“कोई मिल गया“ के 15 साल पूरे: थियेटर के साथ ऋतिक रोशन की जिंदगी में भी आया था “जादू”

“कोई मिल गया“ के 15 साल पूरे: थियेटर के साथ ऋतिक रोशन की जिंदगी में भी आया था “जादू”

बच्चों और बड़ों सबको पसंद आने वाली जबरदस्त हिट फिल्म “कोई मिल गया“ को रिलीज़ हुए 15 साल पूरे हो गए हैं। यह फिल्म अपने आप में एक अनोखी फिल्म थी, जिसने हर उस व्यक्ति को प्रभावित किया था, जिसने इस फिल्म को देखा था। इस फिल्म के बहाने दर्शकों को जहां बहुत कुछ सीखने को मिला था, वहीं इसका महत्वपूर्ण किरदार जादू सबका फेवरिट बन गया था। आज इस मौके पर बॉलीवुड एक्टर और “कोई मिल गया“ के रोहित और क्रिश यानि ऋतिक रोशन ने इंस्टाग्राम पर इस फिल्म के कुछ वीडियोज़ शेयर करके इस फिल्म से जुड़े अपने विचार अपने फैन्स के साथ शेयर किये हैं। आप भी जानें ऋतिक रोशन के ही शब्दों में उनकी शेयर की गई बातें -


KRISSH


“कोई मिल गया” ने “क्रिश” को जन्म दिया और रोहित के अजीब तरह से खेलने कूदने ने मेरे अंदर एक अनजानी और नई ताकत पैदा की। रोहित ने ऐसी हर छोटी-बड़ी चीज़ को समझने में मेरी मदद की, जो एक हकलाने वाले लड़के के रूप में मैंने महसूस की।


ताकत से ज्यादा जरूरी है साहस


Koi-Mil-Gaya-2 5563875


तब मैंने समझा कि कैसे हर बात उसके लिए मायने रखती थी। उसने मुझे यह समझने में मदद की की ताकत साहस के जितनी महत्वपूर्ण नहीं होती और यह भी कि कमजोर होना भी बुरा नहीं है। इसके साथ ही यह भी समझ आया कि आपकी कमजोरियां ही कभी- कभी आपका साहस भी बन जाती हैं।


मत सोचो कि कोई क्या सोचता है


HRITHIK ROSHAN


इस फिल्म ने मुझे एक और खूबसूरत बात सिखाई और वह यह कि यह अंदाज कभी नहीं लगाना चाहिए कि लोग आपके बारे में क्या सोचते हैं। ऐसा रोहित ने कभी नहीं किया। उसने हम जैसे लोगों की तरह कभी दूसरों का दिमाग पढ़ने की कोशिश नहीं की। जैसा कि आजकल एसएमएस और व्हाट्सएप के जमाने में हम लोग करते हैं। रोहित ने दूसरों की फेस वैल्यू या सबूत के आधार पर सारे काम किये।


शब्द नहीं कर सकते सबकुछ कम्युनिकेट


आज की जेनरेशन के उन लोगों के लिए एक अच्छा टिप है, जिन्हें यह जानना चाहिए कि आप कभी भी शब्द टाइप करते वक्त एक टन बातें कम्युनिकेट नहीं कर सकते। आजकल की रिलेशनशिप्स भी अक्सर इस पर ही निर्भर करती हैं कि आपके टाइप किये गए वाक्य को किस तरह समझा जाएगा।


थियेटर के साथ जिंदगी में भी आया जादू


Jadoo-Koi-mil-gaya


15 साल पहले थियेटर्स में जादू आया था और इसके साथ ही मेरी जिंदगी में भी एक जादू आ गया। अपनी जिंदगी में चलते रहिये, काम करते रहिये। बहुत लोगों ने ऐसा कहा है, मैं यह अब कह रहा हूं और आप भी यही तब कहेंगे जब पुराने समय के बारे में सोचेंगे। लेकिन मैं कहता हूं कि यही सच है, यह मेरा वायदा है।


मेरे फेवरिट मूमेंट्स





कोई मिल गया की 15वीं सालगिरह पर, मैं इस फिल्म के अपने कुछ फेवरिट मूमेंट्स शेयर कर रहा हूं। मैं उन सभी लोगों को धन्यवाद कहना चाहता हूं जो इस बेहतरीन यात्रा का हिस्सा बने। खासतौर पर मेरे पिता और मेरी मां। और धन्यवाद आप सभी को मुझे इतना प्यार देने के लिए।


इन्हें भी देखें- 


छवि सुधारने की कोशिश में ऋतिक रोशन ने 'डर' पर लिखी कविता, देखें वीडियो


सच में है 'कोई मिल गया' का जादू, मिले हैं एलियंस होने के सबूत


इन सेलिब्रिटीज ने चैलेंज एक्सेप्ट कर सोशल मीडिया पर डाले कमाल के फिटनेस वीडियो