जानिए पावर योगा और इससे जुड़ी हर ज़रूरी बात | Importance of Power Yoga | POPxo

जानिए पावर योगा और इससे जुड़ी हर ज़रूरी बात

जानिए पावर योगा और इससे जुड़ी हर ज़रूरी बात

खुद को स्वस्थ रखने की चाह तो हम सभी को होती है, लेकिन वक़्त की कमी हो तो सारे प्लांस रखे के रखे रह जाते हैं। दिन-भर की दौड़-भाग, ख़राब लाइफस्टाइल, बार-बार बनता-बिगड़ता रूटीन, खान-पान संबंधी लापरवाही, ऐसे में स्वस्थ रहने के लिए पावर योगा एक बेहतरीन तरीका है, जो आजकल सेलिब्रिटीज़ से लेकर आम लोगों के बीच तक सबसे ज्यादा पसंद किया जा रहा है।

Table of Contents

    पावर योगा क्या है? What is power yoga?

    भारतीय योग में सूर्य नमस्कार की सभी बारह मुद्राएं और कुछ अन्य विशिष्ट आसनों को मिलाकर बनाया गया पावर योगा एक प्रकार का सामान्य योग है, जिसका प्रयोग विन्यास-शैली (vinyasa-style) के योग द्वारा वजन कम करने के लिए किया जाता है। इसके अलावा सामान्य तौर पर इसे ‘जिम योगा’ (gym yoga) के नाम से भी जाना जाता है। 
    पावर योगा (power yoga) में मूल रूप से चार तरह की शारीरिक मुद्राएँ आती हैं।
    1. एप्पल के आकार की मुद्रा
    2. पियर के आकार की मुद्रा
    3. सामान्य मुद्रा और 
    4. ट्यूब के आकार की मुद्रा, ट्यूब मुद्रा को हम जीरो फिगर भी कहते हैं।
    पावर योगा में प्रत्येक मुद्रा के लिए अलग-अलग क्रियाएं होती हैं।

    पावर योगा क्यों जरूरी है? Why power yoga is important?

    पावर योगा की खासियत यह है कि इसमें ऐसे आसन होते हैं जो हार्ट रेट को बढ़ाकर कैलोरी कम करने में मदद करते हैं। साथ ही इन कठिन आसनों से शरीर की अतिरिक्त सारी चर्बी, यानी फैट पिघल जाता है और लचीलापन बहुत अधिक बढ़ जाता है, जिससे पूरा शरीर अच्छी तरह से टोन हो जाता है। यदि आपका वजन बहुत अधिक बढ़ गया है तो पावर योगा से आप आसानी से मोटापा कम कर सकते है। अक्सर बदन दर्द या कमर दर्द की शिकायत रहने वालों को इसे जरूर करना चाहिए, क्योंकि ये हड्डियां मजबूत करने का काम भी करता है।

    पावर योगा जिम और सामान्य योग से कैसे अलग है? ? How power yoga is different from Gym and traditional yoga?

    पावर योगा के द्वारा मसल्स बनाने से लेकर शरीर के अतिरिक्त फैट तक को कम किया जा सकता है। साधारण योग में जहां आसन, नियम और सांस की प्रक्रिया पर जोर दिया जाता है, वहीं पावर योगा वर्कआउट की तरह है, जिसमें विविध मुद्राएं और एक्सारसाइज होती हैं। पावर योगा एक तरह का योग ही है, लेकिन जहां साधारण योग में कई नियम हैं, वहीं पावर योगा में ये नियम जरूरी नहीं और इसमें समय भी ज्यादा से ज्यादा 45 मिनट का ही लगता है। इसे रोज करने की जरूरत भी नहीं होती है। एरोबिक्स, स्विमिंग तथा अन्य तरीकों की एक्सरसाइज करने से 1 घंटे में लगभग 300–400 तक की कैलोरी बर्न होती है, वहीं पावर योगा करके आप 1 घंटे में शरीर की 200 कैलोरी बर्न कर सकते है, लेकिन इससे होने वाला सबसे बड़ा फायदा ये है कि इतनी ही देर में ये शरीर को बेहतरीन तरीके से टोंड भी कर देता है और शरीर का स्टेमिना बढ़ाने का काम भी करता है।

    पावर योगा के फायदे. Benefits of power yoga

    तनाव से राहत 
    पावर योगा करने से तनाव का स्तर कम होता है। शरीर से जब अतिरिक्त पसीना बाहर निकल जाता है तो उसके साथ शरीर को नुकसान पहुंचाने वाले अधिकांश टॉक्सिंस भी बाहर आ जाते हैं, जिससे शरीर संतुलित हो जाता हैं और एकाग्रता बढ़ जाती है।
    बीमारियों से छुटकारा
    आज के समय में युवा अवस्था में भी शरीर बीमारियों का घर बन जाता है। पावर योग के करने से शरीर में खून का संचार बढ़ जाता हैं और शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता इतनी बढ़ जाती है कि अनेक बीमारियां जैसे- दमा, मधुमेह आदि जड़ से मिट जाती हैं और कई बीमारियां होती ही नहीं।

    पावर योगा के अन्य फायदे Other Benefits of Power Yoga

    1. शरीर को सही शेप में करता है 
    2. इसे करने में समय काफी कम लगता है। 
    3. इससे शरीर का स्टैमिना, ताकत और लचीलापन बढता है।
    4. इसे करते वक्त पसीना आता है और शरीर को डेटॉक्स करता है।
    5. 16 से 30 साल के युवाओं के लिए यह अच्छे और बेहतर परिणाम देता है|
    6. पावर योगा को रोज करने से रक्त का संचार बढता है और रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढती है।
    7. यह योग करने से शरीर की कैलोरी बर्न होती है इसलिए वजन घटाने वालो के लिए सबसे बेहतर एक्सरसाइज है।

    पावर योगा के आसन और उनका सही क्रम. Posture and sequence of power yoga

    पावर योगा के इन आसनों से आप स्वस्थ रह सकते हैं।

    पावर योगा नौकासन – Power Yoga Navasana (Boat Pose)

    फायदे 
    1. पेट को मजबूत करता है।
    2. पाचन में सुधार करता है।
    3. थायरॉयड और आंतों की समस्या को दूर करता है। 
    4. यह आसन आपके आत्मविश्वास में सुधार करता है और तनाव से राहत देता है।

    कैसे करें
    नौकासन करने के लिए आप एक योगा (yoga) मैट को बिछा के दोनों पैरों को अपने सामने सीधा करके बैठ जाएं, अब दोनों पैरों को सीधा रखें हुए ऊपर की ओर उठायें। अब आप थोड़ा सा पीछे की ओर झुक के संतुलन बनाए और हाथों को अपने आगे की ओर सीधा रखें। इस मुद्रा में आपके पैरों और शरीर के ऊपरी हिस्से के मध्य कमर पर 45 डिग्री का कोण बनना चाहिए। 

    समय - १० से ६० सेकंड

    पावर योगा अधोमुख श्वान आसन – Power Yoga Adho Mukha Svanasana

    फायदे
    1. आपको ऊर्जावान और तरोताजा करता है। 
    2. आपके फेफड़ों की क्षमता को बढ़ाता है 
    3. अवसाद से छुटकारा दिलाता है। 
    4. ऑस्टियोपोरोसिस को रोकने के लिए आपकी हड्डियों को मजबूत करती है।

    कैसे करें 
    इस आसन को करने के लिए आप सबसे पहले एक योगा मैट को बिछा के उस पर सीधे खड़े हो जाएं। अपने दोनों पैरों के बीच में थोड़ा सा अंतर रखें। अब आगे की ओर झुकते जाएं अपने दोनों हाथों को जमीन पर रखे। दोनों पैरों को हाथों से दूर करें जिससे आपके हाथ और रीढ़ की हड्डी एक सीधी रेखा में आ जाएं। इसमें आपके पैर और सीने के बीच 90 डिग्री का कोण बनेगा। 

    समय - 2-३ मिनट तक

    पावर योगा उष्ट्रासन – Power Yoga Ustrasana (Camel Pose)

    फायदे 
    1. आपकी पीठ और कंधों को मजबूत करता है। 
    2. आपकी श्वसन प्रणाली में सुधार करता है। 
    3. पीठ के निचले हिस्से में राहत देता है और आपकी जांघों को मजबूत करता है।  

    कैसे करें
    इस आसन को करने के लिए आप सबसे पहले एक योगा मैट को बिछा के उस पर घुटनों के बल खड़े हो जाएं। अब अपनी कमर के यहाँ से पीछे की ओर झुके और अपने दोनों हाथों को पीछे ले जाएं। आपने सिर को पीछे झुका लें और दोनों हाथों को पैर की एड़ियों पर रखें। 

    समय - 30 से 60 सेकंड

    पावर योगा उत्कटासन – Power Yoga Utkatasana (Chair Pose)

    फायदे 
    1. आपके दृढ़ संकल्प को बढ़ाता है 
    2. आपके घुटने की मांसपेशियों को टोन करता है। 
    3. यह आपकी एड़ियों, पिंडलियों और कूल्हे के फ्लेक्सर्स को मजबूत करता है।
    4. यह मुद्रा को करने से आपकी छाती खींचती है और आपके हृदय में रक्त संचार की गति तीव्र होती है। 

    कैसे करें
    इस आसन को करने के लिए आप सबसे पहले किसी योगा मैट को फर्श पर बिछा के उस पर सीधे खड़े हो जाएं। अपने दोनों हाथों को सिर के ऊपर लेकर जोड़ लें। अब धीरे-धीरे अपने घुटनों को मोड़े और कूल्हों को नीचे लाएं। इस स्थिति में आप एक कुर्सी के समान दिखाई देगें। 

    समय - 30 से 60 सेकंड

    पावर योगा शलभासन – Power Yoga Salabhasana (Locust Pose)

    फायदे
    1. शलभासन आपकी ऊपरी और निचली पीठ की मांसपेशियों को मजबूत करता है। 
    2. यह मुद्रा चिंता से छुटकारा दिलाती है और आपके मस्तिष्क को शांत करती है। 
    3. यह आसन आपकी बाहों को मजबूत करता है। 

    कैसे करें 
    इस आसन को करने के लिए आप एक स्थान पर योगा मैट को बिछा के उस पर पेट के बल लेट जाएं। दोनों हाथों और पैर को सीधा फर्श पर रखें। अब अपने धड़ और दोनों पैरो को ऊपर की ओर उठायें। साथ में दोनों हाथों को भी ऊपर उठायें। 
     
    समय - २० सेकंड

    पावर योगा चतुरंग दंडासन – Power Yoga Chaturanga Dandasana

    फायदे 
    1. चतुरंगा दंडासन आपकी स्थिरता को बढ़ाता है। 
    2. यह आपके दिमाग और शरीर को प्रभावित करता है। 
    3. आपकी बाहों, पैरों और कलाई को मजबूत करके आपकी सहनशक्ति को बढ़ाती है। 

    कैसे करें 
    चतुरंग दंडासन करने के लिए आप योगा मैट को जमीन पर बिछा के उस पर पेट के बल लेट जाएं। अपने दोनों हाथों को जमीन पर अपने कंधों से आगे रखें जिसमे आपकी उंगलियां सामने की ओर रहें। पैरों की उँगलियों पर जोर डालते हुए धीरे-धीरे अपने दोनों घुटनों को ऊपर करें। साँस को अंदर लेते हुयें अपने दोनों हाथों पर शरीर के वजन को उठायें। हाथ की कोहनी पर 90 डिग्री का कोण बनाएं।

    समय - १० से ३० सेकंड

    पावर योगा अर्ध चंद्रासन – Power Yoga Ardha Chandrasana (Half Moon Pose)

    फायदे 
    1. अर्ध चंद्रसन आपके पैरों, नितंबों और रीढ़ को मजबूत करता है। 
    2. यह आपके हैमस्ट्रिंग को फैलाता है और आपके कूल्हों को खोलता है। 
    3. शरीर में समन्वय और संतुलन बनाता है। 

    कैसे करें
    इस आसन को करने के लिए आप एक योगा मैट को फर्श पर बिछा के उस पर सीधे खड़े हो जाएं। दाएं पैर को आगे की ओर रखें और उसे पर शरीर का भर डालते हुए बाएं पैर को ऊपर उठायें। अब दाएं हाथ को फर्श पर रखें और बाएं हाथ को सामने की ओर सीधा कर लें। इस स्थिति में आपका शरीर फर्श के समान्तर रहेगा। 

    समय - १० से ३० सेकंड

    पावर योगा करने में सावधानियां Precautions while power yoga

    हर एक्सरसाइज को करे के लिए हमें गलती करने से बचना चाहिए और साथ ही बेहतर तरीकों से करना चाहिए ताकि हमें ज्यादा से ज्यादा और जल्दी से जल्दी लाभ मिल सकें।  वैसे तो पावर योग शुरुआती तौर पर किसी इंस्ट्रक्टर के निर्देश में ही करना चाहिए लेकिन अगर आप इसे घर पर कर रहे हैं तो इन बातों का ख्याल रखें -

    1. इसके लिए सुबह का समय होना जरूरी है।
    2. खाली पेट या फिर खाना खाने के तीन घंटे बाद ही इसका अभ्यास करें।
    3. एक सप्ताह में कम से कम तीन से पांच बार पावर योगा का अभ्यास जरूर करें।
    4. दिल के रोगियों के लिए पावर योगा का अभ्यास करना ठीक नहीं है|
    5. लो ब्लड प्रेशर वाले लोगो को इसे करने से बचना चाहिए|
    6. गर्भवती महिलाओ के लिए यह आसन नुकसानदायक है|
    7. यदि आपको कोई चिंता है, तो शक्ति योग या ज़ोरदार शारीरिक व्यायाम के किसी भी रूप का अभ्यास करने से पहले अपने डॉक्टर के साथ परामर्श करना सबसे अच्छा है।
    8. आप मधुमेह या गठिया जैसी पुरानी शारीरिक बीमारी से पीड़ित हैं, तो फिर पावर योगा करने से बचना चाहिए

    पावर योगा के बारे में पूछे जाने वाले पांच संक्षिप्त सवाल और उनके जवाब FAQ Five brief questions asked and answers about Power yoga

    1. क्या पावर योगा वजन कम करने के लिए सही है?
    पावर योग वजन काम करने के लिए सबसे बेहतर एक्सरसाइज है इसको बिना रुके किया जाता है जिससे शरीर से काफी पसीना निकलता है और कैलोरी बर्न होती है। 

    2. क्या पावर योगा शुरुआती एक्सरसाइज शुरू करने वालों के लिए सही है? 
    पावर योगा शुरुआत में किसी की देखरेख में ही करना चाहिए ताकि किसी भी इंजरी से बचा जा सके कुछ आसान एडवांस लेवल के होने के कारन इसे अकेले में करना ठीक नहीं । 

    3. क्या गर्भवती महिलाएं पावर योगा कर सकती हैं? 
    यदि आप गर्भवती हैं। कुछ आसन संभावित रूप से गर्भावस्था के दौरान जटिलताओं का कारण बन सकते हैं। इसलिए डॉक्टर की परामर्श के अनुसार ही किसी भी एक्सरसाइज को करें । 

    4. क्या  पावर योगा अन्या कार्डियो और ताकत बढाने वाली एक्सरसाइजों से बेहतर है? 
    जिम में कराये जाने वाली ज्यादतर एक्सरसाइज स्ट्रेचिंग से सम्बंधित हैं, जबकि पावर योगा न केवल मसल्स बल्कि शरीर के अंदरूनी हिस्सों के लिए भी उपयुक्त है। 

    5. क्या जिम के साथ पावर योगा किया जा सकता है ? 
    जो लोग जिम नहीं जाना चाहते हैं, उनके लिए पावर योगा अच्छा है, लेकिन पावर योगा के अंत में शवाशन और मेडिटेशन करना चाहिए। कारण यह है कि अधिक परिश्रम वाले इन व्यायामों को करने के बाद थकान ज्यादा महसूस होती है।
     

    (आपके लिए खुशखबरी! POPxo शॉप आपके लिए लेकर आए हैं आकर्षक लैपटॉप कवर, कॉफी मग, बैग्स और होम डेकोर प्रोडक्ट्स और वो भी आपके बजट में! तो फिर देर किस बात की, शुरू कीजिए शॉपिंग हमारे साथ।)
    ... अब आएगा अपना वाला खास फील क्योंकि POPxo आ गया है 6 भाषाओं में ... तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा - अंग्रेजी, हिन्दी, तमिल, तेलुगू, बांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।

    Read More from Wellness

    Load More Wellness Stories