जी हां, गन्ने का रस पीकर भी कर सकते हैं आप अपना वजन कम

जी हां, गन्ने का रस पीकर भी कर सकते हैं आप अपना वजन कम

गर्मी के मौसम में गन्ने का ताजा ठंडा रस पीने का मजा ही अलग है। इसे पीने से आपको भरपूर ऊर्जा मिलती है। ये आपको डिहाइड्रेशन से बचाता है और साथ ही कई बीमारियों से भी दूर रखता है। लेकिन क्या आपको पता है कि गन्ने का रस वजन कम करने में भी मदद करता है। जी हां, ये सच है। एक्सपर्ट बताते हैं कि गर्मियों में पसीने की वजह से इलेक्ट्रोलाइट की मात्रा कम हो जाती है जिसकी वजह से शरीर डिहाइड्रेट हो जाता है यानि शरीर में पानी की कमी हो जाती है। अगर इसका सही समय और सही मात्रा में सेवन किया जाए तो वजन कम किया जा सकता है। 100 ग्राम गन्ने के रस में सिर्फ 270 कैलोरी होती है। गन्ने के जूस का सेवन करने से ना सिर्फ तुरंत एनर्जी मिलती है बल्कि प्यास भी बुझ जाती है।


इस तरह वजन कम करने में मदद करता है गन्ने का जूस


weight-loss


एक्सपर्ट बताते हैं कि अगर आप सही समय और सही मात्रा में गन्ने का रस पियेंगे तो आपको निश्चित रूप से वजन कम करने में मदद मिल सकती है। गन्ने का रस फैट फ्री होता है। यह नेचुरल रूप से मीठा होता है तो चीनी मिलाने की जरूरत नहीं होती है। जब आप गन्ने का रस पीते हैं तो इससे आपको 52 प्रतिशत तक डाइटरी फाइबर मिल जाता है। डाइटरी फाइबर वजन कम करने में मदद करता है। साथ ही इससे आपका पेट भी भरा- भरा रहता है, जिसकी वजह से आपको लंबे समय तक भूख नहीं लगती। गन्ने का रस पीने से आराम करते समय भी कैलोरी बर्न होती हैं। दरअसल, गन्ने के रस में डिटॉक्सीफाइिंग गुण होते हैं जो शरीर से विषाक्त पदार्थ बाहर निकालने में मदद करते हैं। इससे मेटाबॉलिज्म बूस्ट होता है और परिणामस्वरूप फैट को बर्न होने में मदद मिलती है।


क्या आप जानते हैं ?


गन्ने में प्रचुर मात्रा में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, कैल्शियम, फास्फोरस, लोहा, जस्ता और पोटेशियम और विटामिन ए, बी-कॉम्प्लेक्स और सी भी पाया जाता है। गन्ने में फैट नहीं होता है, वास्तव में यह एक 100% नेचुरल ड्रिंक है। इसमें लगभग 30 ग्राम नेचुरल शुगर होती है। एक गिलास गन्ने के रस में कुल 13 ग्राम डाइटरी फाइबर होता है।


गन्ने का रस पीते समय बरतें ये सावधानियां


1


- गन्ने का रस ताजा ही पीयें तो ही सही रहता है। अगर आपको कोई फ्रिज में रखा हुआ गन्ने का रस दे तो उसे भूलकर भी न पिएं। ये नुकसान कर सकता है।


- रखे हुए या बासी गन्ने के रस में कीड़े लग जाते हैं या मक्खियां भी पनप सकती हैं। इसलिए इस तरह का रस सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है।


- एक्सपर्ट बताते हैं कि एक दिन में दो गिलास से ज्यादा गन्ने का रस न पीयें। क्योंकि एक स्वस्थ आदमी को महज दो गिलास गन्ने के रस की ही जरूरत होती है। इससे ज्यादा उसे नुकसान कर सकता है।


- अगर आपको शुगर या ब्ल़ड शुगर है तो गन्ने का रस न ही पियें। इससे ब्लड इंफेक्शन होने पर प्रॉब्लम बढ़ सकती है।


- कभी भी सड़े हुए गन्ने से निकाला हुआ रस न पिएं। इससे आपको पेट की बीमारियां हो सकती हैं। इसलिए जूस निकलते वक्त गन्ना सही है या नहीं, इसकी जांच जरूर कर लें।


ये भी देखें -