home / रिलेशनशिप
रिलेशनशिप में धोखा खाने के बाद मूव ऑन करने के लिए फॉलो करें ये टिप्स

रिलेशनशिप में धोखा खाने के बाद मूव ऑन करने के लिए फॉलो करें ये टिप्स

क्या आपको भी हाल ही में पता चला है कि आप जिन्हें डेट कर रहे थे वो आपको धोखा दे रहे थे? ऐसे में आपको भी बहुत बुरा और विओलेटिड महसूस हो रहा होगा। हो सकता है कि अब आपको ये भी नहीं समझ आ रहा हो कि पार्टनर से धोखा मिलने के बाद आगे क्या करना चाहिए। या फिर हो सकता है कि आप अपने कई साल पुराने ब्रेकअप से अभी तक उभर ना पाए हों। भले ही किसी भी कारण से आपको धोखा दिया गया हो लेकिन ये सभी चीजें आपके अंदर की भावनाओं को प्रभावित करते हैं।

बता दें कि भावनाएं ना तो गलत और ना ही सही होती हैं और ना ही ये मस्कुलर या फिर फेमिनिन होती हैं, ये केवल होती हैं। हम कई बार कम समय में भी बहुत कुछ महसूस करते हैं और हो सकता है कि आप दूसरे लोगों के मुकाबले अधिक कुछ महसूस करते हों और वो पूरी तरह से सामान्य है। कई बार हम लोग अपनी शाई साडइ, उदासी, गुस्सा आदि लोगों को दिखाते नहीं हैं क्योंकि हमें ऐसा करना अनकंफर्टेबल लगता है। हम एक ऐसी सोसाइटी में रहते हैं जहां झूठी शान को बढ़ावा दिया जाता है और लोगों को विश्वासद दिलाया जाता है कि वो इंसान खुश है लेकिन हम उसी इंसान की उदासी वाली भावना को पूरी तरह से रद्द कर देते हैं। हमें बचपन से ही भावनाओं को अवॉइड करना सिखाया जाता है। 

हमें इस स्थिति को बदलने की जरूरत है और खुद को ये याद दिलाने की जरूरत है कि हमारी भावनाएं हमें कमजोर नहीं बनाती हैं बल्कि ये हमें ताकत देती हैं। हालांकि, ऐसा करने के लिए आपको प्रैक्टिस की जरूरत पड़ सकती है और इस वजह से हम आपके लिए ये 3 टिप्स लेकर आए हैं। 

हंसना है जरूरी 

ऐसा आखिरी बार कब हुआ था कि आप इतना तेज हंसे थे कि आपकी आंखों से आंसु निकल आए हों? वो कहते हैं ना कि हंसना सबसे अच्छी दवा होता है और ये कई तरह से सच भी है। हसंना आपको हील करने में मदद करता है। साथ ही ये आपके आसपास के लोगों को भी खुश करता है। सबसे मुश्किल समय में हंसने की मदद से ही आपको सकारात्मकता मिलती है। ऐसा करने से आपकी भावनाएं बाहर आती हैं और साथ ही आपको दुनिया को देखने का नजरिया मिलता है। 

अपनी भावनाओं को एंब्रेस करें

आप भावनाओं से बहुत अधिक हैं। हम में से अधिकतर लोग अपनी फीलिंग दिखाने से डरते हैं क्योंकि हमें लगता है कि इस वजह से लोग हमें जज करेंगे और हम नहीं चाहते हैं कि हमें कोई रोता हुआ देके क्योंकि हमें इससे डर लगता है कि रोता हुआ या फिर परेशान देखेंगे तो क्या सोचेंगे। ऐसे में अपनी भावनाओं को एक्सेप्ट करना बहुत ही जरूरी है और साथ ही माइंडफुल होना भी जरूरी है। अगर आपको ऐसा कुछ महसूस होता है तो आपको अपनी भावनाओं को बाहर निकलने देना चाहिए। 

दूसरों को भी ऐसे ट्रीट करें जैसे आप खुद को ट्रीट करते हैं

अपने लिए अपने प्यार, क्षमा और करुणा में उग्र बनो। अपनी भावनाओं को स्वीकार करने से आप अपने भीतर शांति के केंद्र में आ जाते हैं। आपके दिव्य स्व की ऊर्जा आपको स्वयं का एक ऐसा संस्करण बनने के लिए पोषित करती है जो आपकी पूरी क्षमता को दुनिया और उससे आगे के लिए जारी करती है। अपने प्रति दयालु रहें और दूसरों के साथ दया साझा करें। हम संवेदनशील और आध्यात्मिक प्राणी हैं जो हर दिन ऊर्जा और भावनाओं का अनुभव करते हैं। अपने को स्वीकार करके हम दूसरों को महिमा में हिस्सा लेना सिखाते हैं क्योंकि भावनाएं एक ऐसी चीज है जिसे मनाया जाना चाहिए क्योंकि यह हमारा सबसे बड़ा उपहार है।

POPxo की सलाह: MyGlamm की ग्लो स्किनकेयर रेंज के साथ रखें अपनी त्वचा का ख्याल।

03 Sep 2021

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text