#Unknown Facts:  महात्मा गांधी के बारे में बहुत कम लोग ही जानते होंगे ये बातें

#Unknown Facts:  महात्मा गांधी के बारे में बहुत कम लोग ही जानते होंगे ये बातें

जिस शख्स ने पूरी दुनिया को अंहिसा परमोधर्मा: का पाठ पढ़ाया वो थे महात्मा गांधी। एक साधारण आदमी कितना आसाधारण हो सकता है ये उनके विचार स्वयं बताते हैं। उनकी कही हुई बातों और अनमोल सीख का आज पूरा विश्व आदर व सम्मान करता है। जहां आज बिना लड़ाई- झगड़ा किये कोई काम पूरा नहीं हो पाता, वहीं गांधी जी ने एक समय में शान्ति व अहिंसा के रास्ते पर चलते हुये अंग्रेजों को भारत छोड़ने पर मजबूर कर दिया था। यूं तो हम गांधी जी के बारे में सब कुछ जानते हैं लेकिन कुछ बातें ऐसी भी हैं जिसे या बहुत कम लोग जानते हैं या फिर नहीं जानते। यहां हम आपको गांधी जी के विचार और कुछ रोचक-अनसुनी बातें बताने जा रहे हैं।


1 - गांधी जी को शांति का नोबेल पुरस्कार के लिए 5 बार नॉमिनेट किया गया था। लेकिन इसके बावजूद भी उन्हें यह पुरस्कार कभी नहीं मिला।


2 - इस बात को जानकर भले आपको हैरानी होगी लेकिन ये सच है कि महात्मा गांधी अपनी जिंदगी में कभी भी अमेरिका नहीं गए। और न ही उन्होंने कभी एयर प्लेन में बैठकर कहीं यात्रा की।


3 - गांधी जी बचपन से ही बहुत शर्मीले किस्म के इंसान थे। जब वो 10 साल के बाद गांधी जी ने कई स्कूल बदले। इसके अलावा वो कई बार स्कूल से भाग जाया करते थे।


4 - एक बार चलती ट्रेन से गांधी जी का जूता नीचे गिर गया तो उन्होंने दूसरा जूता भी गाड़ी से नीचे फेंक दिया। जब लोगों ने इसका कारण पूछा तो उन्होंने कहा कि 'एक जूता मेरे और उसके किसी काम का नहीं, अब कम से कम यह उसके काम तो आएगा'।


ये भी पढ़ें -अनोखी और बड़ी दिलचस्प है गुरु और शिष्य की ये कहानी 


5 - गांधी जी ने लंदन में विश्वविद्यालय से कानून की डिग्री प्राप्त की। इसके बाद वह भारत आकर वकालत का अभ्यास करने लगे, लेकिन सफल नहीं हुए। गांधी जी अपने पहले केस के दौरान बहुत नर्वस थे। उस समय उनकी टांगें कांपने लगी थी इसलिए वो बिना कुछ कहे ही बैठ गए थे और केस भी हार गए थे।


g


6 - गांधी जी की शादी 13 साल की ही उम्र में हो गई थी। उनकी पत्नी कस्तूरबा गांधी उनसे उम्र में 1 साल बड़ी थी। ये बात बहुत कम लोग जानते हैं कि शादी की रस्मों को पूरा करने में एक साल लग गया और इसी कारण से वह एक साल तक स्कूल नहीं जा पाए थे।


7 - गांधी जी की माता जी जिनका नाम पुतलीबाई था वो, उनके पिता करमचंद गांधी की चौथी पत्नी थीं। और गांधी उनकी आखिरी संतान थे।


ये भी पढ़ें -  फॉलो करें नरेंद्र मोदी का ये फिटनेस मंत्रा और रहें हमेशा फिट और स्ट्रेस फ्री 


8 - गांधी जी के देश ही नहीं बल्कि विदेशों में भी अपने आदर्शों के लिए जाने जाते हैं। और यही कारण है कि दुनियाभर में उनके नाम की 101 सड़कें हैं, जिसमें भारत में 53 बड़ी सड़कें हैं, जबकि विदेशों में उनके नाम पर कुल 48 सड़कें हैं।


9 - ये बात बहुत कम लोग जानते हैं कि गांधी जी नकली दांत लगाते थे, जिसे वह अपने कपड़े में रखते थे। वो उन्हें केवल खाने के समय निकालते थे।


04gandhi


10 - एप्पल कंपनी के संस्थापक स्टीव जॉब्स गांधी जी के फैन थे। उन्हें सम्मान देने के लिए वो हमेशा गोल फ्रेम का चश्मा पहनते थे।


11 - गांधी जी को अहिंसा के मार्ग पर चलने का कारण तब मिला जब वो 1899 के एंग्लो बोएर युद्ध में स्वास्थकर्मी के तौर पर मदद के लिए गये थे। वहां उन्होंने युद्ध के भयानक मंजर को देखा और तय कर लिया कि वो दुनिया को अहिंसा का पाठ पढ़ा कर ही रहेंगे।


12 - आजादी के बाद कुछ पत्रकार गांधी जी से अंग्रेजी में सवाल करने लगे लेकिन गांधी जी ने कहा कि अब मेरा देश आजाद हो गया, कृपया हिंदी में बात कीजिए। इस बात का जिक्र उस समय के ही एक पत्रकार ने अपनी किताब में भी किया था।  


ये भी पढ़ें - देश की मशहूर हस्तियों के जीवन पर बनने वाली 14 हिंदी फिल्में


13 - महात्मा गांधी समय के बहुत पाबंद थे। उन्हें किसी भी चीज में देरी बिल्कुल पसंद नहीं थी। उनकी हत्या से पहले वो इस बात को लेकर परेशान थे कि वो सभा में 10 मिनट की देरी से पहुंचे।


14 - दिल्ली में स्थित बिड़ला भवन में 30 जनवरी 1948 की शाम को गोली मारकर उनकी हत्या की गई थी। महात्मा गांधी की शव यात्रा लगभग आठ किलोमीटर लंबी थी। पूरा का पूरा जनसैलाब उमड़ पड़ा था। जोकि अब तक की सबसे लंबी शव यात्रा रही। बताया जाता है कि करीबन 10 लाख लोग इस शव यात्रा में शामिल थे।


15 - बताया जाता है कि जिस वाहन में 1948 में महात्मा गांधी को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया था वही वाहन सन 1997 में मदर टेरेसा की अंतिम यात्रा के लिए इस्तेमाल किया गया था।


ये भी पढ़ें - रानी मुखर्जी ने 22 सालों तक अपनी इस बीमारी को सबसे छुपाए रखा