आज के बिज़ी रुटीन में बालों के झड़ने की बड़ी वजहें|POPxo Hindi | POPxo

जानें, आजकल के बिज़ी रुटीन में क्या हैं बालों के झड़ने की बड़ी और अनजानी वजहें

जानें, आजकल के बिज़ी रुटीन में क्या हैं बालों के झड़ने की बड़ी और अनजानी वजहें

आमतौर पर एक व्यक्ति के औसतन 80 बाल हर दिन टूटते हैं, मगर जब इनकी संख्या ज्यादा बढ़ जाती है खासकर युवावस्था में तो यह बात चिंता की बड़ी वजह बन जाती है। आपके बाल आपके सिर पर एक मुकुट की तरह होता है, कई बार तो बाल आपकी पहचान ही बन जाते हैं। किसी के भी व्यक्तित्व में चार चांद लगाने में भी इसका महत्वपूर्ण योगदान होता है। लेकिन आजकल बड़े शहरों में बालों के झड़ने की समस्या तेजी से बढ़ रही है। खासतौर पर महिलाओं में इस प्रवृत्ति के बढ़ने की कई वजहें हैं जिनमें तीन प्रमुख हैं।


1.  तनाव


ezgif.com-resize %2811%29


आजकल शहरी महिलाओं की जिम्मेदारियां कई गुना बढ़ गयी हैं, इसलिए उन्हें न सिर्फ घर चलाना होता है बल्कि करियर की अच्छी संभावनाएं भी तलाशनी होती हैं। कभी कभी तो उन्हें घर खर्च के लिए अतिरिक्त दबाव भी झेलने पड़ते हैं। इन सब वजहों से तनाव बढ़ना स्वाभाविक है। इस तनाव के चलते शरीर में एण्ड्रोजन की मात्रा बढ़ जाती है जिससे रूसी (डैंड्रफ) पैदा होती है। डैंड्रफ और शैम्पू के इस्तेमाल के चलते बालों के झड़ने की प्रक्रिया और तेज हो जाती है। तनाव में कमी न सिर्फ बालों के झड़ने पर रोक लगा सकती है, बल्कि अच्छे जीवन में भी सहायक हो सकती है। योग, ध्यान और जिम्मेदारियों को परिवार के साथ साझा करके हम तनाव में कमी ला सकते हैं।


2. अनियमित खानपान


ezgif.com-resize


जीवन की तेज गति और व्यस्त दिनचर्या के चलते अनहेल्दी फूड प्रोडक्ट्स खाने का चलन बढ़ गया है। हम बालों को स्वस्थ रखने के लिए समुचित मात्रा में आयरन , प्रोटीन और विटामिन का सेवन नहीं करते। अगर हम काले - घने बाल चाहते हैं जिसको लेकर हमें गर्व हो सके तो हमें हेल्दी फूड खाना होगा।


नॉन वेजीटेरियन्स के लिए अंडा , मछली , झींगा अच्छे बालों के लिए अच्छे फूड प्रोडक्ट्स हैं। अंडे में आयरन, जिंक , सल्फर  और सेलेनियम अच्छी मात्रा में होता है, जबकि मछली ओमेगा -3 के वसीय अम्ल होते हैं और झींगा जिंक और विटामिन बी -12 का अच्छा स्रोत होता है। ये सारे पौष्टिक आहार आपके बालों को चिकना और सिल्की रखते हैं और इससे आपको भी अच्छा लुक मिलता है।


वेजीटेरियन्स के लिए भी तमाम ऐसे खाद्य हैं, जिन्हें खाने से बाल खूबसूरत होते हैं। प्रून्स (सूखी जामुन, सूखी  बेर ) और चुकंदर बालों को हल्का होने से बचाते हैं। बीज वाले सब्जियां और दाल से खाने में प्रोटीन की मात्रा बढ़ जाती है। गूदेदार फलों में उच्च मात्रा में विटामिन सी होता है जिससे शरीर को आयरन प्राप्त होता है। इससे कोलेजन उत्पन्न होता है, जो बालों को मजबूती प्रदान करता है और लंबा बनाता है।  


3. एक्सरसाइज़ की कमी


exercise


शारीरिक व्यायाम के लिए आजकल के जमाने में मुश्किल से समय निकल पाता है। इसके बावजूद इससे ना सिर्फ शरीर मजबूत होता है बल्कि बाल भी मजबूत होते हैं। नियमित एक्सरसाइज़ करने वाली महिलाओं के बाल हमेशा मजबूत और लंबे दिखेंगे। सामान्य ढंग से भी एक्सरसाइज़ करने से हमारे शरीर में नई सेल्स बनती हैं। इससे सोते वक्त प्रोटीन का नुकसान भी नहीं हो पाता। सेल्स के बढ़ने में भी इसकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है। नियमित व्यायाम से निद्रा और कोशिका निर्माण के अलावा बाल भी चमकदार होते हैं। व्यायाम से बालों के रोमछिद्रों को ऑक्सीजन मिलती है, जिससे रक्त संचार बढ़कर बालों तक पहुंचता है। जितनी ऑक्सीजन बालों को मिलेगी, उतने ही बाल हेल्दी और मजबूत बनेंगे।  


हर व्यक्ति के बाल और उनकी क्वालिटी अलग-अलग होती है, इसलिए अपने बालों की समस्या के संबंध में हेयर एक्सपर्ट से मिलकर बालों के रखरखाव और सुधारों को लेकर जानना चाहिए। एक बैलेंस लाइफस्टाइल अपनाने से सिर्फ आपका लुक ही नहीं बदलता बल्कि आपकी ओवरऑल हेल्थ में भी सुधार आता है।


(डॉ विनोद सोनावणे, एम डी - हेयर ट्रांसप्लांट सर्जन, ट्रिचोलोजी में पीजी डिप्लोमा और ब्लूम हेयर ट्रांसप्लांट से बातचीत के आधार पर)


इन्हें भी देखें -


इन 10 घरेलू उपायों से बालों की समस्याएं दूर कर पाएं स्वस्थ, चमकदार और मज़बूत बाल


सिल्की स्मूथ बालों के लिए विंटर हेयर केयर टिप्स


शेप में रहना है तो बिना एक्सरसाइज़ इस तरह कैलोरी बर्न करके करें वेटलॉस


अपनी शादी के दिन खूबसूरत और फिट बनने के लिए फॉलो करें ये 10 स्टेप्स

Read More from Beauty

Load More Beauty Stories