क्या आपके कान में हो जाते हैं पिंपल? अगर हां, तो इन घरेलू नुस्खों से पाएं इनसे छुटकारा

क्या आपके कान में हो जाते हैं पिंपल? अगर हां, तो इन घरेलू नुस्खों से पाएं इनसे छुटकारा

क्या कभी आपके कान में पिंपल (Pimple in Ear) हुआ है? अगर हां तो आपको पता होगा कि ये कितना अनकंफर्टेबल होता है और कितना परेशानदायक भी होता है। और अगर आपको इयरफोन या फिर इयरबड्स का इस्तेमाल करने की आदत है तो फिर आपको कानों में होने वाले पिंपल से अधिक परेशानी होती होगी।
हालांकि, ऐसी स्थिति में पिंपल को फोड़ने, दर्द सहन करने या फिर सामान्य मुंहासों की क्रीम का इस्तेमाल करने से बेहतर है कि आप घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल करें क्योंकि इनके कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होते हैं। दरअसल, कानों में वैक्स या फिर ऑयल बनता है और इस वजह से वो डेड स्किन सेल्स के साथ मिक्स हो जाते हैं और पिंपल का कारण बनते हैं। ये हानिकारक तो नहीं होते हैं लेकिन इंफेक्शन होने का खतरा रहता है। इस वजह से इन्हें इग्नोर नहीं करना चाहिए। तो चलिए आपको बताते हैं पिंपल से छुटकारा (Home Remedies for Pimple in Ear in Hindi) पाने के कुछ घरेलू नुस्खे।

इन नुस्खों से पाएं कान में होने वाले पिंपल से छुटकारा- Home Remedies to Get Rid of Ear Pimples in Hindi

टी ट्री ऑय

जब आपके कान में इंफेक्शन या फिर बैक्टीरिया अटैक करते हैं तो टी ट्री ऑयल की एंटीमाइक्रोबल और एंटी इंफ्लामेटरी प्रोपर्टी बहुत असरदार होती है। टी ट्री ऑयल इसके लिए बेस्ट ऑप्शन है क्योंकि ये पिंपल के कारण बनने वाले एजेंट्स को दूर करता है। 
ऐसे करें इस्तेमाल
- बाउल  में 2 टेबलस्पून टी ट्री ऑयल डालें। आप चाहें को इसे हल्का गर्म भी कर सकते हैं।
- अब एक साफ कॉटन लें और उसे गर्म टी ट्री ऑयल में भिगोएं।
- अब इसे सीधे अपने पिंपल पर लगाएं और रातभर के लिए लगा कर छोड़ दें।
- रोज एक बार इसका इस्तेमाल करने से कुछ दिनों में ही आपको इसका असर दिखाई देने लगेगा।

दही और ओटमील

दही और ओटमील सेहल के लिए तो फायदेमंद होता ही है लेकिन साथ ही ये चेहरे पर होने वाले ब्रेकआउट और त्वचा को नुकसान पहुंचाने वाले एजेंट्स को भी दूर करता है। इसमें काफी अधिक मात्रा में एंटी ऑक्सिडेंट्स भी होते हैं और जो मुंहासों को दूर रखते हैं।
ऐसे करें इस्तेमाल
- एक मिक्सिंग बाउल में 1 टेबलस्पून फ्रेश दही और ओटमील डालें।
- अच्छे से मिला लें और 1/4 टीस्पून शहद डालें।
- अब एक ब्रश लें और इसकी पेस्ट को पिंपल पर लगाएं।
- कम से कम 25 और 30 मिनट के लिए लगा छोड़ दें और फिर पानी से मुंह धो लें।
- रोज एक बार इसका इस्तेमाल करें। 

सिट्रस जूस

सिट्रस फलों की एक खास बात ये होती है कि इन सभी में काफी अधिक मात्रा में विटामिन सी होता है। इस वजह से शरीर से इंफेक्शन और बैक्टीरिया को दूर रखते हैं। ऐसे में आप मुंहासों से छुटकारा पाने के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। 
ऐसे करें इस्तेमाल
- अपनी पसंद के किसी भी सिट्रस फल को लें। जैसे, संतरा, अंगूर, सेब, नींबू आदी।
- अब 1-2 चम्मच इसका रस एक कटोरी में निकाल लें।
- अब इसमें कॉटन बॉल डालें और पिंपल पर लगाएं।
- कम से कम 15 से 20 मिनट के लिए इसे लगा रहने दें।
- इसके बाद हल्के गर्म पानी से धो लें।
- दिन में दो बार इसे लगाएं।

लहसून

लहसून को इसकी मेडिक्लिनल प्रोपर्टी के लिए जाना जाता है और कई बीमारियों को दूर करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। जब बात मुंहासें और पिपंल की आती है तो इसकी एंटीमाइक्रोबल प्रोपर्टी बहुत काम आती हैं। यह पिंपल का कारण बनने वाले बैक्टीरिया को दूर करता है। 
ऐसे करें इस्तेमाल
- लहसून की 2 तुरी लें और उसे अच्छे से ग्रेट कर लें।
- एक छोटे ब्रश से इसे सीधे पिंपल पर लगाएं।
- कम से कम 20 मिनट के लिए लगा छोड़ दें।
- इसके बाद अच्छे से पानी से साफ कर लें।
- दिन में एक बार इस घरेलू नुस्खें का इस्तेमाल करें।

कोल्ड कंप्रेस

आइस पैक बंप्स और इंफ्लामेशन को शांत करने के लिए काफी उपयोगी होते हैं। यहां तक कि स्टडी में सामने आया है कि नियमित रूप से कोल्ड कंप्रेस करने से त्वचा की गर्मी खत्म हो जाती है। 
ऐसे करें इस्तेमाल
- एक आइस क्यूब लें और अपने मुंहासें पर लगाएं।
- अब इसे जेंटली पिंपल पर 2 से 3 मिनट के लिए प्रेस करें।
- थोड़ी देर के लिए हटाएं और दोबारा से लगाएं।
- कम से कम दिन में 3 बार इसे लगाएं और कान के पिंपल से छुटकारा पाएं।
POPxo की सलाह: MyGlamm के इस शीट मास्क के साथ अपनी त्वचा को बनाएं ग्लोइंग और खूबसूरत।

Beauty

GLOW Iridescent Brightening Sheet Mask

INR 199 AT MyGlamm