आपको पता भी नहीं होंगी अपनी ये टॉप 5 मनी मिस्टेक| POPxo Hindi | POPxo

अमीर बनना है तो जानें अपनी टॉप 5 मनी मिस्टेक, जिनके बारे में आपको पता भी नहीं

अमीर बनना है तो जानें अपनी टॉप 5 मनी मिस्टेक, जिनके बारे में आपको पता भी नहीं

क्या आपको पता है कि स्मार्ट से स्मार्ट लोग अपने पैसे के साथ काफी बेवकूफियां करते हैं और जब उनका बजट आउट हो जाता है तो पैसा न होने का रोना रोते रहते हैं। ऐसी आदतें वो चाहे बिना सोचे समझे पैसा खर्च करने की हों या पैसा बचाने की ओर ध्यान न देने की, धीरे- धीरे बढ़ती ही जाती हैं और आखिरकार बहुत नुकसान पहुंचाती हैं। ऐसे लोगों के पास वाकई जरूरत पड़ने पर कभी हाथ में पैसा नहीं रहता।


अगर आप चाहते हैं कि आपके भी एकाउंट में कुछ पैसा बचा रहे तो नया लॉन्च हुआ मोबाइल या दूसरी कोई भी चीज़ खरीदने से पहले एक बार जरूर सोचें कि क्या वाकई आपको इसकी बहुत जरूरत है, या फिर आप इसे सिर्फ अपने पड़ोसियों, दोस्तों और अपने आसपास के दूसरे लोगों को दिखाने और उनसे ज्यादा स्मार्ट बनने का दिखावा करने के लिए खरीद रहे हैं।


दरअसल ज्यादातर लोग अपनी आधी से ज्यादा खरीदारी अपनी जरूरत नहीं, बल्कि दिखावे के लिए करते हैं। ऐसे में इनके पास पैसा बहुत कम टिकता है और उनकी मेहनत की कमाई बिना कोई नोटिस दिये एकदम फुर्र हो जाती है। यहां हम कुछ ऐसे तरीकों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें करके अपने पैसे को बर्बाद होने से बचा सकते हैं।


1. जल्दबाजी में निर्णय करना 


आपको पता ही होगा कि पैसा जमा करने से ही बचता है। एकदम अचानक लिये जाने वाले निर्णय आपकी बड़ी मनी मिस्टेक है, जिससे आपको बचना चाहिए। जैसे किसी समय में आपको अचानक कुछ खाने का मन किया और आप चल दिये। या फिर आपका मन हुआ कि अपना फोन बदल दें और आपने नया फोन तुरंत खरीद लिया। इसी तरह से आपका अचानक मन हुआ कि कहीं घूमने जाएं और आप निकल लिये किसी डेस्टिनेशन पर। अगर चाहते हैं कि आपके हाथ में कुछ पैसा रहे तो आपको सब कुछ प्लानिंग के अनुसार करना चाहिए। इससे आप ठंडे दिमाग से अपने पैसे की प्लानिंग के बारे में सोच पाएंगे और आपका कुछ पैसा काफी पहले किये जाने वाली बुकिंग में भी बचेगा। कुछ भी खर्च करने से पहले आपको यह जरूर सोचना चाहिए कि क्या इसकी वाकई जरूरत है या फिर आपने ऐसा कितने समय पहले किया था। अगर आपका जवाब जरूरत के मामले में तुरंत हां न आए तो समझ लीजिये कि यह फिजूल का खर्च है और अगर आपने कुछ ही दिनों पहले ऐसा ही खर्च किया है तब भी यह खर्च फिजूल है। इसे आसानी से अभी टाला जा सकता है। दोस्तों या फिर सहकर्मियों की देखादेखी कुछ भी ऐसा न करें, जिसकी आपको जरूरत ही नहीं है।


2. मंथली बजट के अनुसार खर्च न करना


Top Money saving tips


मंथली बजट न बनाना आपकी दूसरी मनी मिस्टेक है। पैसा बर्बाद करने से बचने का एक तरीका और है और वह यह है कि अपना महीने का एक बजट तय करें और उसके बाहर बिलकुल न जाएं। महीने के शुरू में बनाया गया बजट आपकी सभी जरूरतों को पूरा करेगा, लेकिन प्राथमिकता के अनुसार। अगर किसी महीने आपका एक बड़ा खर्च हो गया है तो दूसरा बड़ा खर्च आप अगले महीने ही करें। इसे इस तरह भी किया जा सकता है कि आप अपने जरूरी खर्च की एक लिस्ट बना लें।  जैसे जैसे जरूरी खर्च होते जाएं, उस पर टिक लगाते जाएं। अगर आप इन्हीं जरूरी खर्चों पर टिकी रहती हैं तो आपका कुछ पैसा जरूर बचा रहेगा। इसका मतलब है कि आप फालतू खर्च नहीं करेंगे। अगर आप यह बचा हुआ पैसा कहीं इनवेस्ट करते हैं तो यह पैसा धीरे- धीरे बढ़ने भी लगेगा। लेकिन यह ध्यान जरूर रखें कि बचा हुआ पैसा कहीं खर्च करने के बजाय बचाए रखेंगे तो यह अचानक इमरजेंसी वाली जरूरतों में काम आ सकता है। हां, इस बचाई गई रकम में से आप कुछ 10 फीसदी पैसा समय समय पर खर्च करके खुद को इसे बचाने का रिवॉर्ड दे सकती हैं। खर्च करने से मिलने वाली खुशी से बचें, क्योंकि यह बहुत कम समय की होती है। इसके बजाय जमा करने वाली खुशी ज्यादा समय तक चलती है। कोशिश करें कि जितना आप खर्च करते हैं, उतना ही बचा भी सकें।


3. बचत और निवेश के स्मार्ट तरीके फॉलो न करना


अगर आप अपने बचाए गए पैसे को स्मार्ट तरीकों से निवेश नहीं करते तो यह आपकी काफी बड़ी मनी मिस्टेक है। अपने बचाए गए पैसों में से 50 फीसदी पैसा कुछ ऐसी जगहों पर निवेश करें जहां से महंगाई के असर से हटकर अच्छे रिटर्न मिल सकें। अगर आपकी उम्र 30 साल से कम है तो आपको अपनी बचत का ज्यादा हिस्सा इक्विटी लिंक्ड प्रोडक्ट्स पर लगाना चाहिए। म्यूचुअल फंड्स के माध्यम से आप अपनी बचत को अनेक तरह के फंड में निवेश कर सकते हैं, जैसे बचत का 5% हिस्सा गोल्ड में निवेश करें। रियल एस्टेट में कभी भी 5 से 10 साल के लिए कभी निवेश न करें, क्योंकि इसमें काफी चढ़ाव और उतराव देखने को मिलते हैं।


4. हमेशा ही उधार पर जिंदगी बिताना 


Top Money saving tips FB


अगर आप अमीर बनना चाहते हैं तो उधार पर जिंदगी न जियें। उधार लेना भी बहुत बड़ी मनी मिस्टेक होती है। बड़े से बड़े उद्योगपति, जिनकी कंपनी बहुत घाटे में हो, निजी रूप से किसी उधार में नहीं होते, लेकिन आम आदमी ज्यादातर उधार में ही रहता है। अगर आप अपने क्रेडिट कार्ड पर भी ईएमआई पर कोई सामान ले रहे हैं तो यह भी एक तरह का उधार ही है। इसका मतलब यह है कि आप भविष्य में मिलने वाली सेलरी को आने से पहले ही खर्च कर रहे हैं। ऐसे पैसे को खर्च करना, जो अभी आपके पास नहीं है, को ही लोन कहा जाता है। भविष्य में आने वाले पैसे को पहले खर्च करने के लिए अक्सर आप भारी- भरकम इंटरेस्ट भी देते हैं। जितना पैसा आपने लिया, उसके लिए आपको बाद में उससे काफी ज्यादा पैसा देना पड़ता है। ऐसे में पैसा जमा होने की बात तो छोड़ ही दीजिये, बुरा समय आने पर आपको लेने के देने पड़ सकते हैं। आने वाले वक्त का क्या भरोसा, आपकी नौकरी रहे या न रहे। या फिर आपको किसी बीमारी या दूसरी किसी इमरजेंसी के लिए बड़ी रकम की जरूरत पड़ जाएगी तो आप क्या करेंगे? फिर से लोन लेंगे। एक दिन यह सारे लोग बढ़ते- बढ़ते आपको बूढ़ा बना देंगे। इसलिए लोन लेने की बात सपने में भी न सोचें, तभी आप पैसा जमा कर सकते हैं या फिर अमीर बन सकते हैं।


5. अपने सभी बिल समय पर जमा न करना 


अगर आप भी उन लोगों में से हैं जो समय पर अपने क्रेडिट कार्ड या दूसरे बिल जमा नहीं करते और बाद में इन बिलों के साथ भारी पैनल्टी चुकाते रहते हैं तो आप जान लें कि यह आपकी सबसे बड़ी मनी मिस्टेक है और आप कभी पैसा जमा नहीं कर सकेंगे। इसकी वजह यह है कि आप अपने आलस की वजह से काफी पैसा इस पैनल्टी में ही बर्बाद कर देते हैं। आपने इसे शायद गंभीरता से नहीं सोचा होगा कि साल में आप कितना पैसा पैनल्टी पर बर्बाद कर दिया होगा। अगर पैनल्टी का यही पैसा आपने समय से बिल जमा करके बचा लिया होता तो आपके पास बचत के रूप में कितना पैसा होता। और हर महीने सिप के माध्यम से अगर आप करीब 1000 रुपये भी जमा करें तो साल के अंत में और फिर करीब दस साल में आप कितना पैसा बचा सकते हैं, सोच कर देखें। इसलिए समय पर अपने बिल न जमा करना आपकी बहुत बड़ी मनी मिस्टेक है, जिसे हम अपने आलस के चलते करते रहते हैं।


इन्हें भी देखें -





Read More from Lifestyle

Load More Lifestyle Stories