दिल्ली के पास स्थित भारत की टॉप 5 वाइल्ड लाइफ सेंचुरी Best Wildlife Sanctuaries near Delhi in Hindi | POPxo

सर्दियों में घूमने के लिए बेस्ट हैं दिल्ली के पास ये बेहतरीन वाइल्ड लाइफ डेस्टिनेशंस

सर्दियों में घूमने के लिए बेस्ट हैं दिल्ली के पास ये बेहतरीन वाइल्ड लाइफ डेस्टिनेशंस

सर्दियों का मौसम घूमने के लिए बेस्ट माना जाता है, क्योंकि इस मौसम में आप भरी दोपहर में भी एंजॉय कर सकते हैं, जोकि गर्मियों में मुमकिन नहीं है। खासतौर पर तब, जब आप जंगल की सैर का प्लान बना रहे हों। गर्मियों के मुकाबले सर्दियों में जानवरों का बेफ्रिक अंदाज आपको वाइल्ड लाइफ सेंचुरी में देखने को आसानी से मिलता है, क्योंकि ठंड के दौरान धूप की गर्माहट लेने वे खुली जगहों पर आते हैं। जंगल सफारी के दौरान आपको भी ये नजारा देखने का मौका मिल सकता है। साथ ही, कुछ दिन भागदौड़ भरी जिंदगी से दूर प्रकृति की गोद में सुकून के पल बिताने का भी।

दिल्ली के पास स्थित भारत की टॉप 5 वाइल्ड लाइफ सेंचुरी Best Wildlife Sanctuaries near Delhi in Hindi

भारत न केवल विविधताओं का देश है, बल्कि वाइल्ड लाइफ यानी वन्य जीवन के रोमांच से भी भरा-पूरा है। अगर आप बीचेस, पहाड़ और बर्फ पड़ने वाली जगहों के अलावा कोई एंडवेंचर ट्रिप प्लान कर रहे हैं और वह भी फैमिली के साथ तो वाइल्ड लाइफ सेंचुरी की सैर से बढ़िया और कोई जगह हो ही नहीं सकती। यहां हम आपको बता रहे हैं देश की कुछ ऐसी बेहतरीन वाइल्ड लाइफ सेंचुरी के बारे में, जहां जाकर आप खुद को प्रकृति के सबसे करीब पाएंगे। साथ ही ये जगहें देश की राजधानी से भी बेहद करीब हैं।

जिम कॉर्बेट, उत्तराखंड

जिम कॉर्बेट दिल्ली वालों की सबसे पसंदीदा वाइल्ड लाइफ सेंचुरी में से एक है। लोग यहां एक-दो बार नहीं, बल्कि कई बार आते हैं। इसके पीछे कारण है, इसकी खूबसूरत लोकेशन और यहां के फेमस अन्य टूरिस्ट प्वॉइंट। एक बार में जिम कॉर्बेट घूमना नामुमकिन सा है, क्योंकि इसमें दाखिल होने के लिए एक-दो नहीं, बल्कि कई सारे गेट हैं, जो जंगल के अलग-अलग स्पॉट पर टूरिस्ट्स की सैर कराते हैं। आप यहां चाहें तो हाथी या जीप सफारी बुक करा सकते हैं। आप अपनी गाड़ी भी ले जा सकते हैं, लेकिन उसके लिए आपको पहले से परमिशन लेनी पड़ेगी। जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क घूमने के लिए बुकिंग काफी पहले से करानी होती है। यहां आपको जंगल में कई सारे झरने भी देखने को मिलेंगे। साथ ही टाइगर यहां लोगों को अक्सर देखने को मिल जाते हैं। खासतौर पर सर्दियों में ये रोड पर ही आराम फरमाते आपको मिल जाएंगे। नेचर वॉक करने के लिए दिल्ली के पास इससे अच्छी जगह शायद ही आपको मिलेगी।
कैसे पहुंचे- हवाई मार्ग (दिल्ली एयरपोर्ट), रेल मार्ग (रामनगर रेलवे स्टेशन) सड़क मार्ग दिल्ली से जिम कॉर्बेट - 270 कि.मी)

Travel On My Mind Passport Cover

INR 749 AT POPxo

रणथम्भौर नेशनल पार्क, राजस्थान

रणथम्भौर नेशनल पार्क को टाइगर रिजर्व परियोजना के तहत जाना जाता है। यहां टाइगर्स की अच्छी-खासी संख्या भी है। खासतौर पर ये जगह रॉयल बंगाल टाइगर्स के लिए प्रसिद्ध है। यहां आपको भारतीय तेंदुए, नीलगाय, जंगली सूअर, सांभर, धारीदार लकड़बग्घा, सुस्त भालू, मगरमच्छ और चीतल भी आसानी से देखने को मिल जाएंगे। जीप सफारी द्वारा आप इस जंगल का लुत्फ उठा सकते हैं। 
कैसे पहुंचे- हवाई मार्ग (कोटा एयरपोर्ट), रेल मार्ग (कोटा रेलवे स्टेशन) सड़क मार्ग दिल्ली से रणथम्भौर - 390 कि.मी)

राजाजी नेशनल पार्क, उत्तराखंड

राजाजी नेशनल पार्क उत्तराखंड राज्य के देहरादून और हरिद्वार के बीच में स्थित है। अगर आप खूबसूरत मौसम के साथ जंगल सफारी का आनंद उठाना चाहते हैं तो दिल्ली से थोड़ी ही दूरी तय करके आप राजाजी नेशनल पार्क आ सकते हैं। ये जगह नेचर लवर्स के लिए बेस्ट है। आप यहां अपने परिवार और दोस्तों के साथ आकर एंजॉय कर सकते हैं। 34 किलोमीटर के क्षेत्र में फैला ये नेशनल पार्क बेहद खूबसूरत है। यहां हाथी या फिर जीप सफारी से जंगल की सैर की जा सकती है। आपको वन्य जीवों में एशियाई हाथी, चीतल, मॉनिटर छिपकली, पैंथर, भालू, टाइगर, जंगली बिल्लियां, सांभर और किंग कोबरा भी देखने को मिल सकते हैं। 
कैसे पहुंचे- हवाई मार्ग (देहरादून एयरपोर्ट), रेल मार्ग (देहरादून या हरिद्वार रेलवे स्टेशन) सड़क मार्ग (दिल्ली से राजाजी नेशनल पार्क - 240 कि.मी)

दुधवा नेशनल पार्क, उत्तर प्रदेश

अगर आप वाइल्ड लाइफ सेंचुरी के साथ-साथ एंडवेंचर का भी मजा लेना चाहते हैं तो दुधवा नेशनल पार्क की ट्रिप प्लान कर सकते हैं। यहां आपको अन्य जगहों की तुलना में ज्यादा भीड़-भाड़ नहीं मिलेगी। आप शांति और सुकून के बीच जंगल को बेहद करीब देख सकते हैं। यह नेशनल पार्क लखीमपुर खीरी जिले में भारत-नेपाल सीमा पर स्थित है। इसमें बड़ी संख्या में जानवरों की लुप्तप्राय प्रजातियां पाई जाती हैं। दुधवा घूमने गए कई ट्रेवलर्स का कहना है कि सर्दियों में यहां टाइगर बहुत ही आसानी से और करीब से देखे जा सकते हैं। दुधवा नेशनल पार्क में पाए जाने वाले ख़ास जानवरों, जैसे- दलदली हिरण, सांभर हिरण, रैल, सियार, भालू, पैंथर हैं। बता दें कि दुधवा नेशनल पार्क बारहसिंघा का गढ़ है। यहां पर दुनिया भर में पाए जाने वाले बारहसिंघों में से लगभग आधे मौजूद हैं।
कैसे पहुंचे- हवाई मार्ग (लखनऊ एयरपोर्ट), रेल मार्ग (दुधवा रेलवे स्टेशन) सड़क मार्ग दिल्ली से दुधवा नेशनल पार्क - 464 कि.मी)

सरिस्का नेशनल पार्क, राजस्थान

अलवर शहर से 36 किमी. की दूरी पर स्थित सरिस्का नेशनल पार्क दिल्ली के पास घूमने के लिए सबसे बढ़िया जगहों में से एक है। सरिस्का देश के 28 टाइगर रिजर्वों में से एक है और यह लगभग 850 वर्ग किमी. के क्षेत्र में फैला हुआ है। अरावली की पहाड़ियां इस जगह को और भी खूबसूरत बना देती हैं। यहां पर टाइगर्स को दोबारा लाकर बसाया गया है। कहा जाता है कि पांडवों ने अपने वनवास के दौरान सरिस्का में आश्रय लिया था, जिसके साक्ष्य आज भी वहां मौजूद हैं। इस जंगल में आपको टाइगर के साथ ही लक्कड़बग्गा, जंगली बिल्ली, चौसिंगा, चिंकारा, बिज्जू और तेंदुए देखने को मिलेंगे। इनके अलावा इस नेशनल पार्क में सुनहरी पीठ वाला कठफोड़वा पर्यटकों के आर्कषण का मुख्य केंद्र रहता है।
कैसे पहुंचे- हवाई मार्ग (जयपुर एयरपोर्ट), रेल मार्ग (अलवर रेलवे स्टेशन) सड़क मार्ग दिल्ली से सरिस्का - 202 कि.मी)

वाइल्ड लाइफ सेंचुरी घूमने का प्लान कर रहे हैं तो इन बातों का रखें ध्यान

  • जंगल भ्रमण के लिए आप अपने निजी वाहनों का प्रयोग नहीं कर सकते हैं। इसके लिए पहले से परमिशन लेनी होती है।
  • जंगल में किसी भी तरह का ज्वलनशील पदार्थ अपने साथ नहीं रख सकते हैं।
  • इन सभी नेशनल पार्कों में यात्रियों के ठहरने के लिए अतिथि गृह और विश्राम गृह उपलब्ध होते हैं, लेकिन इसके लिए बुकिंग काफी समय पहले से ही करा ली जाती है।
  • जरूरी नहीं है कि आप जब भी जायें तो आपको टिकट मिल जायें, इसीलिए बुकिंग के बारे में पहले से ध्यान रखें।
  • ज्यादातर नेशनल पार्क जुलाई से लेकर सितम्बर तक बंद होते हैं। इसीलिए प्लान अक्टूबर और अप्रैल के बीच में ही बनाएं।

(आपके लिए खुशखबरी! POPxo  आपके लिए लेकर आए हैं आकर्षक लैपटॉप कवर, कॉफी मग, बैग्स और होम डेकोर प्रोडक्ट्स और वो भी आपके बजट में! तो फिर देर किस बात की, शुरू कीजिए शॉपिंग हमारे साथ।)
... अब आएगा अपना वाला खास फील क्योंकि POPxo आ गया है 6 भाषाओं में ... तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा - अंग्रेजीहिन्दीतमिलतेलुगूबांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।

Blogger Hoon Laptop Sleeve

INR 799 AT POPxo