हर नई मां को जाननी चाहिए यह 4 कंफर्टेबल ब्रेस्टफीडिंग पोजीशन

हर नई मां को जाननी चाहिए यह 4 कंफर्टेबल ब्रेस्टफीडिंग पोजीशन

आप नई मां बनने जा रही हैं तो मां बनने से पहले आपको अपने बच्चे की हेल्थ से जुड़ी ब्रेस्टफीडिंग के बारे में जरूरी बातें जान लेनी चाहिए। इनमें सबसे जरूरी है ब्रेस्टफीडिंग पोजीशन के बारे में जानना, क्योंकि पैदा होने के तुरंत बाद बच्चे को ब्रेस्टफीड कराना बेहद जरूरी होता है। उस समय का ब्रेस्ट मिल्क बच्चे की इम्युनिटी के लिए सबसे ज्यादा ताकतवर और शक्तिवर्धक होता है। ब्रेस्टफीडिंग यानि स्तनपान के लिए कई अच्छी पोजीशन होती हैं। यह आपको देखना है कि आपके  और आपके बेबी के लिए कौन सी पोजीशन सबसे अच्छी रहती है। जानें, कौन- कौन सी हैं आपके लिए कंफर्टेबल पोजीशन -


1. क्रैडिल होल्ड


breastfeedholdcradle


इसके लिए पैरों के नीचे तकिया लगाकर एक कुर्सी पर या बिस्तर पर बैठने की जरूरत होती है, जिससे आपको बच्चे की ओर झुकना न पड़े। अपनी बांह को मोड़कर बच्चे को सिर को पकड़ें और उसे गोद में लें, जिससे बच्चे का आगे का शरीर आपकी तरफ हो। यदि आप अपने दाएं स्तन से बच्चे को दूध पिलाने जा रही हैं तो उसके सिर को अपने हाथ पर रखें। आपको अपनी बांह को मोड़कर बच्चे के पीछे रखकर उसकी रीढ़, गर्दन और नीचे से सपोर्ट देना चाहिए। अब बच्चे को अपनी तरफ झुकाकर कसकर पकड़ें। 1 महीने से ज्यादा के बच्चे के लिए यह आदर्श पोजीशन है।


2. क्रॉस- क्रैडिल होल्ड


breastfeedholdcrosscradle


यह छोटे बच्चों के लिए आदर्श पोजीशन है, जिसमें मां के निप्पल को मुंह में डालना मुश्किल होता है। यह क्रैडल होल्ड से अलग होता है। इसमें आपकी मुड़ी हुई बांह की तुलना में आपकी बांह बच्चे के सिर को सपोर्ट देती है। यदि आप अपने दायें स्तन का इस्तेमाल करते हुए बच्चे को दूध पिलाने जा रही हैं तो बच्चे को पकड़ने में अपनी बायीं बांह और हाथ का इस्तेमाल करें। नवजात के शरीर को मोड़ें, जिससे पेट और सीना आपकी तरफ रहे। अब अपनी अंगुलियों और अंगूठे को सिर के पीछे इस्तेमाल करें, मुंह को दायें निप्पल की ओर ले जाएं।


3. साइड लाइंग पोजीशन


Side-Lying-Position


साइड लाइंग पोजीशन यानि एक साइड में लेटकर दूध पिलाना। यदि आप अपने दायें स्तन का इस्तेमाल करते हुए दूध पिलाने जा रही हैं तो अपने पिछले हिस्से के सहारे दायीं तरफ से लेटें। बच्चे को अपने सामने लिटाएं, उसका सीना और चेहरा आपकी तरफ होना चाहिए। इसमें अपनी बायीं बांह से बच्चे के शरीर को सपोर्ट करना चाहिए और बायें हाथ से बच्चे के सिर को सपोर्ट देना चाहिए। अब बच्चे के मुंह को अपने स्तन को ले जाएं। कई माएं जब बच्चा आधी रात में उठता है, तब इसी तरह से फीडिंग कराती हैं।


4. फुटबाल होल्ड


Football position


अपने बच्चे को बाहों में कुछ इस तरह से पकड़ें जैसे आपने फुटबाल पकड़ रखी हो। आपके बच्चे की पोजीशन आपके हाथ में एक तरफ होगी, जैसे बच्चे की नाक आपके निप्पल के लेवल में हो और बच्चे के पैर आपके पीछे की तरफ होंगे। आप अपने पीछे एक तकिया रख सकती हैं और उस पर अपने हाथ रख सकती हैं। आप अपने हाथ से बच्चे की रीढ़, गर्दन, सिर और निचले हिस्से को सपोर्ट दे सकती हैं। महिलाएं पेट पर तनाव कम करने के लिए इस पोजीशन का इस्तेमाल करती हैं।


फोटो: Pexels


(फिलिप्स इंडिया की लेक्टेशन कंसल्टेंट डॉ. मीमांसा मल्होत्रा से बातचीत के आधार पर)


इन्हें भी देखें -