स्किन टाइप और प्रॉब्लम्स को ध्यान में रखकर ऐसे करें सही फेस सीरम का चुनाव

सही फेस सीरम का चुनाव कैसे करें, how to choose face serum in hindi

जब त्वचा की देखभाल की बात आती है तो आप क्या करते हैं? हो सकता है कि आप सुबह जल्दी उठकर अपना चेहरा साफ कर लें। और फिर मॉइस्चराइजर न लगाएं। कुछ महिलाएं खुद को यूवी किरणों से बचाने के लिए घर से निकलने से पहले सनस्क्रीन का इस्तेमाल करती हैं। लेकिन इस बीच आप एक बहुत ही महत्वपूर्ण कदम चूक जाते हैं। यानी फेस सीरम का न इस्तेमाल करना। जी हां, फेस सीरम में वो प्रभावी घटक और पोषक तत्व होते हैं, जो त्वचा को गहराई से पोषित करते हैं। फेस क्रीम में मौजूद पोषक तत्व स्किन क्रीम या फिर मॉइश्चराइजर के मुकाबले काफी लाभकारी होते हैं। फेस सीरम का इस्तेमाल करने से झुर्रियां, झाइयां और मुहांसे आदि की समस्या खत्म हो जाती है। लेकिन सही फेस सीरम का चुनाव करते समय आपको अपनी स्किन टाइप और स्किन प्रॉब्लम्स को जरूर ध्यान में रखना चाहिए।

सही फेस सीरम का चुनाव कैसे करें how to choose face serum in hindi

सीरम का इस्तेमाल मुख्य रूप से अलग-अलग त्वचा संबंधी समस्याओं के लिए किया जाता है। उदाहरण के लिए चेहरे की डलनेस, डिहाइड्रेशन या फिर मुहांसों के निशान या फिर डार्क स्पॉट्स। स्किन केयर के लिए फेस सीरम बहुत ही जरूरी और प्रभावी ब्यूटी प्रोडक्ट्स में से एक है। जो कई तरह की त्वचा की समस्याओं जैसे झुर्रियां, महीन रेखाएं, रूखापन और पिगमेंटेशन के लिए उपयोगी है। लेकिन आपको वास्तविक लाभ तभी मिलता है जब आप अपने लिए सही सीरम का चुनाव करते हैं। वैसे तो बाजार में कई तरह के सीरम उपलब्ध हैं। लेकिन अपनी त्वचा की समस्याओं को ध्यान में रखकर ही खरीदें। आइए जानें कि त्वचा की विभिन्न समस्याओं के लिए किस प्रकार का फेस सीरम चुनना (how to choose face serum) है।

ड्राई और डीहाइड्रेटेड स्किन के लिए 

ड्राई और डीहाइड्रेटेड स्किन को अतिरिक्त पोषण की आवश्यकता होती है। ऐसी त्वचा के लिए ऑयल बेस्ड फॉर्मूला बहुत अच्छा माना जाता है। नाइट केयर रूटीन के लिए आप ऑयल बेस्ड फेस सीरम का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आपकी त्वचा को पर्याप्त पोषण मिलेगा।

डल स्किन के लिए 

डल स्किन आमतौर पर बेजान दिखती है। ऐसी त्वचा में रोमछिद्रों को बंद करने से आपकी त्वचा सुस्त, मुरझाई और बेजान दिखती है। ऐसे स्किन से डेड स्किन सेल्स और पोर्स से अशुद्धियों को दूर करने के लिए हल्के एक्सफ़ोलीएटिंग घटक के साथ सीरम की आवश्यकता होती है। ये त्वचा में नई जान डाल देता है और इससे आपका चेहरा खिला-खिला फ्रेश नजर आता है।

झुर्रियां और फाइन लाइन्स की समस्या के लिए

कुछ महिलाओं में एजिंग के निशान उम्र से पहले ही चेहरे पर नजर आने लगते हैं और इसका मुख्य कारण सूरज से निकलने वाली यूवी किरणें होती हैं। इस वजह से ऐसे लोगों को जिनकी स्किन पर उम्र से पहले ही झुर्रियां और फाइन लाइन्स दिखने लगे उन्हें एकेटी-एजिंग सीरम का प्रयोग करें।

हाइपरपिग्मेंटेशन की समस्या के लिए

हाइपरपिग्मेंटेशन त्वचा एक आम समस्या है। जिसमें मेलेनिन या अन्य कारणों से त्वचा पर कुछ गहरे पैच हो जाते हैं। इसके लिए ऐसे सीरम का इस्तेमाल करें जिसमें एंटीऑक्सीडेंटऔर त्वचा में निखार लाने वाले तत्व हों।

डार्क स्पॉट्स की समस्या के लिए

सूरज से निकलने वाली यूवी किरणें, पिंपल्स और बढ़ती उम्र आपकी त्वचा पर काले धब्बे पैदा कर सकती है। ऐसे दागों से छुटकारा पाना इतना आसान नहीं है। लेकिन अगर आप त्वचा पर एक लाइटनिंग सीरम का उपयोग करते हैं जिसमें वीटा-रेसोर्सिनॉल और आवश्यक विटामिन होते हैं, तो यह काले धब्बों यानि कि डार्क स्पॉट्स से छुटकारा पाने में मदद करता है। साथ ही यह आपकी त्वचा को भी चमकदार बनाता है।
POPxo की सलाह: MyGlamm की ग्लो स्किनकेयर रेंज के साथ रखें अपनी त्वचा का ख्याल।

Beauty

Glow Skincare Everyday Essentials Kit

INR 3,585 AT MyGlamm