काम की बात: इन तरीकों से करें खाने-पीने वाली चीजों में मिलावट की पहचान

काम की बात: इन तरीकों से करें खाने-पीने वाली चीजों में मिलावट की पहचान

आजकल लोगों की जरूरत को ध्यान में रखकर बहुत सी चीजें ऐसी हो गई हैं, जिनकी बाजार में डिमांड दिनोदिन बढ़ती जा रही है, खासतौर पर खाने-पीने वाले सामान की। आपके किचन की जरूरत की लगभग हर चीज़ बाजार में मौजूद है, इसीलिए लोग अब अपनी सहजता के अनुसार ज्यादातर चीजें बाहर से ही खरीद लेते हैं। इन्हीं सब बातों का फायदा उठाकर बाजारों में मिलावटी सामान भी धड़ल्ले से बिक रहा है। ये मिलावट एक तरह से जहर का काम करती है, जिसका असर धीरे-धीरे होता है।

कैसे करें घर पर ही मिलावटी चीजों की पहचान How to Detect Food Adulteration At Home In Hindi

रोजमर्रा में इस्तेमाल होने वाले मिलावटी खाद्य पदार्थों के सेवन से लोगों की सेहत पर बेहद बुरा असर पड़ रहा है। कम लागत में ज्यादा मुनाफा कमाने के चक्कर में कुछ दुकानदार खाने-पीने तक की चीजों से छेड़छाड़ कर रहे हैं। एक अनुमान के अनुसार, आमतौर पर खाने-पीने वाली चीजों, जैसे - घी, मावा, तेल, चीनी, चावल, दूध, मसाले आदि में मिलावट ज्यादा होती है, लेकिन समय की कमी के चलते हम बिना जांचे-परखे मिलावटी सामान ही खरीद रहे हैं। अब ऐसा आगे से न हो, इसीलिए यहां हम आपको कुछ ऐसे आसान से होम टेस्ट टिप्स एंड ट्रिक्स बता रहे हैं, जिनकी मदद से आप अपने किचन के सामान में मिलावट की पहचान कर सकते हैं। 

शहद (Honey)

शहद खाने के एक नहीं, बल्कि बहुत से फायदे हैं। अक्सर देखा गया है कि लोग बिना किसी जांच-परख के शहद खरीद लेते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि शहद में भी काफी मिलावट की जाती है। साथ ही ऐसा जरूरी नहीं है कि हर ब्रांड का शहद शुद्ध ही हो। 

नकली शहद की पहचान कैसे करें -
शहद की शुद्धता पहचानने के लिए सबसे आसान तरीका है कि शहद की एक बूंद को अंगूठे और उंगली के बीच रखें और तार बनाने की कोशिश करें। अगर तार मोटा बन रहा है और शहद अंगूठे पर ही जमा है तो वह शुद्ध है। वहीं, नकली शहद पतला तार बनाता है और उंगलियों पर फैल भी जाता है। इसके अलावा आप चाहें तो एक पतली लकड़ी पर रुई लपेट कर उस पर शहद लगा लें। इसके बाद उसे मोमबत्ती की आंच पर रखें। अगर रुई जलने लगे तो शहद शुद्ध है। शहद अगर जलने में समय ले तो यह पक्का है कि उसमें पानी या फिर अन्य किसी पदार्थ की मिलावट की गई है। 

लाल मिर्च पाउडर (Red chilli powder)

लाल मिर्च पाउडर हर घर के किचन में इस्तेमाल होता है। क्या आपको पता है कि लाल मिर्च पाउडर में मिलावट करने वाले लोग गेरू और बुरादा रंग कर मिला रहे हैं। इसमें नकली रंग भी मिला हुआ होता है। 

 

नकली लाल मिर्च पाउडर की पहचान कैसे करें -
लाल मिर्च पाउडर में मिलावट है कि नहीं, ये जानने के लिए एक चुटकी लाल मिर्च को पानी से भरी कटोरी में डालकर देंखे। अगर पाउडर पानी में तैर जाता है तो वह शुद्ध है, लेकिन अगर वह डूब जाए तो समझ लीजिए कि इसमें मिलावट की गई है।

दूध (Milk)

बहुत से लोगों को ये लगता है कि दूध में सिर्फ पानी की ही मिलावट होती है। अगर आप भी यही सोचते हैं तो आप गलत है, क्योंकि दूध में पानी के अलावा डिटर्जेंट पाउडर, यूरिया, साबुन और अन्य घातक केमिकल्स की भी मिलावट की जाती है। यहां तक कि लोग इन्हीं मिलावटी चीजों से नकली दूध भी तैयार कर देते हैं।

नकली दूध की पहचान कैसे करें - 
पैकेट वाले दूध की शुद्धता जांचने के लिए किसी लकड़ी या पत्थर के सामान पर दूध की एक-दो बूंदें गिराइए। अगर दूध बह जाता है और उस जगह पर सफेद निशान पड़ जाते हैं तो दूध असली है। सिंथेटिक दूध में अगर यूरिया मिला हुआ है तो वह गाढ़े पीले रंग का हो जाता है। आप चाहें तो दूध को गिलास में डालकर उसे सूंघ भी सकते हैं। अगर उसमें से डिटेर्जेंट वाली महक आ रही है तो पक्का वह मिलावटी है। 

चावल (Rice)

बहुत से लोगों को शायद जानकर हैरानी होगी कि आजकल चावल भी बाजार में नकली बिक रहा है। जी हां, इन दिनों प्लास्टिक के चावलों की भरमार है। इस तरह के चावल पकने के बाद असली और नकली में फर्क करना मुश्किल हो जाता है। क्या आप जानते हैं कि इस चावल को खाने से आप कैंसर जैसी भयानक बीमारी तक के शिकार हो सकते हैं।

 

प्लास्टिक के चावल की पहचान कैसे करें - 
असली चावल की तुलना में प्लास्टिक चावलों में चमक ज्यादा होती है। साथ ही इनके आकार में भी अंतर होता है। नकली चावल एक जैसे आकार के होते हैं, लेकिन असली चावल कई आकारों के होते हैं। वहीं नकली चावल असली की तुलना में देर से पकते हैं और कम महकते हैं।

हरी सब्जियां (Green Vegetables)

अक्सर आपने देखा होगा कि आजकल मार्केट में आने वाली हरी सब्जियां कुछ ज्यादा ही चटक हरे रंग की होती हैं। इन्हें ज्यादा हरा दिखाने के लिए इसमें मेलाकाइट ग्रीन कलर मिलाया जाता है। ये कैमिकल हमारी सेहत के लिए बेहद खतरनाक होता है।

 

मिलावटी हरी सब्जियों की पहचान कैसे करें - 
हरी सब्जी जैसे- मटर, तरोई, पालक, बथुआ, सोया मेथी, शिमला मिर्च, भिंडी आदि की शुद्धता पहचानने के लिए इन्हें थोड़ी देर के लिए पानी में डालकर रखें। अगर यह हरा रंग छोड़ने लगें तो समझ लीजिए कि इनमें मिलावट है।

धनिया पाउडर (Coriander Powder)

खाना बनाने में इस्तेमाल होने वाला प्रमुख भारतीय मसाला धनिया पाउडर भी मिलावट से अछूता नहीं है। इसमें चोकर, लकड़ी का बुरादा और सूखा गोबर मिलाकर बाजारों में बेचा जाता है।

 

मिलावटी धनिया पाउडर की पहचान कैसे करें - 
धनिया पाउडर की जांच करने के लिए पानी भरे एक गिलास में चूटकी भर धनिया पाउडर डालें। अगर पानी में भूसी ऊपर तैरती हुई दिखती है तो वह धनिया पाउडर पूरी तरह से मिलावटी होगा। बेहतर यही रहेगा कि सूखे धनिया के बीज को घर में लाकर मिक्सी में पीस लें और उसी को खाना बनाने में इस्तेमाल करें।

चाय पत्ती (Tea Leaf)

चाय की चुस्की लेना पसंद है तो चाय पत्ती की जांच कर लें, क्योंकि चाय के अलावा भी अन्य पत्तियों को साथ में सुखाकर उसमें रंग मिक्स कर दिया जाता है। इन खतरनाक मिलावटी रंगों के कारण ही कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियां अपने पांव पसार रही हैं।

 

मिलावटी चाय पत्ती की पहचान कैसे करें - 
सफेद रंग के पेपर पर थोड़ी सी चाय पत्ती लें और उसे पेपर से ही आपस में रगड़ें। अगर पेपर पर रंग आ जाता है तो इसका मतलब है कि चाय पत्ती में 100% मिलावट की गई है।

.. अब आएगा अपना वाला खास फील क्योंकि Popxo आ गया है 6 भाषाओं में ... तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा - अंग्रेजीहिन्दीतमिलतेलुगूबांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।