कैरेटिन या फिर हेयर स्पा, जानें बालों के लिए कौन सा हेयर ट्रीटमेंट है अच्छा

कैरेटिन या फिर हेयर स्पा, जानें बालों के लिए कौन सा हेयर ट्रीटमेंट है अच्छा

किसे शाइनी, सॉफ्ट और स्मूथ बाल नहीं अच्छे लगते हैं? सबको ही अच्छे लगते हैं और इस वजह से कई महिलाएं अपनी सैलरी और पॉकेट मनी हेयर प्रोडक्ट्स पर खर्च कर देती हैं। हम में से कई महिलाएं या लड़कियां अक्सर ही नए हेयर ट्रीटमेंट, प्रोडक्ट या फिर शैंपू और तेल देखती रहती हैं। इनमें से दो बहुत ही मशहूर हेयर ट्रीटमेंट में हेयर स्पा और कैरेटिन ट्रीटमेंट शामिल है। हालांकि, कई बार ये तय कर पाना मुश्किल हो जाता है कि दोनों में से कौन सा ज्यादा बेहतर है और आपको कौन सा हेयर ट्रीटमेंट कराना चाहिए। इस वजह से आज हम आपको ये बताने वाले हैं कि कैरेटिन या फिर हेयर स्पा में कौन सा अच्छा होता है और आपको कौन सा हेयर ट्रीटमेंट (Hair Treatment) कराना चाहिए।

कैरेटिन ट्रीटमेंट और हेयर स्पा में अंतर- Keratin Treatment Vs Hair Spa in Hindi

क्या होता है कैरेटिन ट्रीटमेंट

हमारे बाल एक प्रोटीन से बने होते हैं, जिसे कैरेटिन कहते हैं। ये हमारे बालों को बाहरी तत्वों से बचाता है और हमें ग्लॉसी हेल्दी शाइनी बाल देते हैं और रोज़ के प्रदूषण, बालों में इस्तेमाल किए गए स्टाइलिंग टूल्स, शैंपू और हेयर प्रोडक्ट से पहुंचे नुकसान से बचाता है। बालों का जो प्राकृतिक कैरेटिन होता है, वो कई कारणों की वजह से निकल जाता है, जिससे बाल फ्रिजी, ड्राई और डेड हो जाते हैं। कैरेटिन ट्रीटमेंट की मदद से आपके बालों को वापस से प्रोटीन मिलता है और आपके बालों की खोई हुई चमक एक बार फिर से लौट आती है। 
कैरेटिन ट्रीटमेंट (Keratin Treatment) आपके बालों को स्मूथ नहीं बनाता है बल्कि इसकी जगह ये आपके बालों को मैनेजेबल बनाता है। आपको हेयर स्ट्रेटनिंग के बाद जिस तरह से एकदम सीधे बाल मिलते हैं, वैसे बाल कैरेटिन ट्रीटमेंट के बाद नहीं मिलते हैं। कैरेटिन ट्रीटमेंट के बाद आपके बालों का प्रोटीन वापस मिल जाता है। हालांकि, हर किसी के बालों पर कैरेटिन का अलग असर दिखता है और ये बालों के टाइप, लेंथ और वो कितने डैमेज हुए हैं, इस पर आधारित होता है। कैरेटिन ट्रीटमेंट का असर 3 से 4 महीनों तक रहता है और इस दौरान आपको अपने बालों का अच्छे से ध्यान रखना होता है। 

कैसे अलग है हेयर स्पा?

हेयर स्पा (Hair Spa) एक रूटीन ट्रीटमेंट होता है, जिसमें मसाज, स्टीम, हेयर वॉश और सीरम शामिल होता है। इसका असल 15 से 20 दिन के लिए रहता है और ये आपके पोर्स और स्कैल्प की डीप कंडिशनिंग करता है। ये आपके बालों के मॉइश्चर को रेजुवेनेट करता है और बालों की खोई चमक को लौटाता है लेकिन इसमें अन्य कोई प्रोटीन नहीं होता है। यह कैरेटिन के मुकाबले कम वक्त के लिए होता है और हेयर टाइप के अनुसार आपको हर कुछ वक्त बाद हेयर स्पा लेते रहना चाहिए।

आपके लिए क्या ज्यादा अच्छा है?

अब आप कैरेटिन ट्रीटमेंट और हेयर स्पा के बीच का अंतर जानते हैं और इस वजह से आपको दोनों के फायदों और नुकसान के बारे में भी समझ आ गया आ गया होगा। अगर आपको लगता है कि आपके बालों को नरिशमेंट की एक्स्ट्रा डोज की जरूरत है तो आपको कैरेटिन कराना चाहिए। अगर आपको बालों को थोड़ा सा मेंटेन करना है तो आपके लिए हेयर स्पा अच्छा ऑप्शन है। 
इस वजह से अपने बालों के अनुसार ही आपको यह तय करना चाहिए कि आपके बालों के लिए क्या ज्यादा बेहतर है। आप स्पा या फिर हेयर ट्रीटमेंट के लिए किसी भी भरोसेमंद सलून में जा सकती हैं या फिर आप पहले काउंसलिंग भी ले सकती हैं। 
POPxo की सलाह : MYGLAMM के ये शनदार बेस्ट नैचुरल सैनिटाइजिंग प्रोडक्ट की मदद से घर के बाहर और अंदर दोनों ही जगह को रखें साफ और संक्रमण से सुरक्षित!

Beauty

WIPEOUT Sanitizing Wipes 25 Wipes Pack

INR 159 AT MyGlamm