नीम युक्त ऑयल लगाने से मच्छरों को दूर रखा जा सकता है। यही नहीं मच्छर के काटने पर यह त्वचा को हील करने के लिए भी जाना जाता है। 

हालांकि, बच्चों के लिए सीधे तौर पर नीम का लगाने से बेहतर होगा कि बाजार में मौजूद नीम युक्त बेबी मॉस्किटो रिपलेंट स्प्रे व बेबी आफ्टर बाइट रोल ऑन का इस्तेमाल करें।

4. कीटाणुओं से सुरक्षा प्रदान करता है

जब बच्चा पैरों के बल चलना व बैठना सिखता है, वह ज्यादातर समय फर्श पर बिताते हैं। घर के हर कोने को दिनभर साफ सुथरा रखना किसी के बस की बात नहीं है। ऐसे में बच्चे का बैक्टीरिया और वायरस के संपर्क में आने की संभावना अधिक होती है। इसमें भी नीम का इस्तेमाल बच्चे को सुरक्षा प्रदान कर सकता है। जैसा कि लेख में पहले भी बताया गया है कि नीम में एंटीबैक्टीरियल प्रभाव होता है। यह 30 सेकेंड के अंदर 99.9% शरीर के दुश्मन जीवाणु और विषाणु को खत्म कर सकता है। 

बाजार में कई नीम युक्त नैचुरल सरफेस क्लीनर मौजूद हैं, जिनका इस्तेमाल बच्चों के लिए सुरक्षित हैं। ध्यान रखें किसी भी नीम युक्त सरफेस क्लीनर का इस्तेमाल न करें। नॉर्मल नीम युक्त सरफेस क्लीनर में कई ऐसे केमिकल होते हैं जो बच्चों के लिए सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए, घर में छोटा बच्चा है तो उनको ध्यान में रखकर तैयार किए गए सरफेस क्लीनर का चुनाव करना बेहतर होगा।

5. बच्चों की त्वचा के लिए नीम: संक्रमण से करे बचाव

एक्सपर्ट्स शिशुओं के कपड़ों को साधारण डिटर्जेंट की जगह प्लांट बेस्ड क्लींजर से तैयार बेबी डिटर्जेंट के इस्तेमाल की सलाह देते हैं। क्योंकि साधारण डिटर्जेंट से शिशु की नाजुक त्वचा पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। यदि बेबी डिटर्जेंट के इंग्रीडिएंट्स में नीम भी शामिल होगा तो यह सोने पे सुहागा होगा। क्योंकि नीम शिशु के कपड़ों में बैक्टीरिया के विकास को रोकता है।

तो ये थे बच्चों के लिए नीम और नीम के तेल के फायदे। ध्यान रखें शिशु के लिए सीधेतौर पर इनका इस्तेमाल करने से परहेज करें। नीम युक्त क्लीनिकली और डर्मेटोलॉजिस्ट टेस्टेड बेबी प्रोडक्ट्स का चुनाव करना बेहतर विकल्प हो सकता है। 

चित्र स्रोत: Pixabay & Pexel

19 Jul 2022

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text