रेप के विरोध में भूख हड़ताल पर बैठी हैं स्वाति मालीवाल |POPxo Hindi | POPxo
Home  >  Lifestyle  >  Awareness
दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने खत्म की रेप के विरोध में भूख हड़ताल

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने खत्म की रेप के विरोध में भूख हड़ताल

नाबालिग बच्चियों से बलात्कार के मामले में अपराधियों को मौत की सजा देने की मांग को लेकर पिछले नौ दिनों से भूख हड़ताल पर बैठी दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने सरकार द्वारा बच्चियों से रेप करने वाले अपराधी को फांसी देने की घोषणा के बाद अपनी भूख हड़ताल खत्म कर दी है।


इससे पहले उन्होंने कहा था कि वह तब तक अपनी भूख हड़ताल नहीं तोड़ेंगी जब तक प्रधानमंत्री उनकी मांगों को मान नहीं लेते। स्वाति मालीवाल की मांगों में बलात्कार के ऐसे मामलों में फास्ट ट्रैक अदालत बनाने और छह महीने के भीतर मामले निपटाना भी शामिल था। देश के विभिन्न हिस्सों में बलात्कार के मामलों से उपजे राष्ट्रव्यापी रोष के बीच स्वाति मालीवाल दिल्ली में समता स्थल पर भूख हड़ताल कर रही थीं। 


जिद्दी हैं प्रधानमंत्री


डीसीडब्ल्यू की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री देश के लोगों की ‘ मन की बात ’ समझने में असफल साबित हुए हैं। जहां देश प्रधानमंत्री से कार्रवाई चाहता है वहां वे भाषणों में बिजी हैं। प्रधानमंत्री जिद पर अड़े हैं तो मैं भी कम जिद्दी नहीं हूं। मैं तब तक अनशन खत्म नहीं करूंगी, जब तक वो मेरी मांग नहीं मानते।



प्रधानमंत्री के नाम लिखा खत


गौरतलब है कि स्वाति मालीवाल ने अपना अनशन शुरू करने से पहले दिन यानि 12 अप्रैल को प्रधानमंत्री के नाम एक खत में लिखा था कि मैं अनशन पर बैठ रही हूं और जब तक मेरी मांगें नहीं मानी जाएंगी, मैं अन्न नहीं लूंगी।



जनता के नाम संदेश


स्वाति मालीवाल ने बच्चियों के रेप को लेकर एक संदेश में छह महीनों के अंदर बलात्कारियों को सजा देने की इस मुहिम में शामिल होने की अपील की है।



फोटो सौजन्य - ज़ी मीडिया


इन्हें भी देखें - 


उन्नाव और कठुआ रेप केस पर फूटा बॉलीवुड का गुस्सा


हर किसी को सोचने पर मजबूर कर देगा आसिफा का यह खत


जैनाब अंसारी रेप केस में न्याय कर पाकिस्तान ने कायम की मिसाल, भारत में भीड़ ने दी सज़ा-ए-मौत


प्रकाशित - अप्रैल 23, 2018
3 लाइक्स
सेव करें
शेयर
और भी पढ़ें
Trending Products

आपकी फीड