home / वेलनेस
क्या आप जानते हैं पतला होने से जुड़े ये तीन मिथक

क्या आप जानते हैं पतला होने से जुड़े ये तीन मिथक

तुम हड्डियों का ढांचा लगते हो कुछ खाया करो। तुम बहुत मोटे हो, कम खाया करो। तुम्हारा रंग सांवला है, नियमित रूप से फेशियल कराया करो। तुम बहुत अधिक गोरे हो। हम सभी ने कभी न कभी इस तरह के कमेंट्स अपने जीवन में एक ना एक बार तो जरूर सुने हैं। कुछ लोग होते हैं, जिन्हें दूसरों को पोक करने की आदत होती है और वो क्यों ना करें, आखिरकार हम बॉडी शेमिंग दुनिया में रहते हैं। 

अगर आपको लगता है कि आपका वजन थोड़ा ज्यादा है और इस वजह से आपको लोगों के ताने सुनने पड़ते हैं तो एक बार उन लोगों से पूछें जो बहुत ही अधिक पतले हैं। आपको अपने आस-पास ऐसे बहुत से लोग मिलेंगे जो आपको ताने देने का कोई मौका नहीं छोड़ेंगे। इस तरह के तानों के साथ कई सारे मिथक भी आते हैं और इस लेख में हम इन्ही में से कुछ मिथकों के बारे में आपको बताने वाले हैं।

मिथक 1– आप कुछ भी खा सकते हैं

सच्चाई – अब समय आ गया है कि हम महसूस करें कि दुबले-पतले लोग भी इंसान होते हैं और नहीं, वे ढेर सारे केक, पेस्ट्री, चिप्स के पैकेट और वह सारा जंक नहीं खा सकते, जिसके बारे में आप सोच सकते हैं। यह एक मानव शरीर है, चाहे वह किसी भी आकार का हो, पर यह हर कीमत पर स्वस्थ भोजन मांगता है।

मिथक 2– आप बहुत पतले हैं और आपको फिट होने के लिए बमुश्किल किसी स्थान की आवश्यकता होती है

सच्चाई – ज्यादातर लड़कियां हमसे इस बात पर सहमत होंगी कि हर किसी को जगह और आराम की जरूरत होती है। पतला होने का मतलब यह नहीं है कि कोई छोटी से छोटी जगह में भी फिट हो सकता है। तो, अगली बार जब आप किसी के लिए जगह न होने पर उसे फिट बनाने के बारे में सोचें, तो उसे फिट होने के लिए न कहकर उस पर एहसान करें।

मिथक 3– आप कम खाते हैं

सच्चाई – ऐसी कई चिकित्सीय स्थितियां हैं जिनके परिणामस्वरूप वजन बढ़ सकता है या घट सकता है, थायराइड उनमें से एक है, चाहे कोई कितनी बार खाता हो या नहीं। निर्णय पारित करने से पहले लोगों के स्थान पर खुद को रखकर देखें। एक मानव शरीर पहले से ही बहुत कुछ कर सकता है, और आपकी बिना पूछी गई राय किसी को पसंद नहीं है। 

POPxo की सलाह: MyGlamm की ग्लो स्किनकेयर रेंज के साथ रखें अपनी त्वचा का ख्याल।

21 Sep 2021

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text