अंडरआर्म्स के लिए वैक्सिंग क्रीम या शेविंग कौन सा तरीका है बेहतर - Underarm Hair Removal In Hindi

अंडरआर्म्स के लिए वैक्सिंग क्रीम या  शेविंग कौन सा तरीका है बेहतर - Underarm Hair Removal In Hindi

शरीर के अनचाहे बाल भला किसे पसंद होते हैं। खासतौर पर लड़कियों को खूबसूरत दिखने के लिए हर महीने इन्हें हटवाना ही पड़ता है। शरीर के बाल हटाने के कई विकल्प मौजूद होते हैं, जैसे- वैक्सिंग, शेविंग, रेज़र या फिर हेयर रिमूवल क्रीम। अब ये आप पर निर्भर करता है कि आप अपनी स्किन के लिए क्या चुनते हैं। हमारे शरीर के बाकी हिस्सों की तरह अंडरआर्म्स की सफाई रखना भी बहुत ज़रूरी है। अंडरआर्म्स की स्किन बाकी शरीर के मुकाबले अधिक नाज़ुक होती है साथ ही यहां बालों की संख्या भी अधिक होती हैं। यही वजह है कि इन्हें समय- समय पर हटाना ज़रूरी हो जाता है, वर्ना ये दिखने में खराब और भद्दे लगने लगते हैं। अगर आप गर्मियों में स्लीवलेस पहनने की शौकीन हैं तो आपको हमेशा ही इन्हें साफ़ रखना पड़ता है, वहीं सर्दियों में अंडरआर्म्स को साफ रखने के लिए भी बाल हटाने ज़रूरी होते हैं। आजकल तो लड़के भी अंडरआर्म्स से बाल हटाने लगे हैं क्योंकि गर्मियों में पसीने की वजह से ये चुभने लगते हैं और बदबू भी अधिक आती है। हम यहां आपको ऐसे ही कुछ तरीके बताने जा रहे हैं, जिनकी मदद से आप अंडरआर्म्स के बालों को बिना पार्लर के चक्कर लगाए खुद घर पर ही हटा सकते हैं। 


कैसे बनाएं घर पर वैक्स? - How to Make Wax at Home?


वैक्सिंग करने का तरीका - Waxing Procedure


शेव के ज़रिए कैसे हटाएं बाल - Shaving Tips For Women


क्रीम से कैसे साफ करें बाल? - How To Use Hair Removal Cream?


न करें डियोडरेंट या परफ्यूम का इस्तेमाल - Don't Use Products That Contain Alcohol 


अंडरआर्म वैक्सिंग के लाभ - Underarm Waxing Benefits


Undrearms Waxing Tips3


वैसे तो आप शेविंग, रेज़र या फिर हेयर रिमूवल क्रीम के ज़रिये अंडरआर्म्स के बालों को हटा सकते हैं, मगर बात जब इन सभी में बेस्ट चुनने की आती है तो सबसे अच्छी होती है वैक्सिंग। एक्सपर्ट सलाह देते हैं कि अंडरआर्म्स में क्रीम या शेव करने के बजाय वैक्स करना ही बेहतर होता है, क्योंकि वैक्स से अंडरआर्म्स में कालापन नहीं आता। वैक्सिंग से कई सारे बाल एक साथ निकाले जा सकते हैं। हो सकता है वैक्सिंग के दौरान आपको कुछ सेकेंड का दर्द महसूस हो मगर इससे बाल जड़ से निकल जाते हैं और दोबारा भी जल्दी नहीं आते। इसके अलावा वैक्सिंग करने से अंडरआर्म पर हुई टैनिंग भी आसानी से निकल जाती है और आपकी त्वचा एकदम साफ दिखाई देने लगती है। बाजार में रेगुलर, चॉकलेट, रीका, अलवेरा आदि कई तरह के वैक्स ऑप्शन उपलब्ध हैं। आप अपनी सुविधा अनुसार इनका चुनाव कर सकते हैं। मगर उससे पहले जान लीजिये कि इनमें से कौन सा वैक्स अधिक फायदेमंद होता है


रेगुलर वैक्स - Regular Wax


नींबू और चीनी के मिश्रण से तैयार होने वाला ये साधारण वैक्स बरसों से चलन में रहा है। इस वैक्स से बाल जड़ से तो निकल जाते हैं लेकिन इस बीच दर्द भी काफी होता है। जिसके बाद आपकी स्किन में रेड रैशेज और दाने तक निकल आते हैं और अगर आपकी स्किन सेंसेटिव है तो इस वैक्स के आफ्टर इफेक्ट्स आने वाले 2-3 दिनों तक बने रहते हैं। रेगुलर वैक्स से पतले और छोटे बाल आसानी से साफ नहीं होते, जिस वजह से बार-बार आपको बालों वाले हिस्से में वैक्स लगाना पड़ता है क्योंकि एक बार में ये अच्छे परिणाम नहीं देता।


चॉकलेट वैक्स - Chocolate Wax


चॉकलेट वैक्स को कोकोआ, सोयाबीन तेल, बादाम तेल, ग्लीसरीन, ऑलिव ऑयल और विटामिन्स जैसे तत्वों के मिश्रण से तैयार किया जाता है। ये आजकल बहुत चलन में है। इसे शरीर की नाज़ुक़ त्वचा पर इस्तेमाल किया जाता है और इससे वैक्स के बाद त्वचा में लाली या जलन भी नहीं होती। यह छोटे व कम ग्रोथ वाले बालों को हटाने में भी कारगर है। यह सनटेन को भी हटा देता है। इसमें मिली हुई तेल की मात्रा वैक्स के बाद आपकी त्वचा को मुलायम बनाए रखती है। इसके अलावा यह सभी तरह की स्किन टोन को सूट करता है, यहां तक कि सेंसेटिव स्किन को भी। हां मगर चाॅकलेट वैक्स, रेग्युलर वैक्स से थोड़ा महंगा होता है। इसलिए चॉकलेट वैक्स लगाने से पहले अपने बजट को भी ध्यान में रखें।


रीका वैक्स - Rica Wax


रीका वैक्स को व्हाइट चॉकलेट वैक्स भी कहा जाता है। यह मेड इन इटली वैक्स सब्जियों के तेल व हरी पत्तियों से निर्मित होता है। यह 100 फीसदी तारपीन रहित वैक्स होता है। दरअसल, तारपीन एक चिपचिपा पदार्थ होता है जो पाइन व स्प्रूस के पेड़ से पैदा होता है। इसकी वजह से त्वचा को एलर्जी और लाल चकत्तों की शिकायत हो सकती है। इसे रेगुलर वैक्स की तरह उतना गर्म नहीं करना पड़ता, जिस वजह से यह त्वचा पर सौम्य असर डालता है। इसके साथ त्वचा को साफ करने के लिए एक प्रीवैक्स जेल भी मिलता है, जो वैक्स को त्वचा के अंदर तक पहुंचाने में मदद करता है। यह सभी तरह की स्किन टोन को सूट करता है। ज्यादा सेंसेटिव स्किन पर भी इसे इस्तेमाल करने में दिक्कत नहीं आती। रीका वैक्स त्वचा को चमकदार और मुलायम बना देता है। यह रेगुलर वैक्स से ज्यादा कीमत वाला होता है, क्योंकि इसे इटली से आयात किया जाता है।


                                                                                चॉकलेट, रीका या रेग्युलर, जानें कौन सा वैक्स है आपके लिए बेस्ट?


घर पर वैक्स बनाने का तरीका - How to Make Wax at Home for Underarms in Hindi


1- एक पैन में दो कप चीनी, 1/4 कप पानी, 1/4 कप शहद और 1/4 कप ताज़ा नींबू का रस लें। अब पैन को गैस पर रखें और धीमी आंच पर सामग्री को उबलने दें। लगभग आधे घंटे तक इसे पकने दें। आप देखेंगे कि यह मिश्रण गहरे भूरे रंग का हो जाएगा। अब पैन को आंच पर से उतार लें और कमरे के तापमान पर ठंडा होने के लिए रख दें। आपका वैक्स तैयार है।


2- एक चौ‍थाई भाग गन्‍ने का रस लें और उसमें लगभग दो भाग नींबू का रस मिलाएं। इसके बाद इस घोल में शहद और काॅर्नफ्लोर मिला कर शरीर पर लगा कर ध्‍यान से स्‍ट्रिप की सहायता से निकाल लें।


 वैक्सिंग करने का तरीका - Underarms Wax Karne Ka Tarika


Undrearms Waxing Tips.png


                                                                      कैसे करें ब्यूटी ब्लेंडर का इस्तेमाल ? - How to Use Beauty Blender?


अपने लिए सही वैक्स चुनने के बाद आपको ये पता होना बहुत ज़रूरी है कि खुद घर पर किस प्रकार वैक्सिंग की जाए। हम आपको यहां वैक्सिंग करने के ऐसी ही कुछ तरीके बता रहे हैं...


1- सबसे पहले अपने अंडरआर्म्स को धोकर तौलिए या कॉटन कपड़े की मदद से पूरी तरह सुखा लें, जिससे उसमें बिलकुल भी पसीना न रहे।


2- अब अपने अंडरआर्म पर पाउडर का इस्तेमाल करें। हम यहां बेबी पाउडर की सलाह इसलिए दे रहे हैं क्योंकि ये नाज़ुक त्वचा के लिए बना होता है और अंडरआर्म्स की स्किन बाकी शरीर के मुकाबले सबसे ज्यादा नाज़ुक होती है। साथ ही पाउडर अंडरआर्म्स से अतिरिक्त तेल को भी निकल देता है।


3- अब वैक्स को बिना धार वाले चाकू या फिर चम्मच के पिछले हिस्से की मदद से अंडरआर्म्स पर लगाएं। ध्यान रहे वैक्स बालों की ग्रोथ की तरफ ही लगाएं, न कि उसके विपरीत।


4- अब इसपर वैक्स स्ट्रिप लगाकर अच्छे से चिपका लें और हाथ से स्ट्रिप को रब करें।


5- अब बालों की ग्रोथ की विपरीत दिशा की तरफ से वैक्स स्ट्रिप को झटके से खींचें। इस दौरान स्किन को इतना कसकर पकड़ना होता है कि स्किन पर कोई झुर्री न पड़े। इसके अलावा स्ट्रिप को बहुत तेज झटके से खींचना होता है। अगर आप स्ट्रिप को ज़ोर से नहीं खीचेंगे तो वैक्स के साथ सारे बाल ठीक से नहीं निकलेंगे और इससे दर्द भी काफी होगा।


6- अब अंडरआर्म्स को गीले कपड़े या फिर ठंडे पानी से साफ कर लें और मॉइश्चराइज़र या फिर नारियल तेल लगा लें।


                                                      #DIY: अंडरआर्म्स के कालेपन को दूर करने के लिए ये आसान घरेलू नुस्खे हैं बड़े काम के 


शेव के ज़रिए कैसे हटाएं बाल - Shaving Tips For Women in Hindi


Undrearms Waxing Tips1


ऐसा कई बार होता है जब अचानक बने प्लान के चलते वैक्सिंग करना मुमकिन नहीं हो पाता और जल्दबाज़ी में हमें शेव का सहारा लेना पड़ता है। वैसे तो अंडरआर्म्स पर शेविंग की सलाह कम ही दी जाती है, क्योंकि इससे अंडरआर्म्स की स्किन सख्त और काली पड़ने लगती है, मगर जब वैक्सिंग का टाइम नहीं होता, तब इस बारे में भला कौन सोचता है। इसलिए हम आपको अंडरआर्म्स शेविंग के माध्यम से बाल हटाने के कुछ ज़रूरी स्टेप्स बता रहे हैं,  जिनकी मदद से आप बिना अंडरआर्म्स की स्किन को नुकसान पहुंचाए शेव कर सकती हैं।


ड्राई स्किन पर न करें शेविंग - Use Shaving Gel Or Shaving Cream 


अंडरआर्म्स शेविंग कभी भी ड्राई स्किन पर नहीं करनी चाहिए, क्योंकि इससे स्किन के कटने और छिलने के चांसेज़ बढ़ जाते हैं। दरअसल ड्राई स्किन पर शेविंग करने से स्किन और रेज़र के ब्लेड्स के बीच आसानी से बाल नहीं हट पाते, जिस वजह से ब्लेड को त्वचा को ज्यादा घिसना पड़ता है। बेहतर होगा कि इसके लिए हमेशा शेविंग जेल या क्रीम की मदद लें। इससे अंडरआर्म्स के बाल मुलायम होकर आसानी से निकल जाते हैं। हमेशा उन्हीं जेल या क्रीम का इस्तेमाल करें जो खासतौर पर अंडरआर्म्स के लिए बने हों, क्योंकि अंडरआर्म्स का पीएच (Ph) लेवल अलग होता है और इन जेल और क्रीम्स को उसी हिसाब से तैयार किया जाता है।


स्क्रब करें - Scrubbing


शेविंग करने से पहले स्किन को एक्सफोलिएट ज़रूर करें। स्किन को एक्सफोलिएट करने का मतलब है त्वचा से मृत कोशिकाएं निकालना। फिर चाहे आप शरीर के किसी भी हिस्से पर शेविंग क्यों न कर रहे हों, उसे एक्सफोलिएट करना बहुत ज़रूरी होता है। अंडरआर्म्स शेविंग करने के लिए सबसे पहले किसी सौम्य स्क्रब से इसे एक्सफोलिएट करें। इससे स्किन में मौजूद डेड सेल्स खत्म हो जाएंगे और शेविंग आसानी से होगी।  


रेज़र का इस्तेमाल कैसे करें - How to use Razor


अंडरआर्म्स शेविंग के लिए किस तरह का रेज़र लें, इसकी जानकारी भी ज़रूर रखें। कोशिश करें कि रेज़र मल्टीब्लेड्स वाला हो। इसके अलावा रेज़र रबर हैंडल के साथ वाला होना चाहिए। जो किसी भी एंगल से शेव करने पर आसानी से घूमकर शेव कर सके। इससे कटने के चांसेज़ न बराबर होते हैं और साथ ही आपको मिलती है स्मूद और क्लीन शेव।  


न करें डियोडरेंट या परफ्यूम का इस्तेमाल - Don't Use Products That Contain Alcohol 


शेविंग करने से अंडरआर्म्स की स्किन काफी सेंसिटिव हो जाती है। इसलिए शेव करने के तुरंत बाद कभी भी अंडरआर्म्स पर डियोडरेंट या फिर परफ्यूम का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इससे स्किन पर रैशेज़ की समस्या हो सकती है। कोशिश करें कि शेव रात के समय ही किया जाए, क्योंकि आपकी स्किन को रात भर आराम मिल जायेगा।


                                                     होंठों को कुदरती रूप से गुलाबी और मखमली बनाने के लिए आज़माएं ये आसान घरेलू उपाय


क्रीम से कैसे साफ करें बाल? - How To Use Hair Removal Cream?


Undrearms Waxing Tips2


वैक्सिंग और शेविंग के अलावा बाज़ार में बाल साफ करने के लिए हेयर रिमूवल क्रीम का विकल्प भी मौजूद हैं। ऐसे कई ब्रांड हैं जो हेयर रिमूवल क्रीम उपलब्ध कराते हैं इनमें वीट और एनफ्रेंच का नाम सबसे ऊपर आता है। इन क्रीम्स के ज़रिए आप बिना कोई मेहनत किये कुछ ही मिनटों में अपने बाल साफ कर सकते हैं। इन क्रीम्स को स्किन पर लगाने के लिए साथ में एक टूल स्पैचुला भी मिलता है, जिसकी मदद से आप स्किन पर क्रीम को फैला सकते हैं साथ ही बालों को आसानी से हटा भी सकते हैं। ध्यान रहे कि हेयर रिमूवल क्रीम से भी अंडरआर्म्स की स्किन धीरे- धीरे काली पड़ने लगती है, इसलिए इसका इस्तेमाल बहुत ज़रूरत पड़ने पर ही करें।


हेयर रिमूवल क्रीम इस्तेमाल करने से पहले अंडरआर्म्स को अच्छी तरह से साफ कर तौलिये से सुखा लें। उसके बाद क्रीम को स्पैचुला में लेकर बालों की ग्रोथ की तरफ लगाएं। अंडरआर्म्स के लिए आप एक बार में ही सारे एरिया को क्रीम से कवर कर सकते हैं। अब क्रीम को 5 से 6 मिनट तक या फिर प्रोडक्ट डिस्क्रिप्शन में दिए गए समयानुसार स्किन पर लगाकर रखें। इसके बाद स्पैचुला की मदद से बालों को निकाल लें। ये पूरी तरह से दर्द रहित प्रक्रिया है, साथ ही कुछ मिनटों में आपके बालों को साफ करने में कारगर भी है। मगर क्रीम से बाल जड़ से नहीं जाते बल्कि स्किन पर दिखने वाले बाल ही साफ होते हैं, जिस वजह से वैक्सिंग के मुकाबले क्रीम से अंडरआर्म्स के बाल वापस जल्दी निकलने लगते हैं। इसके अलावा क्रीम के अधिक व निरंतर इस्तेमाल से अंडरआर्म्स की स्किन काली भी पड़ने लगती है।


घर पर ही बालों को करें कलर और हाईलाइट, वो भी केमिकल के इस्तेमाल के बिना