तो इस वजह से महिलाओं को पुरुषों से ज्यादा नींद की है जरूरत

तो इस वजह से महिलाओं को पुरुषों से ज्यादा नींद की है जरूरत

आपने कभी गौर किया है कि जब आप सही ढ़ंग से नहीं सोते या पूरे 8 घंटे की नींद नहीं पूरी कर पाते हैं तो दिनभर चिड़चिड़ापन और सर भारी-भारी सा रहता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हमारे दिमाग को जितना आराम मिलना चाहिए, उतना नहीं मिल पाता। खासतौर पर महिलाओं को तो हमेशा से नींद से समझौता करना पड़ता है। सुबह सबसे पहले उठना और रात में सबसे देर से सोना और अगर कहीं वर्किंग हैं तो नींद का समय और भी कम हो जाता है। जबकि ये सही नहीं है। जितना काम उतना आराम तो होना ही चाहिए। एक रिसर्च में ये दावा किया गया है कि महिलाओं को पुरुषों से ज्यादा नींद लेनी चाहिए।


क्या कहती है रिसर्च


पुरुषों की तुलना मेंं महिलाओं का दिमाग ज्यादा जटिल होता है और इसी कारण उन्हें 20 मिनट ज्यादा नींद की जरूरत होती है। आपको बता दें कि ये रिसर्च लगभग 210 पुरुषों और महिलाओं पर किए एक टेस्ट का परिणाम है।


ezgif.com-resize %281%29


ये कारण हैं जिम्मेदार


- महिलाओं का दिमाग पुरुषों की तुलना में ज्यादा कसरत करता है।


- बच्चों की देखभाल, घर के जरूरी काम, पार्टनर के खर्राटों की वजह से अक्सर महिलाओं की नींद किश्तों में पूरी होती हैं।


- पुरुषों की तुलना मेंं महिलाएं पांच गुना ज्यादा तेजी से सूचना का अादान-प्रदान करती हैं।


- मल्टीटॉस्किंग होने की वजह से महिलाओं का दिमाग ज्यादा थक जाता है।


ezgif.com-resize


जानिए किस उम्र में लेनी चाहिए कितने घंटों की नींद


18 से 25 साल के उम्र की लड़कियों को लगभग 7 से 9 घंटों की नींद लेनी चाहिए।


26 से 45 साल के उम्र की महिलाओं को लगभग 8 घंटे की नींद तो लेनी ही चाहिए। क्योंकि इस उम्र में नींद जल्दी खुल जाती है। ध्यान रखें कि कम नींद लेने की वजह से आपके वजन पर इसका बुरा असर पड़ता है।


45 से 60 साल के उम्र की महिलाओं को लगभग 7 घंटों की नींद की जरूरत होती है।


60 से अधिक उम्र की महिलाओं के लिए 7 से 8 घंटों की नींद पर्याप्त मानी जाती है।


अच्छी और गहरी नींद लेने के टिप्स


- सोने से ठीक पहले कभी न नहाएं। हमारा शरीर जब एक सामान्य तापमान में रहता है तो नींद ज्यादा अच्छी आती है।


- सोने से पहले चाय, कॉफी या किसी तरह के एनर्जी ड्रिंक का सेवन न करें। हां, गर्म दूध ले सकते हैं। इससे नींद अच्छी आती है।


- मोबाइल फोन या टीवी देख कर ही सोने की आदत है तो इसे बदल दीजिए। ये नींद उड़ा देती है


- जब आप बेड पर सोने जा रहे हैं तो दिनभर की बातों के बारे में मत सोचिए। इससे नींद टूट-टूट कर आती है। हमेशा एक अच्छी और पॉजिटिव बात सोचकर सोएं।


तो जब भी समय मिले, एक अच्छी नींद जरूर लें क्योंकि एक स्ट्रॉन्ग वुमन बनने के पीछे स्ट्रॉन्ग ब्रेन का बहुत बड़ा हाथ होता है। इसीलिए अपने दिमाग को पर्याप्त आराम दें।


इन्हें भी पढ़ें -