लॉकडाउन के दौरान घर पर बच्चों को खेल-खेल में कराएं ये फिजिकल एक्टिविटीज

Physical Activities for Kids At home during Lockdown

कोरोना वायरस के चलते इन दिनों कई राज्य सरकारों ने अपने-अपने राज्यों में लॉकडाउन लगा रखा है। सुरक्षा के मद्देनजर जरूरी सेवाओं को छोड़कर बाकी सभी लोग अपने घर पर रहने को मजबूर हैं। घर पर लगातार रहने का सबसे ज्यादा असर अगर किसी पर पड़ता है, तो वो हैं बच्चे। जब हम बड़े होकर लगातार एक घर में कैद होकर नहीं रह सकते तो वो तो बच्चे हैं। जो बच्चे कभी स्कूल जाकर पढ़ाई किया करते थे या फिर शाम होते ही घर से बाहर निकलकर पार्क या फिर सोसाइटी के ग्राउंड में खेलने चले जाया करते थे, वो अब घर पर रहकर टीवी देखने और ऑनलाइन क्लासेस करने को मजबूर हैं। ऐसे में सबसे बुरा असर उनकी फिटनेस पर पड़ता है। 

5 से 15 साल के बच्चे सबसे ज्यादा फिजिकल एक्टिविटी में इन्वॉल्व होते हैं मगर लॉकडाउन के चलते आजकल यह भी संभव नहीं हो पा रहा। दिन भर घर पर बैठे-बैठे मानसिक के साथ सबसे बुरा असर उनके शारीरिक विकास पर भी पड़ रहा है। इसलिए हम यहां आपको बता रहे हैं कुछ ऐसी फिजिकल एक्टिविटीज के बारे में, जिन्हें आप बच्चों को घर पर रहते हुए भी खेल-खेल में करा सकते हैं। इससे उनकी फिटनेस पर भी बुरा असर नहीं पड़ेगा।  

फ्रिज़बी

फ्रिज़बी गेम को Flying Disc या फिर हिंदी में उड़न तश्तरी भी कहा जाता है। यह खेल घर पर रहकर भी खेला जा सकता है। इसकी खासबात यह है कि फ्रिज़बी बच्चों के शारीरिक विकास के साथ मानसिक विकास में भी मदद करता है। इसे खेलने के लिए दो लोग ही काफी हैं। इसलिए अगर आपका बच्चा घर पर अकेला बच्चा है तो आप भी उसके साथ इस खेल का लुत्फ उठा सकते हैं।  

रस्सी कूदना

रस्सी कूदना एक ऐसी फिजिकल एक्टिविटी है, जो हमेशा से ही बच्चों की पसंदीदा रही है। रस्सी कूदना बच्चों के लिए खेल-खेल में एक्सरसाइज करने जैसा भी है। रस्सी कूदना न सिर्फ शरीर से एक्स्ट्रा कैलोरी बर्न करता है बल्कि इससे मांसपेशियां भी बेहतर तरीके से काम करती हैं। शरीर का स्टैमिना बढ़ाने के लिए भी रस्सी कूदना काफी फायदेमंद है। 

ऑनलाइन डांस क्लासेस

आजकल ऑनलाइन का जमाना है। यहां तक कि बच्चों की पढ़ाई भी ऑनलाइन हो चुकी है। ऐसे में क्यों न उनकी फिजिकल एक्टिविटी को बढ़ाने के लिए घर पर ही उनकी ऑनलाइन डांस क्लासेस शुरू कर दी जाएं। इससे बच्चे बिज़ी भी रहेंगे और खेल-खेल में उनकी फिजिकल एक्टिविटी भी हो जाएगी। 

वर्कआउट

कौन कहता है कि वर्कआउट सिर्फ बड़ों के लिए होता है। बच्चे भी वर्कआउट कर सकते हैं। साथ ही खेल-खेल में वर्कआउट को एन्जॉय भी कर सकते हैं। इसके लिए आप अपने साथ उन्हें कई तरह की एक्सरसाइज में लगा सकती हैं। ध्यान रहे बच्चों के लिए ऐसी एक्सरसाइज चुनें जो ज्यादा कठिन न हो और बच्चे उन्हें खुश होकर आसानी से कर सकें।

सीढ़ियों का इस्तेमाल

एक जमाना था जब हम 4-5 फ्लोर तक यूं ही सीढ़ियां चढ़ जाया करते थे। तब लिफ्ट का इतना चलन नहीं था और हमें भी लिफ्ट की ऐसी जरूरत नहीं महसूस होती थी। मगर अब लिफ्ट बहुत आम हो गई है। खासतौर पर बिल्डिंग सोसाइटी में। ऐसे में कोशिश करें कि बच्चे लिफ्ट का इस्तेमाल न कर सीढ़ियों से ही चढ़े और उतरें। यह एक ऐसी फिजिकल एक्टिविटी है, जो बच्चों की हेल्थ के लिए बहुत जरूरी है।   

MYGLAMM के ये शनदार बेस्ट नैचुरल सैनिटाइजिंग प्रोडक्ट की मदद से घर के बाहर और अंदर दोनों ही जगह को रखें साफ और संक्रमण से सुरक्षित!

Beauty

Ultimate Germ Defence 35 Sanitizing Wipes + 30 Sanitizing Towels + 4 Moisturizing Hand Sanitizers

INR 999 AT MyGlamm