इम्युनिटी बढ़ाने से लेकर डाइजेशन दुरुस्त बनाने तक, बेहद फायदेमंद होता है हल्दी वाला दूध

इम्युनिटी बढ़ाने से लेकर डाइजेशन दुरुस्त बनाने तक, बेहद फायदेमंद होता है हल्दी वाला दूध

रसोई में पाए जाने वाली हल्दी न सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ाती है, बल्कि सेहत का खास ख्याल भी रखती है। हल्दी में कई तरह के औषधीय गुण होते हैं, जिनकी वजह से हल्दी का प्रयोग दवा के रूप में भी किया जाता है। यह एक बेहतरीन एंटी ऑक्सिडेंट, एंटी- वायरल, एंटी-फंगल, एंटी-म्यूटाजेनिक और एंटी-इंफ्लेमेट्री होता है। इतने सारे औषधीय गुण हल्दी को इतना खास बना देते हैं। यही वजह है कि सदियों से लोग भोजन में इसका इस्तेमाल करने से लेकर हल्दी के दूध (Turmeric Milk) का सेवन करते आ रहे हैं।

हल्दी वाले दूध को गोल्डन मिल्क (Golden Milk) के नाम से भी जाना जाता है। चमकीला पीला दूध इम्युनिटी बढ़ाने के साथ-साथ स्वास्थ्य को कई तरह से फायदा पहुंचाता है। दूध में सिर्फ चुटकी भर हल्दी का इस्तेमाल कर आप खुद को स्वस्थ और फिट रख सकते हैं।

रात में हल्दी का दूध पीने के फायदे- Benefits of Drinking Turmeric Milk at Night

इम्युनिटी बूस्टर

अक्सर आपने घर में देखा होगा कि बड़े-बूढ़े हल्दी वाला दूध पीने की सलाह देते हैं। क्योंकि हल्दी वाला दूध इम्युनिटी को बूस्ट करने में काफी मददगार होता है। हल्दी में लिपोपॉलीसैकराइड होता है। जो एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल और एंटी-फंगल एजेंट होने की वजह से इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है। सर्दी-जुखाम, खासी और फ्लू जैसी समस्याओं से खुद को बचान के लिए आपको हल्दी वाले दूध का सेवन ज़रूर करना चहिए।

डाइजेशन दुरुस्त करे

रात को दूध में हल्दी मिलाकर पीने से शरीर से विषैले टॉक्सिन बाहर निकल जाते हैं जिससे डाइजेशन सिस्टम दुरुस्त रहता है। जिससे आपको डायरिया, कब्ज, गैस, पेट के अल्सर, अपच व पेट की अन्य समस्याओं से निजात मिल सकती है। इसके अलावा हल्दी वाला दूध ब्लड प्यूरीपफायर यानी प्राकृतिक रूप से खून साफ करने का काम भी करता है। और शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है।

सूजन व जोड़ों के दर्द से राहत

गठिया, जोड़ों के दर्द और शरीर के अन्य दर्द को दूर करने के लिए गोल्डन मिल्क पीना फायदेमंद होता है। एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होने की वजह से हल्दी वाला दूध अर्थराइटिस की वजह से होने वाली सूजन को कम करने में भी सहायक होता है।आयुर्वेद में भी हल्दी वाले दूध को दर्द निवारक बताया गया है।

सांस संबंधी समस्याओं से छुटकारा

सांस की तकलीफ वाला व्यक्ति यदि रोजाना हल्दी वाला दूध पिए तो उसके शरीर का तपमान बढ़ेगा और उसे आराम मिलेगा। हल्दी वाला दूध एक एंटी-माइक्रोबायल है, जो बैक्टीरियल और वायरल इंफेक्शन से लड़ता है। यह दूध सांस संबधि समस्याओं जैसे साइनस, अस्थमा और ब्रोंकाइटिस जैसी समस्याओं में राहत पहुंचाता है।

स्किन ग्लोइंग बनाए

हल्दी वाले दूध का सेवन स्वास्थ के साथ-साथ हमारी स्किन के लिए फायदेमंद होता है। यह दूध पाने से त्वचा में निखार आता है। एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर होने की वजह से यह त्वचा संबधि रोगों जैसे खुजली, मुहांसे और इंफेक्शन आदि से निजात दिलाता है। और त्वचा को प्राकृतिक तरीके से निखारता है।

बेहतर नींद के लिए

रात के समय हल्दी वाला दूध पीना उन लोगों के लिए फायदेमंद होता है जिन्हें रात में नींद नहीं आती या जो लोग रात के समय नींद के दौरान बेचैन हो जाते हैं। हल्दी में अमीनो एसिड होता है जिसकी वजह से इसे दूध में मिलाकर पीने से नींद अच्छी आती है।

Beauty

WIPEOUT Sanitizing Wipes 25 Wipes Pack

INR 159 AT MyGlamm