सजा से बच जाते सलमान, अगर उनके वकील समय पर पहुंच गए होते

सजा से बच जाते सलमान, अगर उनके वकील समय पर पहुंच गए होते

काले हिरण के शिकार के मामले में सलमान खान को पांच साल की सजा मिली है, जबकि उस दौरान उनके साथ रहे बॉलीवुड के दूसरे साथियों को पूरी तरह से बरी कर दिया गया है। सलमान खान की सजा से पूरे देश में फैले सलमान  के फैन बेहद दुखी हैं। ऐसे में माना यह जा रहा है कि सलमान के मुंबई के वकील श्रीकांत शिवादे अगर जयपुर पहुंच गए होते तो शायद सलमान को इतने साल की सजा से बचाया जा सकता था। गौरतलब है कि श्रीकांत शिवादे जयपुर के लिए मुंबई से निकल तो गए थे, लेकिन एक रैली में फंस जाने के वजह से वे जयपुर समय से पहुंचने में सफल नहीं हो सके। 


 


कौन हैं श्रीकांत शिवादे


Srikant Shivade


आपको बता दें कि सलमान को उनके पिछले हिट एंड रन मामले से छुड़ा लेने वाले खासे सीनियर वकील भी श्रीकांत शिवादे ही थे, जिन्होंने काफी मुश्किल मामला होने के बावजूद सलमान खान को अपनी जिरह की बदौलत जमानत पर रिहा करवा लिया था। सलमान खान के वकील श्रीकांत शिवादे देश के टॉप 10 सेलिब्रिटी लॉयर्स में से एक हैं, हालांकि उन्हें खुद को सेलिब्रिटी लॉयर कहलवाना पसंद नहीं है। उनका कहना है कि वे किसी को भी गलत तरह से झूठे फंसाये जाने के खिलाफ हैं।श्रीकांत शिवादे ने टाडा में फंसाए गए अनेक लोगों की पैरवी की है। उनका पहले सेलिब्रिटी केस भरत शाह केस था, जो एक डायमंड मर्चेंट और फिल्म फायनेंसर थे और उनपर अंडरवर्ल्ड किंग छोटा शकील के साथ संबंधों का आरोप था। उनके मुवक्किलों में इंद्राणी मुखर्जी और पीटर मुखर्जी भी शामिल हैं।


आखिर क्या है ये काला हिरण का मामला


जोधपुर की अदालत ने दो काले हिरणों का शिकार करने के 20 साल पुराने मामले में बॉलीवुड स्टार सलमान खान को पांच साल की सजा सुनाई है जबकि उनके साथ शिकार पर गए दूसरे बॉलीवुड कलाकारों को बरी कर दिया गया। कोर्ट ने सलमान खान पर दस हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है। जोधपुर कोर्ट द्वारा फैसला सुनाए जाने के समय सभी आरोपी अदालत में मौजूद थे।


इन्हें भी देखें -