फीमेल सेक्स स्पॉट क्लिटोरिस और जी- स्पॉट संबंधी मिथकों का सच|POPxo Hindi | POPxo
Home
जानें, फीमेल सेक्स स्पॉट क्लिटोरिस और जी- स्पॉट संबंधी मिथकों का सच

जानें, फीमेल सेक्स स्पॉट क्लिटोरिस और जी- स्पॉट संबंधी मिथकों का सच

अगर आप सोचती हैं कि अपने शरीर और इसके सभी अंगों के बारे में आप सबकुछ जानती हैं तो आपको इस बारे में दोबारा सोचने की जरूरत है। दरअसल ऐसी बहुत सी बातें हैं जिनके बारे में आप नहीं जानती होंगी, खासतौर पर अपनी वैजाइना और सेक्स संबंधी बहुत सी ऐसी बातें होती हैं, जिनके बारे में आपको बहुत से भ्रम भी होंगे। नॉर्वे के सेक्स एक्सपर्ट्स डॉ. नीना ब्रोचमैन और एलेन स्टॉकेन डाल ने अपनी नई किताब - द वंडर डाउन अंडर में ऐसी अनेक बातों का जिक्र किया है, जो आपको मालूम ही नहीं होंगी और जो आप जानना चाहेंगी।


कैसे काम करता है क्लिटोरिस


इसमें यह भी बताया गया है कि आपका क्लिटोरिस कैसे काम करता है और क्या जी-स्पॉट जैसी कोई चीज़ होती भी है। इस किताब के अनुसार क्लिटोरिस हजारों नर्व्स एंडिंग का एक गुच्छा होता है जो किसी भी महिला को सेक्स सुख देने के लिए जिम्मेदार होता है। लेकिन जैसा कि हम लोग सोचते हैं, उसके विपरीत वैजाइना के बाहर स्थित महिलाओं की उत्तेजना का एक प्रमुख स्पॉट क्लिटोरिस लगभग एक किशमिश के आकार का होता है, लेकिन ऐसा नहीं है। छोटा सा यह महत्वपूर्ण बटन एक आइसबर्ग की सिर्फ एक नोंक के बराबर होता है।


क्या होता है जी- स्पॉट


एक और नई खोज है कि जी-स्पॉट शरीर में कोई अलग चीज नहीं है, बल्कि यह क्लिटोरिस का ही काफी गहराई में स्थित हिस्सा है जो सेक्स के दौरान उत्तेजित हो जाता है। यह असाधारण रूप से सेंसिटिव होता है जो महिला के अंदर काफी गहराई तक उत्तेजना फैला सकता है।


कैट या मिशनरी पोजीशन


इसके अलावा क्लिटोरिस के बारे में किये गए कुछ अध्ययन के दौरान उन्हें एक खास सेक्स टिप का पता लगा, जिससे आपका सेक्स सुख हर बार चरम पर पहुंच  सकता है। वह खास सेक्स टिप है- कैट यानी सीएटी पोजीशन। इसे कोइटल सेक्सुअल एलाइनमेंट और मिशनरी पोजीशन भी कहा जाता है। यह पोजीशन सिर्फ दो स्टेप्स में आपको बोरिंग सेक्स से ‘ओह माई’ की स्थिति तक लेकर जा सकती है। इसके अनुसार अपने हाथों के बजाय आपके पार्टनर को  अपनी बाहों के अगले हिस्से पर अपना वजन डालना होगा और साथ ही अपनी बॉडी को आपकी बॉडी के साथ लाना होगा। इसके बाद पुश करने की बजाय उन्हें अपनी बॉडी को ऊपर और नीचे स्लाइड करना होगा।


बर्थ कंट्रोल पिल्स और मोटापा


ब्रोचमैन और डाल ने इस मिथ को भी तलाशा है जिसमें कहा जाता है कि बर्थ कंट्रोल पिल्स आपको मोटा बनाती है। इस किताब में उन्होंने बताया है कि बर्थ कंट्रोल पिल्स लेने के दौरान महिलाओं के वजन बढ़ने के पीछे कारण कुछ और ही है। इसका प्रमुख कारण उनका रिलेशनशिप में होना है, न कि बर्थ कंट्रोल पिल्स खाना।


इन्हें भी देखें -
1. ईस्ट इंफेक्शन के अलावा इन 5 वजहों से भी हो सकती है वैजाइना में खुजली...


2. हर लड़की को पता होने चाहिए सेक्स रिलेटेड इन 12 जरूरी सवालों के जवाब


3. सेक्स के दौरान इन 9 वजहों से हो सकता है आपको दर्द? ...क्या करें ऐसे में!


4. ऑरगैज़्मिक प्रॉब्लम के लिए ओ- शॉट लें और भरपूर सेक्स लाइफ एन्जॉय करें

प्रकाशित - जुलाई 22, 2018
Like button
2 लाइक्स
Save Button सेव करें
Share Button
शेयर
और भी पढ़ें
Trending Products

आपकी फीड