जानें, क्या होता है हेयर प्रीकंडिशनिंग और क्यों बालों की देखभाल के लिए ये है जरूरी?

जानें, क्या होता है हेयर प्रीकंडिशनिंग और क्यों बालों की देखभाल के लिए ये है जरूरी?

जैसा कि आपको इसके नाम से ही समझ आ रहा होगा, प्रीकंडिशनिंग (Hair Preconditioning) का मतलब है कि बालों को धोने से पहले उन्हें कंडीशन करना और ये बालों के लिए क्यों जरूरी है और इसे कैसे किया जाता है? वैसे तो आज के वक्त में अधिकतर महिलाओं को बालों को धोने के बाद कंडीशन करने के बारे में पता होता है लेकिन प्रीकंडिशनिंग (Precondtioning) के बारे शायद ही आप लोग जानते होंगे। क्लींजिंग की तरह ही ये आपके बालों की देखभाल (Hair Care Tips) के लिए अहम भूमिका निभाता है। तो चलिए बिना कोई देरी किए आपको इसके फायदों के बारे में बताते हैं।

प्रीकंडिशनिंग क्या होता है? - What is Preconditioning in Hindi

प्रीकंडिशनिंग में शैंपू से पहले कंडिशनर लगाया जाता है। शैंपू, आपके बालों में मौजूद गंदगी और स्कैल्प स्ट्रैंड्स को दूर करने में मदद करता है। वहीं साथ ही ये आपके बालों के नैचुरल ऑयल और मॉइश्चर को भी निकाल लेता है और बालों को रफ और ड्राई बना देता है। ऐसे में शैंपू से पहले बालों को कंडीशन करने से आपके बाल नरिश होते हैं। ये आपके बालों को मॉइश्चराइज करता है और यहां तक कि शैंपू का इस्तेमाल करने के बाद भी आपके बाल सॉफ्ट रहते हैं। 
प्रीकंडिशनिंग के पीछे का आइडिया यही है कि शैंपू के बाद भी आपके बाल मॉइश्चराइज रहें और नैचुरल ऑयल आपके बालों में टिका रहे। प्रीकंडिशनिंग आपके बालों में ऑयल को लॉक करने में मदद करता है।

कैसे करें प्रीकंडिशनिंग?

प्रीकंडिशनिंग आप सूखे या फिर गीले कैसे भी बालों पर कर सकते हैं। आप चाहें तो अपने बालों को थोड़ा सा गीला करके उनपर कंडीशनर लगा सकते हैं। वहीं सूखे बालों पर आप इसे सीधे लगा सकते हैं। इसके बाद कम से कम 15 से 20 मिनट के लिए इसे बालों पर लगा रहने दें और फिर शैंपू कर लें। हालांकि, आपको किस तरह के कंडीशनर का इस्तेमाल करना है ये पूरी तरह से आपके बालों के टाइप पर आधारित है। आप चाहें तो बालों कि लंबाई और मोटाई के आधार पर भी कंडीशनर का चुनाव कर सकते हैं।
इसके बाद अपने बालों को पहले सामान्य पानी से धो लें और फिर  शैंपू लगाएं। आप चाहें तो शैंपू के बाद दोबारा से बालों में कंडीशनर लगा सकते हैं। इसके अलावा आप कंडीशनर की जगह हेयर सीरम लगा सकते हैं और बालों को मैनेजेबल बना सकते हैं। 

प्रीकंडिशनिंग के फायदे

- प्रीकंडिशनिंग आपके बालों को हाइड्रेट करता है और ड्राइनेस को दूर करने में मदद करता है।
- प्रीकंडिशनिंग के बाद आपके बाल अधिक सॉफ्ट हो जाते हैं।
- प्रीकंडिशनिंग करने से आपके बाल मॉइश्चराइज रहते हैं और इससे बाल कम ड्राई होते हैं और कम टूटते हैं।
- प्रीकंडिशनिंग से आपके बाल अधिक सॉफ्ट स्मूद और मैनेजेबल हो जाते हैं।
- साथ ही शैंपू के कारण जिस तरह से आपके बालों का नैचुरल ऑयल निकल जाता है, प्रीकंडिशनिंग करने से वो नहीं होता है। 
टिप्स
- ध्यान रखें कि आप स्कैल्प पर कंडीशनर ना लगाएं क्योंकि इससे बाल खराब होते हैं और बाल झड़ने लगते हैं। साथ ही बहुत अधिक कंडीशनर लगाने से बाल अधिक झड़ने लगते हैं और स्टिकी हो जाते हैं।
- कंडीशनर का इस्तेमाल करते वक्त ध्यान रखें कि आप अपने बालों के नीचे के हिस्सों पर अधिक ध्यान रखें।
- अपने हेयर टाइप के अनुसार सही कंडीशनर का इस्तेमाल करें नहीं तो आपके बाल अधिक डैमेज हो  सकते हैं। वहीं यदि आपका कंडीशनर सही नहीं है तो आपको उसे बदलना चाहिए।
- अगर आप कंडीशनर का इस्तेमाल नहीं करना चाहती हैं तो आप अपने हेयर इशू और हेयर टाइप के अनुसार तेल का इस्तेमाल कर सकती हैं। तेल भी आपके बालों को शाइनी, सॉफ्ट बनाने में मदद करता है। इसके लिए नारियल का तेल, जैतून का तेल, बादाम का तेल आदि बहुत ही अच्छा ऑप्शन है।
POPxo की सलाह : MYGLAMM के ये शानदार बेस्ट नैचुरल सैनिटाइजिंग प्रोडक्ट की मदद से घर के बाहर और अंदर दोनों ही जगह को रखें साफ और संक्रमण से सुरक्षित!

Beauty

Ultimate Germ Defence 35 Sanitizing Wipes + 30 Sanitizing Towels + 4 Moisturizing Hand Sanitizers

INR 999 AT MyGlamm