क्या आपको पता है कि कितना कुछ करते हैं आपके प्यारे- प्यारे बूब्स!

क्या आपको पता है कि कितना कुछ करते हैं आपके प्यारे- प्यारे बूब्स!

अगर आपको लगता है कि आप ही मल्टी-टास्किंग में माहिर हैं, तो ठहरिए... हम आपको बताते हैं कि आपके बूब्स आपसे भी ज्यादा मल्टीटास्किंग हैं और वो कितनी तरह की दिलचस्प चीज़ें कर सकते हैं। जी हां, ये सही है! दरअसल सेक्स के दौरान आपका शरीर कई तरह के बदलावों से गुज़रता है लेकिन इस दौरान आपके बूब्स के साथ कौन से 10 बदलाव होते हैं, पढ़िए...


1. बढ़ जाता है आकार -


सेक्स के दौरान आपके शरीर में कई तरह के बदलाव होते हैं। सच यह भी है कि आपकी योनि यानि आपकी वैजाइना का आकार सामान्य की तुलना में सेक्स के दौरान दो-तिहाई तक बढ़ जाता है। लेकिन क्या आपको पता है कि आपके बूब्स भी इस दौरान 20 से 25 प्रतिशत तक बड़े हो जाते हैं। जी हां, उन पर भी ऑर्गेज़्म का तगड़ा असर होता है.. है न मज़ेदार बात!



2. बड़ा हो जाता है एरियोला


एरियोला आपके निप्पल के किनारे वाली छोटी सी गोलाकार रेखा को कहते हैं। आपको सेक्स के दौरान सिर्फ बूब्स ही नहीं, बल्कि एरियोला के आकार में भी बढ़ोतरी देखने को मिलेगी। एरियोला के आकार में होने वाले इस बदलाव के चलते ही आपके निप्पल हल्के से सख्त भी होने लगते हैं। 


3. वे काफी कसावदार हो जाते हैं


सिर्फ बढ़ना ही एक दिलचस्प चीज़ नहीं है, जो सेक्स के दौरान आपके बूब्स में होती है। दरअसल सेक्स के दौरान आपके बूब्स अपने पूरे आकार में आ जाते हैं और पहले से कहीं ज्यादा कसावदार और खूबसूरत आकार में आ जाते हैं।



4. पहले से ज्यादा संवेदनशील


सेक्स के दौरान आपके बूब्स पहले से ज्यादा संवेदनशील भी हो जाते हैं। इस दौरान बूब्स पर किया गया हर स्पर्श एक अलग ही अनुभूति लेकर आता है। उस दौरान आपके रोम यानि रोंए खड़े होना दर्शाता है कि आपके बूब्स पूरी तरह 'जाग' चुके हैं। 


5. निप्पल में भी होता है इरेक्शन 


यह भी सच है कि निप्पल इरेक्शन का कई बार सेक्स से कोई लेना-देना नहीं होता। फिर भी सेक्स के दौरान आपके निप्पल में कई बार इरेक्शन ज़रूर होता है। जैसा कि हमने पहले बताया, यह इसलिए होता है, क्योंकि सेक्स से आपका एरियोला फैलता है और निप्पल को ऊपर की ओर उठाने में मदद करता है।



6. दिमाग को भेजते हैं सिग्नल


सेक्स के दौरान स्तन पर स्पर्श या दबाव पड़ते ही वे दिमाग को ऑक्सीटोसिन रिलीज करने का सिग्नल भेजना शुरू कर देते हैं। दरअसल, ऑक्सीटोसिन एक तरह का हार्मोन होता है, जिसे 'लव हार्मोन' भी कहा जाता है। यह हार्मोन आपके और आपके पार्टनर के बीच के निजी लम्हों को और असरदार बनाता है। 


7. छोड़ते हैं खुशबूदार पसीना


जी हां, आपने बिल्कुल ठीक पढ़ा। सेक्स के दौरान आपके बूब्स खुशबूदार पसीना छोड़ते हैं, जो आपके पार्टनर को मदहोश करने के लिए काफी होता है। आपको ये पसीना भले ही महसूस न हो, लेकिन सेक्स के दौरान यह आपके पार्टनर को आपके और करीब लाने में मददगार साबित होता है।



8. बदलते हैं रंग


अगर आप सेक्स के दौरान अपने बूब्स के आस-पास गुलाबी धारियां या चकत्ते देखें, तो बिल्कुल भी घबराएं नहीं। यह आपके शरीर में मौज़ूद एस्ट्रोजन के मिश्रण के चलते होता है, संबंध बनाने के दौरान आपके बूब्स बेहद सक्रिय हो जाते हैं और ऐसे में आपके पार्टनर का हल्का सा स्पर्श भी जादू की तरह होता है। कई बार बूब्स के आस-पास नीली रेखाएं भी नज़र आने लगती हैं, जो कि कुछ और नहीं, बल्कि आपके शरीर के भीतर मौज़ूद नसें होती हैं।


9. आपका यौन आत्मविश्वास बढ़ाते हैं


इसमें कोई रॉकेट साइंस नहीं है। सेक्स के दौरान आपके बूब्स में होने वाले ये बदलाव आपमें आत्मविश्वास भरते हैं और आपको सुंदरता प्रदान करते हैं। तो आगे से जब भी आपके भीतर खुद को लेकर कोई हीन भावना आए, तो ऐसे पलों के बारे में सोचिए और सब कुछ छोड़कर खुद को इन लम्हों के हवाले कर दीजिए।



10. आपके और ऑर्गेज्म के बीच पुल


जी हां, आपके बूब्स आपके और ऑर्गेज़्म के बीच में एक पुल का काम करते हैं। रट्ज़र्स यूनिवर्सिटी के शोध में पता चला है कि आपके निप्पल और योनि के बीच में एक आंतरिक जुड़ाव होता है। यह जुड़ाव आपको चरम पर पहुंचाने में खासा मददगार होता है। कुछ महिलाओं को तो सामान्य निप्पल का स्पर्श ही चरम पर ले जाता है और वे ऑर्गेज़्म के उच्च स्तर को महसूस कर पाती हैं।   


 इन्हें भी देखें -