शरीर में रोग प्रतिरोधजानिए स्वास्थ्य के लिए एलोवेरा के फायदे और उपयोग - Aloe Vera ke Fayde

एलोवेरा के फायदे, Aloe Vera ke Fayde

एलोवेरा को घृतकुमारी भी कहते हैं। एलोवेरा बहुत गुणकारी पौधा है, जिसके मोटे-मोटे पत्तों में जूस भरा होता है। एलोवेरा के पत्तों में कई विटामिन और फोलिक एसिड जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। एलोवेरा के ऐसे ही अनेक गुण बॉडी के सिस्टम को सही तरीके से चलाने के लिए महत्वपूर्ण होते हैं। एलोवेरा शरीर के लिए अनेक तरह से फायदेमंद है। एलोवेरा का पौधा रेतीली मिट्टी और नदी के किनारो में अधिक पाया जाता है। वैसे एलोवेरा को हिंदी में घृतकुमारी, घी ग्वार, तेलुगु में कलाबंदा, तमिल में कतरलाई, मलयालम में कुमारी, कन्नड़ में लोलिसारा, मराठी में कोरफाड़ा और बंगाली में घृतकुमारी जबकि अंग्रेजी में इसे Aloe Vera (एलोवेरा के फायदे इन हिंदी) के नाम से जाना जाता है। एलोवेरा का इस्तेमाल सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि बहुत से देशों में औषधीय रूप से किया जाता है। एलोवेरा आज के समय में सबसे अधिक उपयोगी पौधा बन चुका है। विश्व भर में एलोवेरा की 400 से ज्यादा प्रजातियां पाई जाती हैं लेकिन उनमें से केवल 5 प्रजातियां ही हमारे स्वास्थ्य के लिए गुणकारी हैं।
यहां हम आपको गुणकारी एलोवेरा के बारे में हर वो जानकारी देंगे जो आपको जाननी जरूरी है। जैसे कि एलोवेरा जूस के फायदे, एलोवेरा जेल के फायदे, एलोवेरा जूस के नुकसान, एलोवेरा के फायदे और नुकसान, एलोवेरा के लाभ, एलोवेरा खाने के फायदे, एलोवेरा के फायदे इन हिंदी, एलोवेरा जूस लाभ, एलोवेरा जूस के फायदे और नुकसान, एलोवेरा जूस पीने के तरीके आदि।

Table of Contents

    एलोवेरा के औषधीय गुण

    पहले समय में एलोवेरा का प्रयोग औषधीय रूप में किया जाता था और वर्तमान के समय में बहुत सी दवाइयों और ब्यूटी प्रोडक्ट्स में इसका इस्तेमाल किया जाता है। एलोवेरा में कई औषधीय गुण होते हैं, जिसकी वजह से हमारे स्वास्थ्य के लिए सुरक्षा कवच का काम करता है। एलोवेरा में एंटीसेप्टिक, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण के साथ-साथ फोलिक एसिड, विटामिन्स और खनिज प्रदार्थ होते हैं, जो हमारे शरीर से कई बीमारियों को दूर करने में सक्षम होते हैं।

    स्वास्थ्य के लिए एलोवेरा के फायदे - Aloe Vera Khane ke Fayde

    एलोवेरा एक हेल्थ टॉनिक की तरह हमारी सेहत के लिए लाभकारी है। घृतकुमारी एक मात्र ऐसा पौधा है जो कई गंभीर बीमारियों से लड़ने की ताकत रखता है। एलोवेरा के औषधीय गुण व एलोवेरा के फायदे इतने अधिक हैं कि अगर कोई व्यक्ति रोजाना एलोवेरा का उपयोग करे तो स्वस्थ्य जीवन व्यतीत कर सकता है। तो आइए जानते हैं स्वास्थ्य के लिए एलोवेरा के फायदे विस्तारपूर्वक जानते हैं -

    कैंसर के विकास को रोकने में मददगार

    एलोवेरा के लाभ कैंसर जैसी बीमारी को रोकोने में बेहद कारगर होते हैं। क्योंकि एलोवेरा में कैंसररोधी तत्व पाये जाते हैं जो कि कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने से रोकते हैं। रोजाना एलोवेरा के सेवन से शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और इससे कैंसर ठीक होने की संभावना बढ़ जाती है।

    ओरल हेल्थ के बेस्ट

    ओरल हेल्थ को मेनटेन रखने के लिए भी आप एलोवेरा का इस्तेमाल कर सकते हैं। मुंह में बीमारी पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करने में एलोवेरा बेहद मददगार है। एलोवेरा का इस्तेमाल माउथ वॉश की तरह करने से इसमें मौजूद एंटीमाइक्रोबायल गुण आपके मुंह के स्वास्थ्य को दुरस्त बनाये रखते हैं।

    इम्यून सिस्टम बढ़ाए

    नेशनल कैंसर इंस्टिट्यूट के अनुसार, एलोवेरा इम्यून बूस्टर की तरह भी काम कर व्यक्ति को स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है। इसमें पाये जाने वाले पोषक तत्व आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर कई बीमारियों से रक्षा करता है। इसलिए आप एलोवेरा को अपने जीवनशैली का हिस्सा जरूर बनाएं।

    वजन कम करने

    मोटापा हर बीमारी की जड़ है और समय रहते ही इसपर काबू पाना बेहद जरूरी है। अपना वजन तेजी से कम करने के लिए आप एलोवेरा का सेवन कर सकते हैं। रोजाना खाली पेट एलोवेरा का जूस पीने से  मोटापा धीरे धीरे कम होने लगता है। दरअसल, एलोवेरा में मौजूद एंटी-ओबेसिटी गुण की वजह से डाइट के कारण होने वाली मोटापे की समस्या कम हो सकती है। इस वजह से वजन कम करने के लिए इसका (एलोवेरा के फायदे इन हिंदी) इस्तेमाल किया जा सकता है।

    डायबिटीज को करे कंट्रोल

    एलोवेरा आपके हाई ब्लड प्रेशर और शुगर दोनों को ही कंट्रोल करने में काफी हद तक मददगार साबित होता है। एलोवेरा का एंटी-डायबिटिक गुण डायबिटिज में प्रभावकारी हो सकता है। क्योंकि एलोवेरा में हाइपोग्लाइसेमिक (ग्लूकोज को कम करने वाला) प्रभाव होता है, जिसके चलते यह ब्‍लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है।

    दिल और दिमाग दोनों का रखे ख्याल

    एलोवेरा के सेवन से दिल और दिमाग दोनों ही चुस्त और दुरुस्त बना रहता है। एलोवेरा दिल के रोग के जोखिम व दवाइओं के दुष्प्रभाव से होने वाली समस्याओं को कम कर सकता है। इसी के साथ एलोवेरा का अर्क ब्लड सर्कुलेशन को तेज करता है और एक ही समय में इसे शुद्ध करता है। वहीं एलोवेरा स्मरण शक्ति को बेहतर करने में भी मददगार हो सकता है। साथ ही नर्वस सिस्टम से जुड़े विकारों को भी दूर करता है।

    गठिया के दर्द से छुटकारा

    एलोवेरा को गठिया के लिए आयुर्वेदिक दवाई के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। एलोवेरा में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण के कारण इसका जूस हड्डियों के दर्द में राहत देता और उन्हें मजबूत बनाता है। एलोवेरा के लाभ ऑस्टियोआर्थराइटिस के इलाज में भी देखने को मिलते हैं।

    कब्ज से राहत

    जिन लोगों कोलम्बे समय से कब्ज की शिकायत है उनके लिए एलोवेरा का जूस बेहद फायदेमंद हो सकता है। एलोवेरा में लैक्सेटिव गुण पाया जाता है जो मल को मुलायम कर पेट को साफ करने का काम करता है।

    कोलेस्ट्रॉल को करे संतुलित

    एलोवेरा का सेवन करने कोलेस्ट्रॉल कम होता है। जब हम एलोवेरा जेल का सेवन आंतरिक रूप से करते हैं, तो ये रक्त की गुणवत्ता में सुधार कर कोलेस्ट्रॉल और ग्लूकोज को संतुलित करने में मदद करता है।

    एलोवेरा जेल के फायदे - Aloe Vera Gel ke Fayde

    एलोवेरा जेल के फायदे के बारे में बात करें तो स्किन के साथ-साथ ये हमारे स्वास्थ्य के लिए भी बेहत फायदेमंद है। ड्राई स्किन, सनबर्न, पिंपल्स, बालों में डैंड्रफ, खुजली से लेकर के स्किन संबधी बीमारियों जैसे कि दाद, खाज और पित्ति की समस्या को दूर करने में सहायक है। एलोवेरा जेल का ज्यादातर इस्तेमाल स्किन की खूबसूरती बढ़ाने और गर्मी के मौसम में शरीर को ठंडक देने के लिए किया जाता है। एलोवेरा के पौधे से उसका जेल निकालना और उसे अपने ब्यूटी रूटीन में शामिल करना बेहद आसान और सबसे सस्ता तरीका है। इसी के साथ एलोवेरा जेल में पानी, नींबू मिलाकर आप इसे हेल्थ ड्रिंक (एलोवेरा जूस लाभ) के तौर पर भी पी सकते हैं।

    एलोवेरा जूस के फायदे - Aloe Vera Juice ke Fayde

    एलोवेरा को एक अनुकूलन माना जाता है। एलोवेरा जूस न केवल मानसिक तनाव से राहत देता है बल्कि शारीरिक तनाव से निपटने में भी मदद कर सकता है। एलोवेरा जूस में रोगों से लड़ने की क्षमता होती है, क्योंकि इसमें रोग प्रतिरोधक तत्व मौजूद होते हैं, जिससे शरीर में चुस्ती व स्फूर्ति बनी रहती है। एलोवेरा जूस मोटापे को घटाने में भी बेहद फायदेमंद होता है और ये सबसे बड़े एलोवेरा के लाभ में से एक है। स्किन के लिए एलोवेरा जूस के फायदे की बात करें तो एलोवेरा में पानी की मात्रा बहुत अधिक होती है इसलिए ये त्वचा को हाइड्रेट करता है। एलोवेरा जूस रोजाना पीने से त्‍वचा में जबरदस्त निखार आने लगता है। इससे आपकी स्किन लंबे समय तक जवां और चमकदार दिखने लगती है। 

    एलोवेरा खाने के फायदे - Aloe Vera Khane ke Fayde

    एलोवेरा के जेल और जूस से ज्यादा उसे डायरेक्टर खाने से फायदे होते हैं। जी हां, एलोवेरा की पत्तियों को आप सलाद में शामिल कर सकते हैं। ताजा एलोवेरा के पत्तों को धोकर इन्हें काट लें और इसका सेवन सलाद के रूप में करें। हफ्ते में 2-3 बार खाने से आपके रोजमर्रा की स्वास्थ्य और स्किन संबंधी समस्याएं धीरे-धीरे दूर होने लगेंगी। एलोवेरा खाने के फायदे, पाचन क्रिया में सुधार से लेकर, रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बूस्ट करने के साथ-साथ डायबिटीज जैसी बीमारी से छुटकारा दिलाने तक में नजर आते हैं।

    एलोवेरा के उपयोग - Aloe Vera Uses in Hindi

    एलोवेरा के फायदे क्या-क्या हैं और एलोवेरा बेहद गुणकारी है आपने ये जान ही लिया है। तो अब बारी है एलोवेरा के उपयोग जानने की। क्योंकि एलोवेरा का पत्ते, जड़ और फूलों का इस्तेमाल विभिन्न तरीकों से किया जाता है। तो आइए जानते हैं कि एलोवेरा का उपयोग किन-किन तरीकों से किया जा सकता है -

    • एलवेरा का उपयोग आप इसका जेल निकाल कर जूस, काढ़ा के तौर पर कर सकते हैं। 
    • एलोवेरा का अर्क आप अपने टूथपेस्ट में भी शामिल कर सकते हैं।
    • मीठे एलोवेरा की पत्तियों को छीलकर आप उसे छोटे-छोटे पीस में काटकर खा भी सकते हैं।
    • इसके अलावा एलोवेरा का जेल का इस्तेमाल आप बालों को पोषण देने के लिए हेयर पैक की तरह कर सकते हैं।
    • जले, कटे घाव को भरने के लिए आप ऊसपर डायरेक्ट एलोवेरा जेल लगा सकते हैं।
    • एलोवेरा की कांटेदार पत्तियों को छीलकर एवं काटकर उसका रस निकालकर रोजाना 3-4 चम्मच सुबह खाली पेट लेने से शरीर में शक्ति व चुस्ती-स्फूर्ति बनी रहती है।

    एलोवेरा के नुकसान - Aloe Vera ke Nuksan

    एलोवेरा के फायदे तो आप जान ही गये होंगे लेकिन इससे कई नुकसान भी हैं। जी हां, आपको जानकार हैरानी होगी मगर औषधीय गुण रखने वाला यही एलोवेरा फायदे के साथ शरीर को कई तरह के नुकसान भी पहुंचाता है। दरअसल, एलोवेरा में मौजूद लैक्सेटिव (दस्तकारी) के कारण आपको कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। तो आइए जानते हैं एलोवेरा के नुकसान के बारे में -

    • एलोवेरा स्किन के लिए वरदान तो हैं लेकिन इसका जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल हमारी स्किन को खराब भी कर सकता है। इसके अत्यधिक इस्तेमाल से स्किन में एलर्जी, रेडनेस, खुजली होने के साथ-साथ और भी कई तरह की दिक्कतें आ सकती हैं।
    • एलोवेरा जूस का जरूरत से ज्यादा सेवन करने से ब्लड शुगर भी जरूरत से ज्यादा कम होने का खतरा बना रहता है। इसीलिए कम ब्लड शुगर वालों को इसका ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए।
    • इसी के साथ अगर आप किसी तरह की बीमारी से पीड़ित हैं तो एलोवेरा जूस का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें नहीं। क्योंकि एलोवेरा जूस आपकी दवाओं के साथ लेने पर प्रतिकूल असर डाल सकता है।
    • गर्भवती महिलाओं को भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके सेवन से उनका गर्भाशय संकुचित हो सकता है, जिससे गर्भ में पल रहे बच्चे के जन्म में दिक्कत हो सकती है।
    • एलोवेरा जूस का ज्यादा सेवन करने से ब्लड प्रेशर भी जरूरत से ज्यादा कम होने का खतरा बना रहता है। 
    • जिन लोगों को पाचन संबंधित समस्याएं यानि कि IBS हैं उन्हें एलोवेरा जूस के सेवन से परहेज करना चाहिए।
    • एलोवेरा जूस का ज्यादा सेवन करने से डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है। 
    • कभी भी 12 साल से कम उम्र के बच्चों को एलोवेरा का सेवन न कराएं। एलोवेरा का जूस छोटे बच्चों के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

    नोट - वैसे एलोवेरा जूस के नुकसान इतने ज्यादा नहीं है जितने की एलोवेरा जूस के फायदे। एलोवेरा जूस का संतुलित मात्रा में सेवन करके आप इसके फायदों का आनंद उठा सकते हैं।

    एलोवेरा जूस पीने के तरीके से जुड़े सवाल और जवाब FAQs

    एलोवेरा चेहरे पर कैसे लगाएं?

    इसके लिए आपको बस पौधे से एलोवेरा के तने का एक टुकड़ा काटना होगा। फिर चाकू से इसके बीच से दो पीस कीजिए और इसके अंदर जेल को चम्मच के जरिए एक बाउल में निकाल लीजिए। फिर एलोवेरा जेल (एलोवेरा के फायदे इन हिंदी) को अपने चेहरे पर समान रूप से ठंडा करने वाले मास्क के रूप में लगा लीजिए। इसे कुछ मिनटों तक रहने दें और फिर ठंडे पानी से धो लें।

    एलोवेरा कब लगाना चाहिए?

    एलोवेरा को लगाने के कोई ऐसे खास नियम नहीं हैं। आप इसे अपनी सहूलियत के हिसाब से किसी भी समय स्किन पर अप्लाई कर सकते हैं। वैसे रात के समय में एलोवेरा जेल लगाकर सोने से स्किन संबंधी समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है।

    आंवला और एलोवेरा जूस के फायदे क्या हैं ?

    आंवला और एलोवेरा जूस के फायदे सेहत के लिए बहुत ही लाभदायक होते है। क्‍योंकि एलोवेरा और आंवला को आयुर्वेद में विशेष औषधी और जड़ी बूटी के रूप में उपयोग किया जाता है। आंवला और एलोवेरा जूस के फायदे डायबिटीज कंट्रोल करने, वजन कम करने, हृदय को स्‍वस्‍थ रखने, पाचन को ठीक करने के साथ ही त्‍वचा और बालों के लिए होते हैं।

    एलोवेरा जूस कब पीना चाहिए?

    एलोवेरा जूस रोजाना सुबह खाली पेट पीने से कई डायबिटीज, हार्ट और पेट संबंधी कई विकारों से बचाव किया जा सकता है। एलोवेरा जूस पीने के तरीके बहुत से हो सकते हैं लेकिन ये उनमें से सबसे सुरक्षित और प्रभावी तरीका है।

    पतंजलि एलोवेरा जूस के फायदे क्या हैं?

    पंतजलि एलोवेरा जूस हमारे शरीर के लिए एक सुरक्षा कवच का काम करता है। पंतजलि एलोवेरा जूस के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि इसमें एलोवेरा का लगभग शुद्ध रस होता है, जिसमें कोई हानिकारक रसायन और कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है। ये शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है और रोगो से शरीर को बचाता है।

    POPxo की सलाह : MYGLAMM के ये शनदार बेस्ट नैचुरल सैनिटाइजिंग प्रोडक्ट की मदद से घर के बाहर और अंदर दोनों ही जगह को रखें साफ और संक्रमण से सुरक्षित!

    Beauty

    Ultimate Germ Defence 35 Sanitizing Wipes + 30 Sanitizing Towels + 4 Moisturizing Hand Sanitizers

    INR 999 AT MyGlamm