बेडरूम के लिए अपनाएं ये वास्तु टिप्स, कभी नहीं होगी किसी तरह की परेशानी - Vastu Tips For Bedroom

बेडरूम के लिए अपनाएं ये वास्तु टिप्स, कभी नहीं होगी किसी तरह की परेशानी - Vastu Tips For Bedroom

कई बार हम किसी काम को सफल बनाने के लिए अपना 100% उसमें लगा देते हैं लेकिन इसके बावजूद रिजल्ट हमारी सोच से बिल्कुल उलट ही होता है, और हाथ लगती है असफलता। चाहे वो ऑफिस में प्रमोशन की बात हो, एग्जाम में फर्स्ट क्लास रिजल्ट की या सक्सेसफुल लाइफ की। हर बार बनता काम भी बिगड़ जाता है। इसके लिए आपकी नींद भी जिम्मेदार हो सकती है। क्योकि नींद का संबंध आपकी एनर्जी से होता है। जितनी गहरी नींद लेंगे उतने ही एनर्जी से भरपूर रहेंगे। लेकिन नींद देर से आती है या रात में बार- बार आंख खुल जाती है, तो इसका कारण आपके बेडरूम का खराब वास्तु भी हो सकता है। अगर आप अपने बेडरूम में कुछ चीजों का ध्यान रखेंगे तो आपका लक हमेशा गुड यानि अच्छा ही होगा। इसके लिए सिर्फ वास्तु की कुछ आसान बातों का ध्यान रखना जरूरी है।


अगर बेडरूम में वास्तु द्वारा बताई गई बातों का ध्यान रखा जाए तो मैरिड लाइफ में सुख- शांति और बच्चों की पढ़ाई और उनके करियर में सफलता साथ ही परिवार में धन- धान्य की किसी भी तरह की कोई कमी नहीं होती है। वास्तु के उपायों से निगेटिव एनर्जी नष्ट होती है और पॉजिटिव एनर्जी में बढ़ोतरी होती है। यहां हम आपको बेडरूम वास्तु टिप्स से जुड़ी पूरी गाइड शेयर कर रहे हैं, जिसके जरिए आप अपनी जिंदगी शांति और सुख से व्यतीत कर सकते हैं।


बेडरूम किस दिशा में होना चाहिए - Vastu Tips For Bedroom


वास्तु के हिसाब से चुनें बेडरूम के दीवारों का रंग - Vastu Color For Bedroom


बच्चों के लिए बेडरूम वास्तु टिप्स - Vastu Tips For Children's Room


क्या होता है वास्तु शास्त्र - What Is Vastu Shastra?


वास्तु टिप्स जानने से पहले जरूरी है कि आपको वास्तु शास्त्र क्या होता है ? ये आपको पता होना चाहिए। बहुत से लोग वास्तु शास्त्र और ज्योतिष शास्त्र को एक ही समझ बैठते हैं। लेकिन आपको बता दें कि ये दोनों एक- दूसरे के पूरक हैं। दरअसल, वास्तु भारत की प्राचीनतम विद्याओं में से एक है, जिसका संबंध दिशाओं और ऊर्जाओं से है। इसमें दिशाओं को आधार बनाकर उस विशेष स्थान के आस-पास मौजूद नकारात्मक ऊर्जाओं को इस तरह सकारात्मक बना दिया जाता है जिससे वो मानव जीवन पर अपना प्रतिकूल प्रभाव न डाल सकें। मुगल काल में बनी इमारतों और घरों, मिस्त्र के पिरामिड के निर्माण में भी वास्तु शास्त्र का सहारा लिया गया है।


बेडरूम किस दिशा में होना चाहिए - Vastu Tips For Bedroom


परिवार में जितने लोग होते हैं उनके बेडरूम भी अलग- अलग होते हैं। वास्तु में इन अलग- अलग बेडरूम की दिशाएं भी अलग ही बताई गई हैं। तो आइए जानते हैं कि वास्तु के हिसाब से घर के किस सदस्य का बेडरूम किस दिशा में होना चाहिए।


  • मास्टर बेडरूम जिसमें कि घर का मुखिया सोता है वो नैऋत्य कोण (दक्षिण- पश्चिम का कोना) में होना चाहिए। ये उनके लिए बहुत शुभ माना जाता है।

  • बच्चों का कमरा पश्चिम की दिशा में होना चाहिए। ये उनकी प्रगति  में किसी तरह का अवरोध उत्पन्न नहीं होने देती हैं।

  • अविवाहित कन्याओं और मेहमानों का बेडरूम उत्तर- पश्चिम दिशा में होना चाहिए। क्योंकि ये दिशा आवागमन से संबंधित होती है।

  • इस दिशा में नहीं होना चाहिए बेडरूम -

  • उत्तर- पूर्व दिशा में बेडरूम नहीं होना चाहिए क्योंकि ये दिशा देवी- देवताओं का स्थान है। और इस दिशा में बेडरूम होने से धन की हानि व अशांति बनी रहती है।

  • दक्षिण-पूर्व में भी बेडरूम नहीं होना चाहिए क्योंकि ये दिशा अग्नि कोण है जोकि आक्रामक रवैये से संबंधित है।

  • घर के मध्य भाग में बेडरूम होना सही नहीं माना जाता है क्योंकि इस भाग को ब्रह्म स्थान कहा जाता है।


 ये भी पढ़ें -अगर आप चाहते हैं कि आपकी इनकम बढ़ने लगे तो अपनाएं ये वास्तु टिप्स


वास्तु के हिसाब से चुनें बेडरूम के दीवारों का रंग - Vastu Color For Bedroom


रंग का हमारी जिंदगी में बहुत महत्व होता है और ये बात सही भी साबित हो चुकी है कि रंग लोगों पर मनोवैज्ञानिक प्रभाव डालते हैं। दरअसल, कुछ खास रंग लोगों में खास इमोशंस पैदा करते है, इसीलिए बेडरूम जहां हम अपना ज्यादातर समय बिताते हैं, की दीवारों पर रंगों का संतुलन बनाना बहुत जरूरी है, ताकि आप सुख- शांति पूर्ण जीवन व्यतीत कर सकें। जहां बच्चों के बेडरूम की दीवारों का रंग सफेद या फिर हल्के रंग का होना चाहिए। वहीं मास्टर बेडरूम में नीला रंग वास्तु के हिसाब से एकदम परफेक्ट होता है।


successful-life-bedroom-vastu-tips-in-hindi


पती- पत्नी के लिए बेडरूम वास्तु टिप्स - Vastu Shastra For Bedroom


  • बेडरूम में कपड़े रखने की अलमारी कमरे के उत्तर- पश्चिम या दक्षिण दिशा की ओर होनी चाहिए।

  • बेडरूम में किसी भी तरह का अगर इलेक्ट्रॉनिक सामान है तो उसे कमरे के दक्षिण- पूर्वी कोने में रखना चाहिए।

  • बेडरूम का दक्षिण- पश्चिमी कोना कभी भी खाली नहीं होना चाहिए। उसमें कर्सी या फिर टेबल रखें।

  • बेडरूम में दंपति का सोते समय सिर हमेशा पूर्व या दक्षिण दिशा की ओर होना चाहिए।

  • बेडरूम में किसी भी तरह के बहस वाले मुद्दे पर चर्चा नहीं की जानी चाहिए। क्योंकि ये कमरा प्यार और आराम फरमाने के लिए होता है, बहस के लिए नहीं।

  • बेडरूम की दीवारों में किसी तरह की टूट- फूट नहीं होनी चाहिए। इससे दांपत्य जीवन में दरार आने की आशंका बनी रहती है।

  • बेडरूम में ऐसी कोई तस्वीर न लगाएं जो हिंसा को दर्शाती हों। साथ ही बेड के सिरहाने वाली दीवार पर घड़ी या फोटो फ्रेम न लगाएं।


ये भी पढ़ें -सक्सेसफुल लाइफ के लिए ट्राई करें ये 10 गुडलक वास्तु ...


बच्चों के लिए बेडरूम वास्तु टिप्स - Vastu Tips For Children's Room


  • बच्चों की बेडरूम का दरवाजा उत्तर या पूरब दिशा में होना चाहिए। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि दरवाजा सिंगल हो, डबल नहीं।

  • बच्चों को हमेशा पूर्व दिशा में सिर और पश्चिम दिशा में पैर करके सोने चाहिए। इससे याददाश्त तेज होती है।

  • बच्चों के बेडरूम में स्टडी टेबल- चेयर दक्षिण दिशा में रखनी चाहिए। ऐसे में ध्यान भटकता नहीं है।

  • बच्चों के बेडरूम में बेड के सामने किसी भी तरह के इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स नहीं रखे होने चाहिए। इससे उनकी सेहत और दिमाग दोनों पर ही नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

  • बच्चों की बेडरूम की लाइटिंग न तो बहुत तेज होनी चाहिए और न ही बहुत धीमी होनी चाहिए।


bedroom-vastu-tips-in-hindi


ये भी पढ़ें -जानिए घर में फिश एक्वेरियम रखने के फायदे