जानिए, फटी एड़ियों का इलाज पाने के लिए कुछ आसान घरेलू नुस्खे - Fati Ediyo ka Ilaj

फटी हुई एड़ियों का घरेलू इलाज - Fati Ediyo ka Ilaj

अपने सालों पहले टीवी पर वो मशहूर विज्ञापन तो देखा ही होगा, जिसकी लाइन्स थीं, "ऊपर से राजरानी... नीचे से नौकरानी"। दरअसल, यह विज्ञापन सूखी फटी एड़ियों का इलाज (fati ediyo ka ilaj) करने वाली एक क्रैक क्रीम का था। 90's के समय में यह विज्ञापन काफी मशहूर हुआ था। विज्ञापन तो मशहूर हो गया लेकिन फटी एड़ियों की समस्या ज्यों की त्यों बनी हुई है। फटी एड़ियां दिखने में काफी बदसूरत लगती हैं। यह न सिर्फ पैरों की शोभा बिगाड़ती हैं बल्कि सामने वाले का आत्मविश्वास भी गिरा देती हैं। फटी एड़ियों के कारण सबके सामने नंगे पांव बैठना भी दूभर हो जाता है। अगर आप भी फटी एड़ियों  समस्या से गुज़र रहे हैं तो हम यहां आपके लिए लेकर आए हैं फटी हुई एड़ियों का घरेलू इलाज (fati adiya ka ilaj gharelu nuskhe), पैर की एड़ी फटने की दवा व फटी एड़ियों के लिए क्रीम। मगर उससे पहले जान लेते हैं, एड़ी फटने का कारण (Causes of Cracked Heels)। 


 


एड़ी फटने का कारण - Causes of Cracked Heels in Hindi


जितनी देखभाल हम अपने चेहरे की करते हैं, उतनी ही पैरों की भी करनी चाहिए। एड़ियां बेजान और रूखी हो जाने की वजह से फट जाती हैं और उनमें दरारें आ जाती हैं। कई बार तो हालत इतनी बुरी हो जाती है कि एड़ियों से खून तक आ जाता है। ऐसे में ज़मीन पर पैर रखने से लेकर फुटवियर तक पहनना मुश्किल हो जाता है। अब सवाल ये उठता है कि आखिर एड़ी फटने का कारण (Causes of Cracked Heels) क्या है? एड़ियां कई कारणों से फट जाती हैं। मगर क्या आप जानते हैं इनमें से कुछ कारण स्वास्थ्य संबंधी भी होते हैं। जानिए कुछ ऐसी ही एड़ी फटने का कारण।


पिस्ता के स्वास्थ्य लाभ - Health Benefits Of Pistachios in Hindi


एड़ी फटने के स्वास्थ्य संबंधी कारण 


एड़ी फटने का कारण (Causes of Cracked Heels) कई बार स्वास्थ्य संबंधी भी होता है। खराब ब्लड सर्कुलेशन, डायबिटीज़, विटामिन की कमी, मोटापा, गर्भावस्था और एजिंग इसके मुख्य स्वास्थ्य संबंधी कारण हैं। इसके अलावा थायरॉइड की समस्या, एटॉपिक डर्मेटाइटिस, सोरायसिस व पामोप्लांटर केराटोडर्मा, तलवों और हथेलियों पर असामान्य रूप से मोटी त्वचा का कारण बनते हैं। शरीर में कैल्शियम की कमी भी एड़ी फटने का कारण (Causes of Cracked Heels) है। दरअसल, कैल्शियम की कमी से शरीर में सीबम काफी कम मात्रा में बनता है। इस वजह से एड़ियां रूखी होकर फटने लगती हैं। फटी हुई एड़ी की वजह से कभी-कभी इन्फेक्शन होने का खतरा भी हो जाता है।


Crack Heels-4


एड़ी फटने के सामान्य कारण


स्वास्थ्य संबंधी कारणों के अलावा हमारी लापरवाही के चलते भी एड़ियां फटना शुरू हो जाती हैं। जैसे- लंबे समय तक खड़े रहना, घर पर नंगे पांव चलना या घूमना, पैरों को लंबे समय तक गर्म पानी में डुबा कर रखना, ऐसे साबुन का इस्तेमाल करना जो शरीर के नैचुरल ऑयल को हानि पहुंचाते हैं, गलत तरह के फुटवियर का चुनाव करना, जो आपकी एड़ी को दर्द पहुंचाते हों आदि। इन सभी वजहों के चलते एड़ी फटने की समस्या हो जाती है। इसके अलावा दूध का सेवन ना करने से, पोषण रहित आहार का सेवन करने से, भरपूर मात्रा में पानी न पीने से भी एड़ियां फट जाती हैं।


सर्दियों में फटी एड़ियों का इलाज - Fati Ediyo ka Ilaj


सर्दियों के मौसम में स्किन ड्राई हो जाती है जिसका असर एड़ियों पर तुरंत दिखाई देने लगता है। ऐसे में अगर आप नियमित रूप से अपने पैरों को मॉइश्चराइज़ नहीं करते हैं, तो वे और भी तेज़ी से सूख सकते हैं। इसके लिए खासतौर पर सर्दियों में नंगे पांव चलने से बचें और भरपूर मात्रा में पानी पिएं। इसके अलावा सर्दियों में एड़ियों को साफ़ करने के लिए साबुन का इस्तेमाल कम से कम करें। अपनी एड़ी को दिन में कम से कम दो से तीन बार अच्छे से मॉइश्चराइज करें। साथ ही ऐसे फुटवियर पहनें जो आपकी एड़ी की दर्द, जलन और खिंचाव होने से बचाएं। हम यहां आपको सर्दियों में फटी एड़ियों का इलाज बता रहे हैं।


Crack Heels-7


फॉलो करें यह बेडटाइम रुटीन, ताकि आपकी एड़ियां बनी रहें सॉफ्ट- सॉफ्ट


नारियल का तेल 


ड्राई स्किन को मॉइश्चराइज़ करने लिए नारियल के तेल से अच्छा और दूसरा कोई ऑप्शन हो ही नहीं सकता। ये डेड स्किन को हटाकर गहराई तक जाकर नमी प्रदान करता है। अगर आप मुलायम और चमकदार एड़ियां पाना चाहते हैं तो रोजाना रात में पैरों की एड़ियों में नारियल का तेल लगाएं और फिर मोजे पहन लें। इसका असर आपको जल्द ही नजर आने लगेगा।  


वैसलीन


पेट्रोलियम जैली को एक बेहतर वैसलीन के तौर पर माना जाता है। फटी एड़ियों पर इसे लगाने से एड़ियां सॉफ्ट होने लगती हैं। नींबू का रस और वैसलीन मिलाकर फटी एड़ियों पर रोजाना रात में सोने से पहले हल्की मसाज करें जल्द ही राहत मिल जाएगी। एक दूसरा उपाय ये भी है कि आप एक चम्मच वैसलीन में आधा चम्मच बोरिक पाउडर डालें और अच्छी तरह से इसे मिक्स कर लें। अब इसे अपनी फटी एड़ियों पर लगा लें। इससे आपकी एड़ियां जल्द ही ठीक होने लगेगी।


सेब का सिरका


सबसे पहले एक टब में पानी गरम करें और उसमें एक कप सेब का सिरका (apple cider vinegar) मिलाएं। अब इस मिश्रण में अपने पैरों को 10 से 15 मिनट के लिए डुबो कर रखें। फिर झांवां पत्थर की मदद से पैरों को हल्के-हल्के स्क्रब करें। इससे एड़ियों की मृत त्वचा निकल जाएगी व एड़ियां मुलायम बनेंगी।  


जैतून का तेल


रोजाना रात को सोने से पहले जैतून के तेल से अपनी एड़ियों की मालिश करें। इससे एड़ियां फटेंगी नहीं और पैरों की त्वचा मुलायम भी रहेगी। दरअसल, नारियल तेल के अलावा जैतून का तेल भी एक नेचुरल मॉइश्चराइज़र होता है, जो सर्दियों में फटी एड़ियों का इलाज है। 


देसी घी


देसी गहि सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाता बल्कि ये त्वचा संबंधी कई दिक्कतों को भी दूर करता है। खासतौर पर सर्दियों में घी का इस्तेमाल काफी फायदेमंद रहता है। रात में सोने से पहले पैरों पर देसी घी लगाएं। आप चाहें तो देसी घी में बोरिक पाउडर भी मिला कर भी दरारों को भर सकते हैं। घी का  बना रहे इसके लिए घी लगाने के बाद पैरों में मोजे पहनकर सोएं। ऐसा 3-4 दिन तक करने से आपको खुद असर नज़र आने लगेगा। 


फटी हुई एड़ियों का घरेलू इलाज - Fati Adiya ka Ilaj Gharelu Nuskhe


बाज़ार में फटी एड़ियों के लिए क्रीम बहुत सारी मौजूद हैं लेकिन फटी हुई एड़ियों का घरेलू इलाज भी संभव है। दरअसल, घरेलू इलाज के साइड इफेक्ट्स नहीं होते। अपने घर की किचन में रखी कई चीज़ों से सूखी फटी एड़ियों का इलाज किया जा सकता है। घरेलू नुस्खे आज़माने से कोई अतिरिक्त खर्चा भी नहीं होता। यहां हम आपको कुछ ऐसे आसान घरेलू नुस्खे (Home Remedies for Cracked Heels in Hindi) बता रहे हैं, जो आपकी फटी एड़ियों को राहत पहुंचाएंगे और साथ ही इससे आपके पैर दिखेंगे और भी ज्यादा मुलायम और खूबसूरत।


Crack Heels-6


नींबू और ग्लिसरीन


इसके लिए एक चम्मच ग्लिसरीन, एक चम्मच नींबू का रस और आप चाहे तो इसमें एक चम्मच गुलाब जल भी मिलाकर इस मिश्रण को एड़ियों पर लगाकर थोड़ी देर सूखने के बाद रात भर मोजे पहने रखें। सुबह को अपनी एड़ियों को हल्के गुनगुने पानी से धो लें। कुछ ही दिनों आपकी फटी एड़ियां सॉफ्ट- सॉफ्ट नजर आने लगेगी। दरअसल, नींबू के रस में अम्लीय गुण होते हैं, जो स्किन को ड्राई होने से बचाते हैं और वहीं ग्लिसरीन स्किन को नरम और चमकदार बनाए रखती है। अगर इन दोनों का मिश्रण आप अपनी फटी एड़ियों पर करते हैं तो आपकी एड़ियां जल्द ही मुलायम और सुंदर दिखने लगेंगी।


शहद


शहद को अपनी एड़ी की दरारों में भरकर उसे 15 से 20 मिनट यूं ही लगा छोड़ दें और फिर 20 मिनट तक हल्के गुनगुने पानी में पैर डुबोकर रखे। ऐसा करने से एड़ियां सॉफ्ट हो जाएंगी। शहद को नेचुरल एंटीसेप्टिक माना जाता है। ये आपकी फटी एड़ियों की दरारों को जल्दी भर देता है।  


नीम और हल्दी


नीम की पत्तियों का पेस्ट बना लें और इसमें हल्दी पाउडर मिला लें। इस मिश्रण को रोजाना इस्तेमाल करने से आपको जरूर लाभ मिलेगा। हल्दी और नीम के पत्तों में मौजूद एंटी फंगल और एंटी बैक्टीरियल गुण आपकी फटी एड़ियों की समस्या को खत्म करते हैं। 


मोम


मोम और नारियल के पेस्ट से भी फटी एड़ियों के दर्द से काफी राहत मिलती है। इसके लिए आप थोड़ा मोम लें और उसपर सरसों या नारियल का तेल डालकर अच्छे से पिघला लें। इसके बाद जब मिक्सचर हल्का ठंडा हो जाए तो एड़ी में लगा लें। इसे आप रात में लगायेंगे तो आपको दर्द से ज्यादा राहत मिलेगी।


चावल के आटे का स्क्रब


घर के किचन में चावल का आटा भी आसानी से पाया जाता है। अगर आपकी एड़ियां बहुत रूखी और फटी हुई हैं तो चावल के आटे का स्क्रब बनाकर फटी एड़ियों पर लगाएं। इसके लिए एक बड़ा चम्मच चावल के आटे में दो बड़े चम्मच शहद और एक बड़ा चम्मच नींबू के रस को मिलाएं। इस मिश्रण को अपने पैरों पर लगाकर हल्के हाथों से स्क्रब करें। इससे एड़ियों पर जमी परत साफ़ होना शुरू हो जाएगी व फटी एड़ियों पर भी राहत पहुंचेगी।


हर किसी के काम आएंगी ये 10 आसान सी कमाल की ट्रिक्स


गर्मी में फटी एड़ियों का इलाज - Home Remedies for Cracked Heels in Hindi


ऐसा नहीं है कि एड़ियां सिर्फ सर्दियों में ही फटती हों। गर्मी के मौसम में भी एड़ियां फटती हैं। इसके अलावा मौसम में बदलाव आने का असर भी नाज़ुक एड़ियों पर पड़ता है। दरअसल, गर्मी के मौसम में पैरों में अधिक पसीना आता है। कई बार पैरों में से जूते-चप्पल उतारने के बाद उनमें से काफी बदबू भी आती है। धूल और प्रदूषण के संपर्क में आने से भी पैर फटने लगते हैं। इसलिए सर्दियों के साथ गर्मी के मौसम में भी एड़ियों का ख्याल रखना ज़रूरी होता है। हम यहां आपको गर्मी में फटी एड़ियों का इलाज बता रहे हैं। जानिए कुछ आसान घरेलू नुस्खे।


Crack Heels-5


सरसों का तेल


सरसों के तेल से भी आप अपनी फटी एड़ियों की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। इसके लिए बस नहाने से 30 मिनट पहले पैर की एड़ियों को अच्छी तरह से सरसों के तेल से मालिश करें। नहाने के बाद भी पैर में तेल लगाएं।


विटामिन ई कैप्सूल


विटामिन ई कैप्सूल आपको आसानी से कम दाम में किसी भी मेडिकल स्टोर पर मिल जाएंगे। रात में सोने से पहले इस कैप्सूल को खोल कर उसके तेल को निकालें और अपनी एड़ियों पर लगाकर कुछ मिनट तक मसाज करें। ये स्किन को पोषण देता है, साथ ही हाइड्रेट भी करता है। इससे आपकी फटी एड़ियां जल्द ही कोमल और मुलायम हो जायेंगी।


एलोवेरा जेल


एड़ियों की दरारों को जल्द भरने के लिए एलोवेरा जेल कमाल का काम करता है। इसके लिए अपनी एड़ियों को पानी से अच्छे से साफ करने के बाद उसे सुखा लें। फिर उसपर एलोवेरा जेल लगाएं और मोजे पहन लें। रातभर अपने पैरों में एलोवेरा जेल को लगे रहने दें। जल्द ही एड़ियों में दरार भरने लगेंगी।


झांवां पत्थर 


प्यूमिक स्टोन यानि कि झांवां पत्थर की सतह रफ होती है जिससे एड़ियों की डेड स्किन बहुत ही आसानी से निकल जाती है और स्किन हेल्दी और कोमल बनी रहती है। इससे आप हर दूसरे दिन नहाते वक्त अपनी एड़ियां साफ कर सकते हैं। लेकिन एड़ियों को इसके बाद मॉइश्चराइज करना बिल्कुल न भूलें।


लैवेंडर ऑयल


लैवेंडर ऑयल से एड़ियों पर मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है, जिससे आपकी स्किन ड्राई नहीं होती है। इसके अलावा इस तेल में ऐसे एंटी इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं, जो इंफ्लेमेशन के लिए जिम्मेदार बैक्टीरिया को खत्म कर देता है।


 


अगर आपके पीरियड भी समय पर नहीं आते तो आजमाएं ये 8 घरेलू नुस्खे


एड़ी फटने की क्रीम कौन सी है - Fati Adiya ke Liye Cream


बाज़ार में कई फटी एड़ियों के लिए क्रीम मौजूद हैं। यह एक तरह से पैर की एड़ी फटने की दवा का काम करती हैं। कई बार काम और घर की भाग-दौड़ के बीच घरेलू नुस्खे अपनाने का समय नहीं मिलता। ऐसे में हम शॉर्ट कट की तलाश करते हैं। यही शॉर्ट कट होती हैं एड़ी फटने की दवा। अगर आपके पास भी समय की कमी है और आप एड़ियों की दरारों को भरने के लिए घरेलू नुस्खे नहीं अपना सकते हैं तो आप क्रैक क्रीम के फायदे उठा सकते हैं। डर्मेटोलॉजिस्ट भी इन फटी एड़ियों के लिए क्रीम को इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं। 


क्रैक क्रीम (Krack Happy Feet) 


बोरोलीन (Boroline)


क्यूटिमैक्स (Cutimax)


एमोलीज़ (Emoliz)


खादी हर्बल फुट क्रेक क्रीम (Khadi Herbal Foot Crack Cream – Jasmine & Green Tea)


हिमालया फुट केयर क्रीम (Himalaya Foot Care Cream)


शॉल क्रेक्ड हील रिपेयर क्रीम (Scholl Cracked Heel Repair Cream)


 


वजन घटाने से लेकर बालों के झड़ने तक में फायदेमंद है गुड़हल का फूल


फटी हुई एड़ियों का घरेलू इलाज से जुड़े सवाल और जवाब


1- क्या वैसलीन फटी एड़ियों को कोमल बनाती है?


जवाब- जी हां, वैसलीन पेट्रोलियम जेली का इस्तेमाल फटी एड़ियों को कोमल बनाता है। इससे आपकी एड़ियां जल्द ही ठीक होने लगेगी।


2- क्या एड़ियां शरीर में विटामिन की कमी के कारण फटती हैं?


जवाब- विटामिन सी, विटामिन बी -3, और विटामिन ई की कमी सूखी, एड़ी फटने का कारण बन सकती है। आप पौष्टिक आहार के ज़रिए शरीर में होने वाली इन कमियों को दूर कर सकते हैं। 


3- एड़ी फटने के क्या संकेत हैं?


जवाब- पैर की एड़ियों पर पड़ने वाली दरारें एड़ी फटने का सबसे बड़ा संकेत हैं। इसके अलावा रेशमी चादर पर पैर फंसना, सूखी त्वचा और एड़ी पर खरोचें भी इसका एक संकेत है।   


4- क्या पेडीक्योर कराने से फटी एड़ियां ठीक हो जाती हैं?


जवाब- पेडीक्योर कराने से फटी एड़ियों पर काफी असर पड़ता है। मगर आपको इसे हर महीने नियमित रूप से कराना चाहिए। हालांकि ये प्रोसेस घरेलू नुस्खों के मुकाबले थोड़ा महंगा है।


5- क्या घर में नंगे पांव चलने से एड़ियां फट जाती हैं?


जवाब- बिलकुल, घर पर नंगे पांव चलने से एड़ियां फट जाती हैं। सुनिश्चित करें कि पूजा घर व बिस्तर पर जाने के अलावा हमेशा घर पर चप्पल पहनकर ही चलें। 


6. पैरों की दरार कैसे मिटाएं?


जवाब- पैरों की दरार मिटाने के लिए तिल का तेल बेस्ट ऑप्शन है। रात में सोने से पहले तिल के तेल से एड़ियों की मसाज करें और सुबह गुनगुने पानी से पैर धो लें।


7. एक ही रात में फटी एड़ियों से छुटकारा कैसे पाएं?


जवाब- इसके लिए एक बड़े कटोरे या बाल्टी में गर्म पानी डालकर इसमें एक चम्मच नमक और एक चम्मच खाने वाला मीठा सोडा और आधा नींबू का रस मिलाएं। अब इसमें अपनी पसंद का कोई भी शैंपू डाल लें। इन सब को अच्छे से पानी में मिक्स कर पैरों को इसमें 10 मिनट तक डुबा कर रखें। बीच-बीच में नींबू के टुकड़े को पैरों पर रगड़ते रहें।