जिलेटिन के फायदे और नुकसान - Benefits Of Gelatin In Hindi, Health Benefits of Gelatin in Hindi, Side Effects Of Gelatin in Hindi | POPxo

स्किन और बालों के साथ ही आपको शारीरिक तौर पर स्वस्थ रखने में भी मददगार है जिलेटिन - Benefits & Side Effects Of Gelatin

स्किन और बालों के साथ ही आपको शारीरिक तौर पर स्वस्थ रखने में भी मददगार है जिलेटिन - Benefits & Side Effects Of Gelatin

जब आप जिलेटिन के बारे में सोचते हैं तो आपके दिमाग में उछलते और नाचते डेज़र्ट की फोटो आती है। हो सकता है कि आपके बचपन का जिलेटिन रंग- बिरंगे जेल, मार्शमैलो और कैंडी से भरा हो लेकिन जिलेटिन सिर्फ एक डेज़र्ट नहीं है। जिलेटिन एक लाभकारी और शक्तिशाली प्रोटीन है, जो ग्लोइंग स्किन के लिए बेहतरीन तरीके से काम करता है। यह जोड़ों को मजबूत करने के साथ ही बाल और नाखूनों के स्वास्थ्य के लिए भी सही है। यह हेल्थ में सुधार लाता है और बेहतर नींद का कारण बनता है। जिलेटिन पशु हिस्सों में पाया जाता है, जो आवश्यक एमिनो एसिड प्रदान करता है। ये असल में प्रोटीन के बिल्डिंग ब्लॉक्स होते हैं। आज की डाइट में आमतौर पर स्किन, हड्डियां और कनेक्टिव टिश्यू नहीं होते हैं, जो इन एमिनो एसिड का मुख्य स्रोत होते हैं। इस तरह से आप और हम जैसे लोग जिलेटिन पाउडर से अतिरिक्त लाभ उठा सकते हैं।


स्किन के लिए लाभकारी जिलेटिन - Benefits Of Gelatin For Skin


जिलेटिन के स्वास्थ्य संबंधित लाभ - Health Benefits Of Gelatin


कैसे बनाएं घर पर जिलेटिन? - How To Make Gelatin At Home?


जिलेटिन के नुकसान - Side Effects Of Gelatin


5 फटाफट सवाल और उनके जवाब - FAQ's


क्या है जिलेटिन ? - What Is Gelatin?


pjimage %286%29


पशुओं की स्किन, खुर, कनेक्टिव टिश्यू और हड्डियों में पाए जाने वाले प्रोटीन कोलेजन को पका कर जिलेटिन बनाया जाता है। पकाने की प्रक्रिया के दौरान प्रोटीन्स के बीच का जुड़ाव टूट कर छोटा हो जाता है, जिसे आपका शरीर आसानी से अवशोषित कर सकता है। कोलेजन की तरह जिलेटिन को फायदेमंद एमिनो एसिड के साथ पैक किया जाता है, खासकर एंटी एजिंग सुपरस्टार ग्लाइसिन और प्रोलाइन, जिसकी कमी डाइट में रहती है। ये एमिनो एसिड जिलेटिन को खास तौर पर स्किन, जट और जोड़ों में होने वाले डैमेज को ठीक करने के लिए शक्तिशाली साबित हुए हैं। कोलेजन और जिलेटिन का एक ही स्रोत है, इनके एक समान एमिनो एसिड प्रोफाइल हैं। स्किन और कनेक्टिव टिश्यू के लिए कोलेजन को जो इलास्टिक गुण इतने लाभकारी बनाते हैं, वही भोजन बनाने में एजेंट के तौर पर काम आते हैं। जिलेटिन में वह खास क्षमता होती है, जो लिक्विड को जेल बना सकती है और जो जेली, ग्रेवी और जैम को अनोखा टेक्सचर दे सकती है। इस तरह से कलिनरी संभावनाओं को एक नई दुनिया मिलती है, जिसमें सॉस से लेकर फ्लफी पाइज तक शामिल हैं।


आपके बालों का पूरा ख्याल रखता है घी


जिलेटिन बनाम हाइड्रोलाइज्ड कोलेजन - Gelatin Versus Hydrolyzed Collagen


जब आप किसी फूड लेबल पर कोलेजन लिखा देखते हैं तो यह आम तौर पर जिलेटिन या हाइड्रोलाइज्ड कोलेजन होता है क्योंकि रियल कोलेजन का मतलब कच्चे कनेक्टिव टिश्यू या मीट से मिली स्किन को खाना है। जिलेटिन और हाइड्रोलाइज्ड कोलेजन न्यूट्रिशन के स्तर पर एक समान हैं और दोनों को कोलेजन युक्त खाद्य पदार्थों जैसे- हड्डी, कार्टिलेज और हुव्स (खुर) को पकाकर तैयार किया जाता है। यह प्रक्रिया कोलेजन में एमिनो एसिड को तोड़ती है, जिससे हमारे इंटेस्टाइनल ट्रैक्ट को पचाने और अवशोषित करने में आसानी होती है।


जिलेटिन और हाइड्रोलाइज्ड कोलेजन, दोनों ही अलग- अलग रासायनिक गुणों के साथ एक ही मूल्यवान एमिनो एसिड और न्यूट्रिशन प्रोफाइल्स प्रदान करते हैं। हाइड्रोलाइज्ड कोलेजन बनाने के लिए प्रयोग की जाने वाली अतिरिक्त प्रोसेसिंग से एमिनो एसिड छोटे टुकड़ों में टूट जाता है, जिसे कुछ लोगों को पचाने में आसानी होती है।


इसका मतलब यह भी है कि हाइड्रोलाइज्ड कोलेजन गर्म या ठंडे पानी में घुल सकता है, जबकि जिलेटिन को गर्म पानी की जरूरत होती है। हाइड्रोलाइज्ड कोलेजन से बिल्कुल अलग जेलेटिन, लिक्विड से जेल बनकर सॉस, जेली और यहां तक कि आइसक्रीम में भी गाढ़ापन जोड़ता है।


जिलेटिन के प्रयोग - Uses Of Gelatin


कई शोध और अध्ययन बताते हैं कि जिलेटिन के प्रयोग से ऑस्टियोआर्थराइटिस नामक आर्थराइटिस में दर्द से राहत मिलती है और जोड़ों की कार्यप्रणाली में सुधार आता है। इसके अलावा, ऑस्टियोपोरोसिस में भी राहत मिलती है। जिलेटिन के प्रयोग से बालों की क्वॉलिटी ठीक होती है और एक्सरसाइज व खेलने के दौरान लगी चोट भी जल्दी ठीक होती है। नाखूनों को मजबूती प्रदान करने और वजन कम करने में भी जिलेटिन का सेवन और प्रयोग बढ़िया माना गया है।


स्किन के लिए लाभकारी जिलेटिन - Benefits Of Gelatin For Skin


जिलेटिन आपकी स्किन की नमी और इलास्टिसिटी में सुधार लाने, हीलिंग को बूस्ट- अप करने और झुर्रियों को रोकने के लिए प्रोटीन प्रदान करता है। आपके शरीर को विशेष तौर पर एमिनो एसिड ग्लाइसिन, प्रोलाइन और हाइड्रॉक्सिप्रोलाइन की जरूरत होती है ताकि वह अपने कोलेजन का निर्माण कर सके, जो कि हेल्दी स्किन के लिए जरूरी है। आपका शरीर उम्र बढ़ने के साथ कम कोलेजन का निर्माण करता है तो जिलेटिन इन बिल्डिंग ब्लॉक्स की मदद से झुर्रियों, लटकती और सूजन से खराब हुई त्वचा से लड़ने में मदद करता है।


बाल मजबूत करता है जिलेटिन - Gelatin Strengthens Hair


pjimage %289%29


जिलेटिन बालों को मजबूत रखने के साथ ही झड़ने से भी बचाता है। बालों को घनत्व प्रदान करने में जिलेटिन की बड़ी भूमिका है। जिलेटिन से बाल के लिए एक खास किस्म का पैक तैयार किया जा सकता है। इसके लिए एक चम्मच जिलेटिन पाउडर को आधे कप ठंडे पानी में अच्छी तरह से मिला लें। इसके बाद आधा कप गर्म पानी, एक छोटा चम्मच एप्पल साइडर विनेगर और एक छोटा चम्मच शहद डालकर गाढ़ा लिक्विड तैयार कर लें। इसे सिर पर लगाएं और बाल के साथ ही स्कैल्प पर मसाज करें। पांच मिनट तक लगाए रखने के बाद गर्म पानी से धो लें। फिर सामान्य तरीके से शैंपू करें। शुरुआत में सप्ताह में दो- तीन बार ऐसे करें। बाद में हफ्ते में एक बार सिर्फ प्रबंधन के लिए करें। मोटे बालों की चाह रखने वाले लोग अपने शैंपू में एक छोटा चम्मच जिलेटिन पाउडर मिलाकर इससे बाल धो सकते हैं। यह बाल को टेक्सचर भी प्रदान करेगा।


जिलेटिन के स्वास्थ्य संबंधित लाभ - Health Benefits Of Gelatin


जिलेटिन के सेवन से स्वास्थ्य संबंधी कई लाभ मिलते हैं।


मजबूत हड्डियां - Strong Bones


pjimage %285%29


जिलेटिन के इलास्टिक गुण स्किन में गहराई से जाते हैं और कनेक्टिव टिश्यूज में हीलिंग और लचीलेपन को बढ़ावा देते हैं। अध्ययन भी बताते हैं कि हाइड्रोलाइज्ड कोलेजन सप्लीमेंट हड्डियों की मजबूती का कारण बनता है और आपके कार्टिलेज की डेंसिटी को बढ़ाता है। इस तरह से आपकी हड्डियां मजबूत होती हैं और जोड़ जल्दी खराब नहीं होते हैं। एक अध्ययन के तहत ऑस्टियोआर्थराइटिस से ग्रस्त 80 लोगों को जिलेटिन सप्लीमेंट या एक नकली दवाई 70 दिनों तक दी गई। जिन्होंने जिलेटिन का सेवन किया था, उनकी हड्डियों में दर्द कम था और जोड़ों में कठोरता भी कम थी।


गट हेल्थ - Gut Health


जिलेटिन में निहित प्रोटीन लीकी गट से होने वाले इंटेस्टाइनल वॉल डैमेज की मरम्मत करता है और आपकी आंतों के सुरक्षात्मक मकस लाइनिंग्स का फिर से निर्माण करता है। जिलेटिन आपके गट बैक्टीरिया की मदद करके ब्यूटरिक एसिड बनाने में मदद करता है, जो पाचन को बढ़ावा देने और मस्तिष्क की सूजन को कम कर सकता है।


डिटॉक्सिफिकेशन - Detoxification


जिलेटिन से डिटॉक्सिफिकेशन का मतलब जेल जूस से क्लींजिंग करना नहीं है। जिलेटिन और कोलेजन एमिनो एसिड मेथिओनीन में कम होते हैं और ग्लाइसिन में ज्यादा। ग्लाइसिन मेथिओनिन के सूजन के प्रभाव को संतुलित करने में मदद करता है, जो अधिक मीट के सेवन से जमा हो जाता है और अधिक होने पर दिल की बीमारी का कारण बन सकता है। ग्लाइसिन और ग्लूटेमिक एसिड, दोनों में ही जिलेटिन प्रचुर मात्रा में होता है, यह ग्लूटेथियोन का प्रमुख बिल्डिंग ब्लॉक भी है। एक प्रमुख डिटॉक्सिफाइंग एजेंट, जो आपके लीवर की सुरक्षा करता है, टॉक्सिन्स को प्रोसेस करता है और हेवी मेटल्स को निकालता है।


बेहतर नींद - Better Sleep


जिलेटिन में पाए जाने वाले एमिनो एसिड में शक्तिशाली ग्लाइसिन होता है, जो आरामदायक नींद को बढ़ावा देने में मददगार है। ग्लाइसिन आपके शरीर को तनाव वाले हॉर्मोन और चिंता को कम करने में मदद करता है। पढ़ाई करने वाले लोगों को गहरी नींद में तेजी से पहुंचने और अगले दिन तेज और अधिक सतर्क महसूस करने में मदद करता है। सबसे अच्छी बात तो यह है कि ग्लाइसिन दिन में नींद आने का कारण नहीं बनता है।


स्वस्थ मस्तिष्क - Healthy Brain


जिलेटिन में ग्लाइसिन बहुत होता है, जिसे मस्तिष्क की कार्यप्रणाली से जोड़ा जाता है। एक अध्ययन में पाया गया कि ग्लाइसिन लेने से याददाश्त और ध्यान के कुछ पहलुओं में काफी सुधार होता है। ग्लाइसिन को सीजोफ्रेनिया जैसे मेंटल हेल्थ डिसऑर्डर से भी जोड़ा गया है। हालांकि यह पूरी तरह से स्पष्ट नहीं है कि सीजोफ्रेनिया का क्या कारण है, लेकिन शोधकर्ताओं का मानना है कि यह एमिनो एसिड असंतुलन की वजह से हो सकता है। ग्लाइसिन एमिनो एसिड में से एक है, जिन सीजोफ्रेनिया वाले लोगों पर अध्ययन किया गया, उनके कुछ लक्षणों को कम करने के लिए ग्लाइसिन सप्लीमेंट्स दिए गए। यह भी पाया गया कि ऑब्सेसिसव कंपल्सिव डिसऑर्डर और बॉडी डिसमॉर्फिक डिसऑर्डर के लक्षण भी जिलेटिन के सेवन से कम होते हैं। ये सारे मानसिक शांति की ओर इशारा करते हैं।


वजन प्रबंधन - Weight Management


pjimage %2814%29


जिलेटिन फैट और कार्बोहाइड्रेट मुक्त है। इसमें कैलोरी भी काफी कम मात्रा में होती है। जिलेटिन का सेवन पेट को देर तक भरा महसूस कराता है। कई एथलीट वजन कम करने या वजन प्रबंधन के लिए जिलेटिन पाउडर का इस्तेमाल करते हैं। कई लोगों का मानना है कि यह ह्यूमन ग्रोथ हॉर्मोन को बूस्ट करने के साथ ही मेटाबॉलिज्म को भी बूस्ट- अप करता है। बिस्तर पर जाने के तीन घंटे पहले ही खाना खा लें। इसके बाद बिस्तर पर जाने के ठीक पहले एक चम्मच जिलेटिन पाउडर का सेवन करें। बेहतर तो यह होगा कि आप इसे एक- तिहाई कप ठंडे पानी में मिला लें, फिर इसमें दो- तिहाई कप गर्म चाय मिलाकर पी लें।


टाइप 2 डायबिटीज में मददगार - Helpful In Type 2 Diabetes


वजन घटाने में सहायता करने के लिए जिलेटिन की क्षमता टाइप 2 डायबिटीज वाले लोगों के लिए फायदेमंद हो सकती है, जहां मोटापा प्रमुख जोखिम भरे कारकों में से एक होता है। शोध में पाया गया है कि जिलेटिन का सेवन टाइप 2 डायबिटीज वालों को ब्लड शुगर पर नियंत्रण करने में भी मदद करता है। एक अध्ययन के दौरान, 74 टाइप 2 डायबिटीज वाले लोगों को तीन महीने तक रोजाना ग्लाइसिन या नकली दवा दी गई। ग्लाइसिन दिए गए समूह में तीन महीने के बाद एचबीए1सी रीडिंग काफी कम थी, साथ ही सूजन भी कम हो गई थी। एचबीए1सी एक व्यक्ति के औसत ब्लड शुगर स्तर को मापने का तरीका है, यानी कि लोअर रीडिंग का मतलब बेहतरीन ब्लड शुगर नियंत्रण है।


लीवर डैमेज को कम करने में सहायक - Helpful In Reducing Liver Damage


कई अध्ययन के तहत लीवर पर ग्लाइसिन के सुरक्षात्मक प्रभाव की जांच की गई। जिलेटिन में सबसे प्रचुर मात्रा में उपलब्ध एमिनो एसिड को अल्कोहल संबंधित लीवर डैमेज वाले चूहों की मदद के लिए दिखाया गया। एक अन्य अध्ययन में ग्लाइसिन दिए गए पशुओं में लीवर डैमेज में कमी आई थी। इसके अलावा लीवर की चोट वाले खरगोश पर किए एक अध्ययन में पाया गया कि ग्लाइसिन देने से लीवर की कार्य क्षमता और रक्त संचार बढ़ जाता है।


कैसे बनाएं घर पर जिलेटिन? - How To Make Gelatin At Home?


यूं तो दुकानों पर जिलेटिन मिल जाता है लेकिन आप चाहें तो घर पर ही पशुओं के हिस्सों से जिलेटिन बना सकते हैं। जिलेटिन बनाने के मुख्य स्रोत भेड़ का बच्चा, चिकन और मछली हैं। आपको चाहिए जानवरों की करीब डेढ़ किलोग्राम हड्डियां और कनेक्टिव टिश्यू, हड्डियों के डूब जाने के लायक पानी और एक चम्मच नमक (वैकल्पिक)। एक कुकर में धीमी आंच पर हड्डियों को पानी और नमक सहित डाल दें। उबाल आ जाने के बाद आंच धीमी कर दें। करीब पौने घंटे तक ऐसे ही गैस पर चढ़े रहने दें। जितनी देर तक यह गैस पर चढ़ा रहेगा, आपको उतना ही अधिक जिलेटिन मिलेगा। अब लिक्विड को छान लें, ठंडा होने दें। अगर उसमें फैट दिखे तो अलग कर दें। जिलेटिन तैयार है। इस जिलेटिन को हफ्ते भर तक फ्रिज में रख सकते हैं। फ्रीजर में यह एक साल तक रह जाएगा। ग्रेवी और सॉस बनाते समय इसका प्रयोग करें या डेजर्ट में मिलाएं।


किस तरह अपनी डाइट में शामिल करें जिलेटिन - How To Add Gelatin In Diet?


pjimage %2810%29


जिलेटिन को अपनी डाइट में शामिल करने के दो तरीके हैं- सीधे पाउडर वाले जिलेटिन को खरीद कर बेकिंग या खाद्य पदार्थों में शामिल कर लें या ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन बढ़ा दें, जिनमें पशुओं के कार्टिलेज, हड्डियां और स्किन होती हैं। आपके पूर्वज जिलेटिन और कोलेजन के सभी लाभों का उपयोग करते थे। वे पशुओं के हर हिस्से का सेवन करते थे, जिसमें कार्टिलेज, स्किन और हड्डियां शामिल हैं। लेकिन अब नॉन- वेज खाने वाले लोगों की संख्या में कमी की वजह से अधिकतर लोग जिलेटिन के इस स्रोत को खो चुके हैं।


अतिरिक्त जिलेटिन को भिगोने और अधिक बोन ब्रोथ को अपनी डाइट में शामिल करने के लिए ऐसे मीट का सेवन करना चाहिए, जिसमें कार्टिलेज या स्किन शामिल हो। बोन ब्रोथ से मिलने वाले जिलेटिन में अतिरिक्त मिनरल्स और पोषक तत्व होते हैं। पाउडर जिलेटिन भी एमिनो एसिड का बेहतरीन और लाभदायक स्रोत है। लेकिन बाजार में उपलब्ध सारे जिलेटिन पाउडर लाभदायक नहीं होते हैं।


जिलेटिन पाउडर खरीदते समय किन बातों का रखें ध्यान


जिलेटिन को मवेशियों, मुर्गियों, मछलियों से बनाया जाता है तो अपने लिए जिलेटिन को उसी तरह से चुनें, जिस तरह से अपने लिए मीट को चुनते हैं। बेहतर तो यह होगा कि आप अपने लिए ग्रास- फेड, ऑर्गेनिक जिलेटिन का चयन करें, जिसमें हीलिंग प्रोटीन लाभ ज्यादा होते हैं और जो कीटनाशक, हॉर्मोन और एंटीबायोटिक से बचे होते हैं। अपग्रेडेड कोलैजिलेटिन जिलेटिन का सबसे बढ़िया रूप है, जो हाइड्रोलाइज्ड कोलेजन और जिलेटिन के मिश्रण से बनता है। इसका प्रयोग रेसिपी में किया जा सकता है, जिसे आसानी से पचाया भी जा सकता है। इसे वेजीटेरियन और वीगन के लिए दुर्भाग्य की बात कहेंगे कि जिलेटिन को केवल पशुओं से प्राप्त किया जा सकता है।


जिलेटिन के नुकसान - Side Effects Of Gelatin


अधिकतर लोगों के लिए जिलेटिन सुरक्षित है लेकिन कुछ अध्ययन बताते हैं कि जिलेटिन कभी- कभी बेस्वाद सा भी लगता है। जिलेटिन का सेवन कई बार कुछ लोगों को पेट में भारीपन सा महसूस कराता है। यह ब्लॉटिंग का भी कारण बनता है। अभी तक इस बात के भी पुख्ता प्रमाण नहीं मिले हैं कि जिलेटिन सप्लीमेंट्स प्रेगनेंट महिलाओं या बच्चों के लिए सुरक्षात्मक हैं या नहीं। जिलेटिन के सेवन के बाद कुछ लोगों को एंग्जायटी और इनसोमनिया की समस्या भी हुई है। अगर आप कोई दवा खा रही हैं तो जिलेटिन सप्लीमेंट्स की शुरुआत करने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर बात करें।


5 फटाफट सवाल और उनके जवाब - FAQ's


1. क्या सारे जिलेटिन एक समान होते हैं?


जिलेटिन कोलेजन का बना होता है। जिलेटिन और कोलेजन हाइड्रोलिसेट में एक जैसे प्रोटीन होते हैं। लेकिन इनमें हल्का अंतर होता है।


2. क्या जिलेटिन ग्लूटेन मुक्त होता है?


बिल्कुल, जिलेटिन जानवरों की स्किन और हड्डियों से बनता है, न कि बार्ली, ओट्स या गेहूं जैसे स्रोत वाले ग्लूटेन से।


3. कितनी मात्रा में जिलेटिन का सेवन किया जा सकता है?


जितना आपका मन चाहे। लेकिन औसत तौर पर एक दिन में 2- 3 चम्मच काफी है।


4. क्या प्रोटीन पाउडर के तौर पर जिलेटिन का प्रयोग किया जा सकता है?


प्रति चम्मच जिलेटिन में 6 ग्राम प्रोटीन होता है। यह प्रोटीन पाउडर का बेहतरीन विकल्प बन सकता है। वर्कआउट करने से पहले इसे स्मूदी में डालकर पीना आसान है।


5. क्या जिलेटिन का कोई वीगन विकल्प मौजूद है?


नहीं, क्योंकि जिलेटिन का मुख्य स्रोत पशु हैं।


ये भी पढ़ें- 


सौंदर्य ही नहीं, सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद है नारियल का तेल


जानिए अश्वगंधा कैसे रखता है आपके स्वास्थ्य और सौंदर्य का ख्याल


इमेज सोर्स- Instagram


(आपके लिए खुशखबरी! POPxo शॉप आपके लिए लेकर आए हैं आकर्षक लैपटॉप कवर, कॉफी मग, बैग्स और होम डेकोर प्रोडक्ट्स और वो भी आपके बजट में! तो फिर देर किस बात की, शुरू कीजिए शॉपिंग हमारे साथ।)


... अब आयेगा अपना वाला खास फील क्योंकि Popxo आ गया है 6 भाषाओं में ... तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा - अंग्रेजी, हिन्दी, तमिल, तेलुगू, बांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।