‘ताल’, ‘बाजीराव मस्तानी’ और ‘कृष’ जैसी बड़ी फिल्मों को बॉक्स ऑफिस पर उठानी पड़ीं मुश्किलें

‘ताल’, ‘बाजीराव मस्तानी’ और ‘कृष’ जैसी बड़ी फिल्मों को बॉक्स ऑफिस पर उठानी पड़ीं मुश्किलें

हर साल दर्जनों बैनर और हर तरह के बजट वाली बॉलीवुड (Bollywood) फिल्में बॉक्स ऑफिस पर दस्तक देती हैं। उनमें से कुछ फिल्में लंबे समय तक हमारे दिलोदिमाग पर छाई रहती हैं तो वहीं कुछ को हम उनके रिलीज़ होने के कुछ समय बाद ही भूल जाते हैं। बॉलीवुड फिल्मों की लंबी फेहरिस्त में कुछ ऐसी सुपर-डुपर हिट फिल्में भी हैं, जिन्हें रिलीज़ होने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। सालों पहले रिलीज़ हुईं कुछ फिल्मों की लोकप्रियता आज तक बेशक बरकरार है, मगर एक समय ऐसा भी था, जब इनके रिलीज़ हो पाने पर भी शक की दीवार खड़ी हुई थी। जानिए, इन फिल्मों के बारे में।

हम तुम्हारे हैं सनम (Hum Tumhare Hain Sanam)

2002 में रिलीज़ हुई शाह रुख खान, माधुरी दीक्षित और सलमान खान स्टारर फिल्म ‘हम तुम्हारे हैं सनम’ को बनने में लगभग 6 साल लग गए थे। इस फिल्म का नाम पहले ‘हम आपके हैं सनम’ रखा गया था, मगर रिलीज़ होने से पहले ही आप को तुम कर दिया था।

इस फिल्म की स्टार कास्ट अच्छी थी और काफी लोगों को यह पसंद भी आई थी, जबकि बॉक्स ऑफिस पर इसका रिकॉर्ड कुछ खास नहीं रहा था। बहुत कम लोग जानते हैं कि फिल्म की मेकिंग के दौरान भी इसे बंद करने का फैसला लिया गया था।

फैंटम (Phantom)

कैटरीना कैफ और सैफ अली खान अभिनीत इस फिल्म के निर्देशक कबीर खान थे। यह फिल्म लंबे समय तक उनकी पाइपलाइन में अटकी रही थी। इसी दौरान उन्होंने ‘बजरंगी भाईजान’ जैसी सुपरहिट फिल्म से दर्शकों को मोहित कर लिया था।

‘बजरंगी भाईजान’ के बॉक्स ऑफिस स्टेटस से ओवर कॉन्फिडेंस का शिकार हो चुके कबीर खान ने ‘फैंटम’ को रिलीज़ करने का निर्णय लिया, जो कि बॉक्स ऑफिस पर औंधे मुंह गिर गई थी। शायद इस फिल्म को रोकने का निर्णय ही बेहतर साबित होता।

घायल वंस अगेन (Ghayal Once Again)

सनी देओल उर्फ सनी पाजी की फिल्म ‘घायल’ को दर्शकों के एक बड़े वर्ग ने सिर-आंखों पर बिठाया था, मगर इसी फिल्म के सीक्वल ‘घायल वंस अगेन’ का एक्शन भी इसे पिटने से बचा नहीं पाया। खैर, दोनों फिल्मों के डायरेक्टर्स अलग थे और फिल्म की मेकिंग के दौरान स्क्रिप्ट पर तालमेल बिठाने में भी काफी समस्याएं आई थीं।

सिर्फ इतना ही नहीं, इस फिल्म को अपनी मेकिंग के दौरान ही फाइनेंशियली भी काफी कुछ सहना पड़ा था। सबको यही लगा था कि फिल्म ठंडे बस्ते में चली जाएगी, पर फिर सनी देओल ने चीज़ों को अपने हाथ में लेकर मैनेज कर लिया था।

जग्गा जासूस (Jagga Jaasoos)

रणबीर कपूर के प्रोडक्शन हाउस की पहली फिल्म ‘जग्गा जासूस’ को अपनी मेकिंग के दौरान ही कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ गया था। रणबीर कपूर और उनकी एक्स गर्लफ्रेंड कैटरीना कैफ अभिनीत इस फिल्म की रिलीज़िंग को रोकने के बारे में भी सोचा गया था।

रणबीर कपूर खुद इस फैसले के साथ थे, जबकि फिल्म के डायरेक्टर अनुराग बसु ऐसा बिल्कुल भी नहीं चाहते थे। आखिर में उन्होंने ही पूरी टीम को पुश किया और इस फिल्म को रिलीज़ करवाने में अहम भूमिका निभाई। इस फिल्म को बनने में 2 साल लग गए थे।

ताल (Taal)

1997 में सुभाष घई ने ‘शिखर’ नाम की एक फिल्म बनाने की घोषणा की थी, जिसमें वे जैकी श्रॉफ, ऐश्वर्या राय और शाह रुख खान को मुख्य भूमिकाओं में रखना चाहते थे। किसी वजह से वह फिल्म शुरू नहीं हो पाई थी और 1999 में स्क्रिप्ट में फेर-बदल करते हुए उसे ‘ताल’ नाम से रिलीज़ किया गया था।

फिल्म ‘ताल’ में अक्षय खन्ना, ऐश्वर्या राय और अनिल कपूर जैसे स्टार्स थे और इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर अपना झंडा बुलंद कर दिया था। इसके गाने आज तक लोगों की ज़ुबां पर चढ़े हुए हैं।

शिवाय (Shivaay)

2016 में दीवाली के मौके पर रिलीज़ हुई फिल्म ‘शिवाय’ से सभी को काफी उम्मीदें थीं। इस फिल्म में अजय देवगन, एरिका कार, वीर दास, एबिगेल और सायशा सहगल जैसे सितारे थे। शिवाय बने अजय देवगन ने फिल्म में एक पर्वतारोही की भूमिका निभाते हुए गजब का एक्शन किया था।

हालांकि, इस फिल्म को मेकिंग के दौरान बजट के कारण काफी समस्याएं उठानी पड़ीं। इस प्रोजेक्ट को दोबारा शुरू करवाने के लिए इसके 120 करोड़ के सुपर बजट को आखिरकार 80 करोड़ तक लाना पड़ा था।

पाकीज़ा (Pakeezaah)

एक तवायफ की मार्मिक कहानी पर बनी फिल्म ‘पाकीज़ा’ को बनने में लगभग 14 साल का लंबा समय लग गया था। इसकी मेकिंग में इतना ज्यादा समय लगने के कारण कई बार इसे बंद करने की योजना भी बनाई गई थी।

मीना कुमारी, राज कुमार और अशोक कुमार जैसे सितारों से सजी यह फिल्म 1972 में रिलीज़ हो पाई थी। इस फिल्म में गाए गए लता मंगेशकर के सुरीले गानों को आज भी याद किया जाता है।

कृष 3 (Krrish 3)

‘कोई मिल गया’ और ‘कृष’ की अभूतपूर्व सफलता के बाद 2013 में राकेश रोशन और ऋतिक रोशन ने ‘कृष 3’ के साथ किस्मत आज़माई थी। इस फिल्म में ऋतिक रोशन के साथ कंगना रनौत, विवेक ओबेरॉय और प्रियंका चोपड़ा को भी कास्ट किया गया था।

यह फिल्म ज़रूर हिट रही थी, पर इसकी मेकिंग की राह आसान नहीं थी। दरअसल, फिल्म की शूटिंग के दौरान ऋतिक रोशन को स्लिप डिस्क की समस्या हो गई थी, जिसके बाद डॉक्टर्स ने उन्हें बेड रेस्ट की सलाह दे दी थी।

बाजीराव मस्तानी (Bajirao Mastani)

बाजीराव और मस्तानी की प्रेम कहानी ने लोगों के दिलों में एक अलग जगह बना ली थी। इस फिल्म में रणवीर सिंह, दीपिका पादुकोण और प्रियंका चोपड़ा के अभिनय को काफी सराहा गया था।

हालांकि, बहुत कम लोग जानते हैं कि संजय लीला भंसाली ने फिल्म के लिए पहले सलमान खान और करीना कपूर खान का चयन किया था, मगर किन्हीं कारणों से इन दोनों स्टार्स ने इस फिल्म को होल्ड पर रखकर, ‘क्योंकि’ की शूटिंग शुरू कर दी थी। फिर भी संजय लीला भंसाली डटे रहे और आखिरकार 2015 में फ्रेश कास्ट के साथ ‘बाजीराव मस्तानी’ को रिलीज़ किया।

प्यासा (Pyasaa)

गुरुदत्त, माला सिन्हा और वहीदा रहमान जैसे सितारों से सजी फिल्म ‘प्यासा’ की गिनती आज भी बॉलीवुड की सर्वश्रेष्ठ फिल्मों में की जाती है। हालांकि, एक समय ऐसा भी था, जब फिल्म को मेकिंग के दौरान ही रोका जा रहा था।

दरअसल, फिल्म के लीड एक्टर गुरुदत्त ने 7 दिनों तक फिल्म की शूटिंग करने के बाद स्क्रिप्ट को लेकर अपनी नापसंदगी ज़ाहिर कर दी थी। वे उसमें कुछ बदलाव चाहते थे। उन बदलावों के बाद फिल्म की शूटिंग को दोबारा शुरू किया गया था और फिर इसी फिल्म ने अपनी ऊंचे दर्जे की कलात्मकता के चलते हिंदी फिल्मों के इतिहास में अपना नाम सुनहरे अक्षरों में दर्ज कराया।

 
अब आएगा अपना वाला खास फील क्योंकि POPxo आ गया है 6 भाषाओं में ... तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा - अंग्रेजी, हिन्दी, तमिल, तेलुगू, बांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।