जानिए बीयर से बाल धोने के फायदे व इस्तेमाल करने के आसान तरीके

जानिए बीयर से बाल धोने के फायदे व इस्तेमाल करने के आसान तरीके

बाल हर किसी की खूबसूरती का बेहद अहम हिस्सा होते हैं। बाल काले-घने और लंबे हों तो उन पर शायरियां तक की जाती हैं। वहीं बाल कम हों तो 'बाला' और ‘उजड़ा चमन’ जैसी फिल्में बन जाती हैं। हमारी पर्सनैलिटी को निखारने और कॉन्फिडेंस को बढ़ाने में खूबसूरत बालों का बड़ा योगदान होता है। इनके लिए हम क्या-क्या नहीं करते। पार्लर में घंटों बिता देते हैं, प्रोडक्ट्स पर बेहिसाब खर्च करते हैं। यहां तक कि घरेलू नुस्खे भी अपनाते हैं, मगर क्या आप जानते हैं कि इन सबके अलावा बीयर का इस्तेमाल भी बालों की खूबसूरती में चार चांद लगा देता है।

बीयर से बाल धोने के फायदे

Shutter Stock

एल्कोहल का सेवन सेहत के लिए हानिकारक है, लेकिन बीयर में मौजूद एल्कोहल की थोड़ी सी मात्रा भी बालों के लिए किसी वरदान से कम नहीं। बीयर से बाल धोने पर बालों की खोई हुई चमक लौट आती है, रूखे व फिज़ी बाल सिल्की बनते हैं और आसानी से सुलझ भी जाते हैं। कई मायनों में बीयर बालों के लिए कंडीशनर का काम करती है। बियर जौ के किण्वन से बनती है, इसलिए इससे बाल धोना काफी हद तक फायदेमंद होता है। जौ के किण्वन में विटामिन बी की प्रचुर मात्रा होती है और विटामिन बी बालों और स्कैल्प को पोषण देने का काम बखूबी करता है।

बीयर से कैसे धोएं बाल

बालों को बीयर का पूरा फायदा मिले, इसके लिए बीयर से बाल धोने के सही तरीके के बारे में पता होना बेहद ज़रूरी है। हम आपको यहां बीयर से बाल धोने के तरीके बता रहे हैं, जिनकी मदद से आपके बाल भी बन सकते हैं, कोमल, मुलायम व चमकदार।

बीयर को डी-कार्बोनेट करें

Shutter Stock

बीयर को डी-कार्बोनेट करने का मतलब है, इससे बनने वाले कार्बन डाइऑक्साइड को मुक्त करके बीयर को सपाट यानी फ्लैट करना। बालों पर बीयर का इस्तेमाल करने से पहले ज़रूरी है कि इससे कार्बन डाइऑक्साइड की मात्रा ख़त्म हो जाए, क्योंकि इससे बाल कठोर व रूखे बन सकते हैं। कार्बन डाइऑक्साइड की उपस्थिति शैंपू के प्रभावों में बाधा डाल सकती है और बालों को धोना कठिन बना सकती है। 
बीयर से कार्बन डाइऑक्साइड को मुक्त करने के लिए इसे एक जग या कटोरे में डालें और रात भर या दिन भर रखा रहने दें, जिससे यह अच्छी तरह नीचे बैठ जाए। 

बालों में शैंपू करें

Shutter Stock

आपके बालों को जो भी शैंपू सूट करता है या फिर जिस शैंपू का इस्तेमाल आप करते है, उसे सामान्य रूप से लगाएं। बस कंडीशनर रहने दें, उसे न लगाएं, क्योंकि बीयर आपके बालों पर कंडीशनर की तरह ही काम करेगी।
अब आप अपनी फ्लैट बीयर को एक बंद कंटेनर या बोतल में स्थानांतरित कर सकते हैं और बाल धोने के लिए इसे अपने साथ बाथरूम में ले जा सकते हैं।

बीयर से बालों की मसाज करें

Shutter Stock

शैंपू से अच्छी तरह बालों को धो लेने के बाद फ्लैट बीयर को अपने बालों में डालें और कुछ मिनट तक स्कैल्प पर रहने दें। बीयर सिर की तैलीय त्वचा को कंट्रोल करने में भी मदद करती है।  
आप अपने बालों के सिरों को भी बीयर में डुबो सकते हैं। बीयर के साथ अपने पूरे सिर की मसाज करने से पहले कुछ देर के लिए अपने बालों में सेट रहने दें। उसके बाद लगभग 1 मिनट तक हल्के हाथों से बालों की मसाज करें।

बालों को धो लें

Shutter Stock

बालों पर मसाज करने के बाद उन्हें धो लें। ध्यान रहे, बीयर को पूरी तरह बालों पर से न धोएं, उसकी थोड़ी मात्रा बालों पर शेष रहने दें। बाद में बालों को सुखा लें। अच्छे रिजल्ट्स के लिए हफ्ते में कम से कम एक बार बालों को बीयर से वाॅश करें। 

बीयर वॉश को बेहतरीन बनाने के लिए क्या करें?

बीयर के प्रभाव को और प्रभावशाली बनाने के लिए आप बाल धोने से पहले बीयर में इज़ेंशियल ऑयल की कुछ बूंदें मिला सकते हैं। इससे न सिर्फ बालों को अधिक फायदा होगा, बल्कि बालों से बीयर की स्मेल की बजाय इज़ेंशियल ऑयल की खुशबू आएगी। इसके लिए आप यहां बताए गए कुछ इज़ेंशियल ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं। 
Shutter Stock

लेमन ऑयल

लेमन ऑयल बालों को मजबूत बनाता है, उनमें चमक लाता है और रूसी खत्म करता है।

बादाम का तेल

बादाम का तेल स्कैल्प को मॉइश्चराइज़ कर उसके रूखेपन को दूर करता है। 

कैमोमाइल ऑयल

बीयर में कैमोमाइल ऑयल की कुछ बूंदें मिलाकर इस्तेमाल करने से बालों में चमक आती है और बाल नरम व मुलायम बनते हैं।

जोजोबा ऑयल

जोजोबा ऑयल बालों के लिए बहुत ही फायदेमंद है। जोजोबा ऑयल बालों को पोषण प्रदान करता है और सिर की त्वचा को नमी देता है।

लैवेंडर ऑयल

लैवेंडर ऑयल बालों पर कंडीशनर के रूप में काम करता है। साथ ही बालों को मॉइश्चराइज़ कर उन्हें पोषित करता है।

चंदन का तेल

चंदन का तेल रूखे-सूखे व दोमुंहे बालों की समस्या से छुटकारा दिलाता है।   

.. अब आएगा अपना वाला खास फील क्योंकि Popxo आ गया है 6 भाषाओं में ... तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा - अंग्रेजीहिन्दीतमिलतेलुगूबांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।