home / एंटरटेनमेंट
अमृता राव- RJ अनमोल ने अपनी प्रेगनेंसी स्ट्रगल के बारे में की बात, बताया सरोगेसी भी की थी ट्राई

अमृता राव- RJ अनमोल ने अपनी प्रेगनेंसी स्ट्रगल के बारे में की बात, बताया सरोगेसी भी की थी ट्राई

एक्टर अमृता राव और उनके पति RJ अनमोल ने हाल ही में अपनी प्रेगनेंसी स्ट्रगल के बारे में बात की है और बताया कि ये 2016 में शुरू हुई थी और 4 साल तक रही थी। अपने यूट्यूब चैनल पर कपल ऑफ थिंग्स पर उन्होंने अपनी प्रेगनेंसी स्ट्रगल के बारे में बात की है और बताया है कि उन्होंने कंसीव करने के कई तरीके ट्राई करे थे, जिसमें सरोगेसी, IUI, IVF, होमपैथी और आयुर्वेदा शामिल है।

वीडियो में अमृता कहती हैं कि वो तीन सालों तक गाइनिक के क्लिनिक के चक्कर लगाते रहे थे। उन्होंने बताया कि सबसे पहले उन्हें IUI कराने की सलाह दी गई थी लेकिन इसका कोई रिजल्ट नहीं निकला। अमृता ने यह भी कहा कि अनमोल पिता बनने के लिए बेसब्र थे। अनमोल ने कहा, हर चीज में स्पीड अप करने वाला बंदा मैं हूं। एक्ट्रेस ने कहा कि वह कूल और चिल थीं।

इसके बाद डॉक्टर ने उन्हें सरोगेसी का सुझाव दिया। अमृता ने अपना रिएक्शन याद करते हुए कहा, ”फ्रैंकली मुझे लगा कि हां हां मुझे प्रेगनेंट नहीं बनना पड़ेगा, ठीक है। हां, ऐसी बहुत संभावना है कि बच्चे के अंदर सरोगेट मां की कई सारी क्वालिटी आ सकती हैं, जो उसकी असली मां से नहीं मिलती हैं”।

अनमोल ने कहा कि उन्होंने सरोगेट मां का इंटरव्यू भी लिया था और इस प्रोसेस के लिए आगे भी बढ़े थे। आरजे ने कहा कि डॉक्टर ने उनसे पूछा कि क्या वो सरोगेसी को लेकर श्योर हैं क्योंकि अमृता भी स्वस्थ हैं। अमृता ने कहा, जब उन्होंने स्कैन देखे तो उन्होंने कहा था ये परफेक्ट है। लेकिन उन्होंने असल में टर्म का इस्तेमाल किया था।

अनमोल ने फिर बताया कि डॉक्टर का फोन आया था और उन्होंने बताया कि सरोगेट मदर प्रेगनेंट है और बच्चे के दिल की धड़कने सुनाई दे रही हैं। हालांकि, इसके कुछ दिनों बाद ही पता चला था कि बेबी नहीं रहा। अनमोल ने कहा, ”इस वजह से आज भी मेरा दिल दुखता है।” अमृता ने कहा, ”पेरेंट्स बनने की इच्छा की वजह से मुझे नहीं लगता कि हमें इतना इमोशनल होना चाहिए… क्योंकि ये हमारे हाथ में नहीं है”।

इसके बाद कपल ने कुछ समय का ब्रेक लिया और IVF ट्राई किया लेकिन तब भी कुछ नहीं हुआ। दोनों ने दूसरी बार IVF ट्राई किया था लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। अमृता ने कहा, ”जब भी नर्स मुझे वो हार्मोनल शोट देने आती थी तो मुझे बिल्कुल अच्छा नहीं लगता था क्योंकि इसमें दर्द होता है और मुझे वो दर्द से नफरत थी। हालांकि, जब कुछ नहीं हुआ तो मैंने तय किया कि अब मैं IVF ट्राई नहीं करूंगी”।

इसके बाद कपल मंदिर भी गया और बाद में दोनों ने आयुर्वेदिक डॉक्टर को बी दिखाया। अमृता ने कहा कि ”दवाइयां बहुत ही गर्म थीं और इस वजह से मेरे चेहरे पर रैश होने लगे थे। जब भी मैं वो दवाई खाती थी मेरी स्किन पर रैश हो जाते थे और मैं डॉक्टर को बोलती थी कि ये दवाइयां मुझे सूट नहीं कर रही हैं”। अनमोल ने कहा कि उनकी जर्नी 2016 में उस वक्त शुरू हुई थी जब वो दोनों बाली गए थे।

अमृता ने कहा, इतने सालों तक कोशिश करने के बाद मुझे ये लगने लगा कि बच्चा करना भी चाहिए कि नहीं। क्या हम बच्चे की देखभाल कर पाएंगे क्योंकि हमारी लाइफ बहुत बिजी है? जरूरी है या नहीं? अनमोल भी यही सोचने लगे थे कि उनका बच्चा नहीं होगा। इसके बाद कपल थाइलैंड के समुई में हॉलीडे के लिए गया था।

अमृता ने कहा, मार्च 2020 में हमें लगा कि कुछ तो हो रहा है यार। ब्लड टेस्ट कराने का बाद कपल को 11 मार्च 2020 को पता चला कि वो प्रेगनेंट हैं। इसके बाद नवंबर 2020 में कपल ने बेटे वीर का स्वागत किया था।

22 Apr 2022

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text