मकर संक्रांति पर इन 5 वस्तुओं का जरूर से करना चाहिए दान, जीवनभर नहीं होगी धन-धान्य की कमी

मकर संक्रांति के दिन किन चीजों का दान करना चाहिए, Makar Sankranti Daan Items List, मकर संक्रांति, दान

मकर संक्रांति का त्योहार (khichdi festival) उत्तर भारत सहित पूरे देश में बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन दान-स्नान का विशेष महत्व है। मकर संक्रांति, सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करने पर मनाया जाता है। माना जाता है कि मकर संक्रांति के दिन से यानी 14 जनवरी से सूर्य उत्तरायण होकर भ्रमण करना शुरू करते हैं। इसीलिए इस दिन देवलोक का दरवाजा खुल जाता और देवताओं का दिन आरंभ हो जाता है। माना गया है कि इस अवधि काल में दान-पुण्य करता है उसका विशेष फल मिलता है। मकर संक्रांति पर दान करने से जीवनभर कभी भी धन और धान्य की कमी नहीं होती है। साथ ही कई जन्मों तक इस दान के पुण्य का फल प्राप्त होता है। अगर आप गृहस्थ जीवन में प्रवेश कर चुके हैं तो आपको मकर संक्रांति के दान जरूर निकालना चाहिए। वैसे भी वेदों में लिखा है कि सैकड़ों हाथों से कमाए और हजारों हाथों से दान करें। जिस इंसान को दान करने से खुशी मिलती है उसे ईश्वर की असीम कृपा प्राप्त होती है। 

मकर संक्रांति के दिन किन चीजों का दान करना चाहिए Makar Sankranti Daan Items List in Hindi

इस दिन सूर्य धनु से निकलकर मकर राशि में प्रवेश करते हैं, इसलिए इसे मकर संक्रांति कहा जाता है। मान्यता है कि अगर आप इस दिन जो भी वस्तुएं दान करेंगे उसका फल आपको सौ गुना वापस होकर प्राप्त होता है। तो आइए जानते हैं कौन-कौन सी हैं वो चीजें जिन्हें मकर संक्रांति पर दान (Makar Sankranti Daan) जरूर से करना चाहिए -

तिल का दान

मकर संक्रांति पर तिल का सबसे अधिक महत्व है। इस दिन पानी में तिल डालकर स्नान किया जाता है। ऐसी मान्यता है कि शनि देवता ने अपने क्रोधित पिता सूर्य देव की पूजा काले तिल से ही की थी जिससे सूर्य देव प्रसन्‍न हो गए थे। मकर संक्रांति तिल का दान करके शनि दोष को भी दूर किया जा सकता है। इसलिए लोग इस दिन तिल विशेष तौर पर दान करते हैं। तिल के दान से अकाल मृत्यु नहीं होती है।

गुड़ का दान

आपने देखा होगा कि मकर संक्रांति का त्योहार पास आते ही बाजारों में गुड़ के लड्डूओं से छा जाते हैं। क्योंकि इस दिन गुड़ खाना भी शुभ माना जाता है और लोग गुड़ दान करते हैं। शिवपुराण में कहा गया है कि गुड़ के दान से मनचाही मुराद पूरी होती है और जीवनभर शुद्ध भोजन मिलता है।

खिचड़ी का दान

मकर संक्रांति को खिचड़ी का त्योहार भी कहा जाता है। इस दिन चावल और काले उड़द की खिचड़ी बनाई जाती है। साथ ही कच्ची या पक्की दोनों ही तरह से दान भी दी जाती है। इसमें काली उड़द की की दाल, नये चावल, नमक, मूली और पापड़ का सीधा निकाला जाता है और इसे अपने किसी मान्य या फिर गरीब, ब्राह्म्ण आदि को दक्षिणा के साथ दिया जाता है। ऐसा करने से घर में अन्न की कमी नहीं होती है। घर हमेशा धन-धान्य से भरपूर रहता है।

घी का दान

मकर संक्रांति के दिन आप अपनी क्षमता अनुसार देसी घी का दान कर सकते हैं। ऐसी मान्यता है कि मकर संक्रांति के दिन देसी घी का दान जरूर करना चाहिए। इससे घर में सुख-समृद्धि आती है। शिवपुराण में बताया गया है की देसी घी का दान करने से स्वास्थ्य बेहतर रहता है।

ऊनी वस्त्र का दान

मकर संक्रांति ठंड के मौसम में पड़ती है, इसीलिए ऊनी वस्त्रों को इस दौरान करना बेहद पुनित माना जाता है। आप इस दिन ऊनी मोजे, टोपी, शॉल, स्वेटर या कंबल दान कर सकते हैं। कहते हैं कि ऐसा करने से राहु का अशुभ प्रभाव नहीं पड़ता और आपको रोग-दोष से मुक्त रहते हैं।

POPxo की सलाह : MYGLAMM के ये शानदार बेस्ट नैचुरल सैनिटाइजिंग प्रोडक्ट की मदद से घर के बाहर और अंदर दोनों ही जगह को रखें साफ और संक्रमण से सुरक्षित!

Beauty

Ultimate Germ Defence 35 Sanitizing Wipes + 30 Sanitizing Towels + 4 Moisturizing Hand Sanitizers

INR 999 AT MyGlamm