home / रिलेशनशिप
इन 3 आसान तरीकों से आप अपनी पत्नी और मां के बीच के तनाव को कर सकते हैं कम

इन 3 आसान तरीकों से आप अपनी पत्नी और मां के बीच के तनाव को कर सकते हैं कम

किसी भी शादी में पत्नी अपने पति से तो डीप कनेक्शन महसूस करती हैं लेकिन अपने पति के परिवार के सदस्यों यानि की ससुराल वालों के साथ वह जल्दी से कनेक्शन नहीं बना पाती हैं। इस वजह से ये सामान्य है कि वह परिवार में सामने आने वाली परेशानियों के बारे में अपने पति को ही बताती है। हालांकि, कई बार लड़के बीच में फंस जाते हैं क्योंकि वो अपनी पत्नी और पेरेंट्स के बीच जोड़ने वाली कड़ी होते हैं। अगर आपको भी लगता है कि आपकी पत्नी और मां के बीच कुछ तनावपूर्ण परिस्थितियां हैं तो आप भी इन आसान टिप्स की मदद से

अपनी पत्नी से अपनी फीलिंग शेयर करें

शुरुआत में भले ही आपको ये बहुत अच्छा लग सकता है कि आपकी पत्नी अपनी सारी बातें और परेशानियों के बारे में केवल आपको बताती है लेकिन कुछ समय बाद आपको ये परेशान कर सकता है। आपको कुछ समय बाद ऐसा लगने लगेगा कि आप जो समय साथ बिताते हैं वो रोमांटिक कपल की तरह बिताएं ना कि ऐसा कपल जिसे बार-बार अपनी पत्नी की शिकायतों के बारे में सुनना पड़ता है और फिर उन्हें सॉल्व करना पड़ता है। अपनी पत्नी को रियल फीलिंग के बारे में बताएं कि आप अपनी मां और पार्टनर के बीच कितना स्टक महसूस कर रहे हैं, जो काफी अनकंफर्टेबल हो सकता है।

ADVERTISEMENT

अपनी पत्नी को कहें कि वह घर में दोस्त बनाएं

आपकी पत्नी के लिए शुरुआत में आपके परिवार के लोगों के साथ दोस्ती करना या फिर उनसे अपनी बात शेयर करना मुश्किल हो सकता है और इस वजह से वो आपके घर आने का इंतजार करती हैं। हालांकि, उनका पार्टनर होने के नाते आप उन्हें घर के सदस्यों के साथ दोस्ती करने के लिए प्रेरित कर सकते हैं। चाहे तो वो आपका छोटा भाई हो सकता है या फिर आपकी बढ़ी बहन या फिर दादी। इससे आपकी पत्नी को अपनापन महसूस होगा और वह जल्दी आपके परिवार में घुलमिल पाएंगी।

अपनी मां और बहन के बीच बातचीत शुरू करवाएं

जैसा कि आपकी पत्नी आपको बताती हैं कि उन्हें क्या-क्या चीजें गलत लगती हैं उसी तरह से हो सकता है कि आपकी मां को भी कुछ परेशानियां हो सकती हैं। इस वजह से आपको अपनी मां और पत्नी के बीच हर हफ्ते इंफॉर्मल बातचीत शुरू करनी चाहिए, जहां वह दोनों अपनी भावनाओं के बारे में बिना किसी की भावनाओं को हर्ट करें अपनी बात रख सकें। इससे आपकी मम्मी और पत्नी को एक दूसरे के सामने ऑपन अप होने में मदद होगी और दोनों में से किसी को भी बुरा नहीं लगेगा।

ADVERTISEMENT

और फिर समय बीतने के साथ हो सकता है कि दोनों एक दूसरे की परवाह करने लग जाएं और फिर एक दूसरे को समझने भी लग जाएं।

यह भी पढ़ें:
अरेंज मैरिज कर रहे हैं तो ससुराल वालों के साथ घुलने-मिलने के लिए फॉलो करें ये टिप्स
लव मैरिज के लिए पेरेंट्स को मनाना है तो बहुत काम आएंगी ये 3 टिप्स
क्या आप सही में प्यार करते हैं या फिर सिर्फ हैं Attracted? इन तरीकों से करें पता

ADVERTISEMENT
25 Jan 2022

Read More

read more articles like this
good points

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text