दर्द से छुटकारा पाने के लिए दवाई नहीं बल्कि इन नैचुरल पेन किलर का भी कर सकते हैं इस्तेमाल

नैचुरल दर्द निवारक, Natural Pain killer to Get Rid of Pain in Hindi

शरीर में कभी-कभी या कई बार दर्द होना बिल्कुल स्वाभाविक है। मौसम में बदलाव, तनाव और गलत लाइफस्टाइल के चलते अचानक सिर दर्द, बदन दर्द और खांस-जुकाम जैसी समस्याएं होने लगती है। इनसे बचने के लिए हम तुरंत कोई दवा खा लेते हैं। बहुत से लोग तो हर छोटी-छोटी चीजों के लिए दवा पर निर्भर रहते हैं। लेकिन इस तरह के दर्द और तकलीफ से बचने के लिए हर बार मेडिसिन लेना सही नहीं है। इनकी जगह आप नैचुरल दर्द निवारक (natural pain killer) चीजों का इस्तेमाल कर सकते हैं।

नैचुरल दर्द निवारक के तौर पर काम करती हैं ये चीजें Natural Pain killer to Get Rid of Pain in Hindi

हम में से ज्यादातर लोग किसी भी तरह के दर्द से छुटकारा पाने के लिए दवा का सेवन करते हैं। यह आदत सेहत के लिए हानिकारक होती है। विशेषज्ञों के अनुसार जरूरत के अनुसार ही दवा लें। हल्के दर्द पर दवाई लेने से किडनी, हार्ट आदि पर बुरा असर पड़ता है। आप दर्द निवारक दवाओं की जगह घरेलू चीजों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इन चीजों के इस्तेमाल से कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है और यह दर्द को कम करने में भी मदद करता है। तो आइए जानते हैं कि कौन-कौन सी चीजें नैुचरल पेन किलर का काम करती हैं -

लहसुन

लहसुन में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल और एंटी-वायरल गुण होते हैं। जो दर्द को कम करने में मदद करते हैं। लहसुन संक्रमण और गठिया के दर्द से राहत दिलाता है। जानकारों के मुताबिक अगर आप कच्चा लहसुन खाते हैं तो इसके कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं। लहसुन का तेल जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द को कम करता है। अगर आपके दांत में दर्द है तो लहसुन और नमक का पेस्ट बनाकर लगाएं, दर्द से तुरंत छुटकारा मिल जाता है।

लौंग

लौंग शरीर के दर्द को कम करने का काम करता है। अगर आपके दांत में दर्द है तो लौंग से बेहतर कुछ नहीं है। अगर आपके दांत में दर्द है तो उस पर लौंग का तेल लगाएं। इससे जल्द राहत मिलेगी। इसके अलावा हम लौंग का इस्तेमाल गठिया, सिर दर्द आदि समस्याओं से निजात पाने के लिए कर सकते हैं।

चेरी

चेरी एक ऐसा फल है जो न सिर्फ खाने में स्वादिष्ट होता है बल्कि प्राकृतिक तरीके से दर्द से राहत दिलाने में भी काफी फायदेमंद होता है। चेरी में एंथोसायनिन नामक रसायन होता है। जो दर्द को दूर करने में मदद करता है। एंथोसायनिन एस्पिरिन की तरह काम करता है जो किसी भी तरह की सूजन और दर्द को कम करने में मदद करता है। चेरी एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होती है। गठिया के इलाज के लिए भी चेरी बहुत फायदेमंद होती है।

हल्दी

हल्दी करक्यूमिन से भरपूर होती है जो तीव्र दर्द को कम करने में मदद करती है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो सूजन को कम करने और मांसपेशियों के दर्द से राहत दिलाने में मदद करते हैं। इसमें एंटी ऑक्सीडेंट, एंटी फंगल, एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो आपके खाने को पौष्टिक बनाते हैं। हल्दी दूध और गर्म पानी में हल्दी डालकर पीने से शरीर में हो रहे दर्द से राहत मिलती है।

पुदीना का पत्ता

पुदीने की पत्तियों में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। जो मसल्स पेन के लिए फायदेमंद होते हैं। पुदीने की पत्तियों को चबाने से न सिर्फ पाचन में मदद मिलती है बल्कि दिमाग भी शांत होता है। सोने से पहले सात से आठ पुदीने की पत्तियों को पानी में मिलाकर नहाने से आपके शरीर को कई फायदे होते हैं। अगर शरीर में दर्द है तो पुदीना की पत्तियां राहत पहुंचा जा सकती है।

POPxo की सलाह : MYGLAMM के ये शानदार बेस्ट नैचुरल सैनिटाइजिंग प्रोडक्ट की मदद से घर के बाहर और अंदर दोनों ही जगह को रखें साफ और संक्रमण से सुरक्षित!

Beauty

WIPEOUT HEAD TO TOE KIT

INR 701 AT MyGlamm